समाज

मिर्जापुर: बेखौफ बदमाशों ने दिनदहाड़े घर में घुसकर महिला और उसके दो बच्चों पर बोला जानलेवा हमला

Janjwar Desk
4 Sep 2021 5:41 PM GMT
मिर्जापुर: बेखौफ बदमाशों ने दिनदहाड़े घर में घुसकर महिला और उसके दो बच्चों पर बोला जानलेवा हमला
x
घटना को लेकर जहां तरह-तरह की चर्चा है। दिनदहाड़े इस प्रकार की वारदात को किसने अंजाम दिया यह रहस्य का विषय बना हुआ है। जानकारी होते ही मौके पर कटरा, शहर कोतवाल सहित क्षेत्राधिकारी नगर सहित आला अधिकारी भी पहुंच गए हैं....

संतोष देव गिरी की रिपोर्ट

जनज्वार ब्यूरो। उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर के कटरा कोतवाली क्षेत्र के तहत आने वाले पेटही चौराहा के नजदीक बेखौफ बदमाशों ने एक घर में घुसकर महिला और उसके दो बच्चों पर धारदार हथियार से हमला कर दिया है। दिनदहाड़े कानून व्यवस्था को चुनौती देते हुए बदमाशों ने महिला और उसके बच्चों को मरणासन्न कर दिया।

घटना के बाद से पूरे शहर में सनसनी फैल गई। वहीं आनन-फानन में स्थानीय लोगों द्वारा घायल बच्चों और महिला को जिला अस्पताल में ले जाया गया। जहां से उन्हें वाराणसी के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। जहां उनकी हालत नाजुक बनी हुई है।

जानकारी के अनुसार कटरा कोतवाली क्षेत्र के पेहटी चौराहा के समीप अंजनी केसरी का 5 मंजिला मकान है, नीचे उनकी दुकान है। भवन के कुछ हिस्सों को उन्होंने किराए पर दे रखा है। शनिवार की देर शाम तकरीबन 7 बजे घर में घुसे अज्ञात हमलावरों ने उनकी पत्नी रितु केसरी (45 वर्ष) को धारदार हथियार आदि से सर एवं चेहरे पर बुरी तरह से हमला बोलकर मरणासन्न कर दिया। जबकि उनके दो बच्चों को क्रमश: शौर्य (5 वर्ष), विराट (7 वर्ष) को बुरी तरह से मरणासन्न कर पांचवें तल पर फेंक दिया था। इस दौरान कमरे में पहुंचे उनके देवर ने जब रितु केसरी को मराणासन्न स्तिति में देखा तो उसने शोर मचा शुरू किया।

शोर सुनकर मौके पर पहुंचे लोग आनन-फानन में उन्हें जिला अस्पताल ले गए, जबकि बच्चों की तलाश की गई तो वह नहीं मिले। बाद में दोनों बच्चे मरणासन्न स्थिति में पांचवे तल पर मिले। जिन्हें आनन-फानन में जिला अस्पताल लाया गया तीनों की स्थिति नाजुक बनी हुई है। जिन्हें ट्रामा सेंटर के लिए रेफर किया गया है।


घटना को लेकर जहां तरह-तरह की चर्चा है। दिनदहाड़े इस प्रकार की वारदात को किसने अंजाम दिया यह रहस्य का विषय बना हुआ है। जानकारी होते ही मौके पर कटरा, शहर कोतवाल सहित क्षेत्राधिकारी नगर सहित आला अधिकारी भी पहुंच गए हैं।

पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह ने मंडली अस्पताल सहित घटनास्थल का गहनता से निरीक्षण किया है। इस घटना के बाद से इलाके में लोग डरे हुए हैं। हमलावर शहर की संकरी गलियों से होते हुए दिनदहाड़े कैसे घर के अंदर तक घुस गए, यह सवाल बना हुआ है।

घटना से पूरी तरह से सहमे परिजन कुछ भी कह पाने की स्थिति में नहीं है। घटना के बाद से परिजन और आसपास के सभी लोग खौफ में हैं।

Next Story

विविध

Share it