Top
समाज

UP : बुलंदशहर में LLB छात्रा ने बलात्कार आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न होने पर कर ली आत्महत्या

Janjwar Desk
17 Nov 2020 6:10 AM GMT
UP : बुलंदशहर में LLB छात्रा ने बलात्कार आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न होने पर कर ली आत्महत्या
x
आरोपी ने युवती से अपने साथियों के साथ मिलकर सामूहिक बलात्कार किया और उसका वीडियो भी बना लिया था, इसकी शिकायत गैंगरेप पीड़िता ने पुलिस से की, मगर नहीं की जा रही थी आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई...

जनज्वार। यूपी के बुलंदशहर में बलात्कार आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से क्षुब्ध दुष्कर्म पीड़िता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मौके से बरामद सुसाइड नोट में पीड़िता ने अपने साथ हुई घटना का जिक्र किया है। नोट में लिखा है कि पुलिस ने केस दर्ज करने के बाद भी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया, जिससे आहत होकर उसने आत्महत्या कर ली।

गौरतलब है कि बुलंदशहर के अनूपशहर निवासी बीए एलएलबी की 19 वर्षीय छात्रा का 3 अक्टूबर को बैंक जाते समय अपहरण हो गया था। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने गांव के ही रहने वाले कमरुद्दीन पर दुष्कर्म की कोशिश का मुकदमा दर्ज किया था। केस दर्ज होने के बाद युवक ने माफी मांगी थी, जिस पर युवती ने उसे माफ कर दिया था। बाद में पुलिस ने मामले में फाइनल रिपोर्ट लगा दी थी।

16 अक्टूबर की सुबह आरोपी कमरुद्दीन युवती को बहाने से अपने साथ ले गया था। वहां आरोपी ने युवती से अपने साथियों के साथ मिलकर सामूहिक बलात्कार किया और उसका वीडियो भी बना लिया था।

इस घटना के बाद युवती ने 24 अक्टूबर को कमरुद्दीन, प्रधानपुत्र अबरार और छर्रा निवासी मुबीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने के बाद भी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया था।

मरने से पहले लिखा गया पीड़िता का सुसाइड नोट

परिजनों ने आरोप लगाया है कि बलात्कार के सभी आरोपी खुलेआम घूम रहे थे। उल्टा पीड़िता के परिजनों पर दबाव बनाया जा रहा था। पुलिस ने वक्त रहते कोई एक्शन नहीं लिया, उल्टा आरोपियों को संरक्षण ही दिया। इस बात से पीड़िता बहुत परेशान और आहत थी। सोमवार 16 नवंबर को उसने कमरे में अपने दुपट्टे से फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया।

एसएसपी बुलंदशहर संतोष कुमार सिंह ने मामले में विवेचक रहे दरोगा विजय राठी को निलंबित कर दिया है। साथ ही एसएसपी ने एसपी क्राइम को सीओ अतुल चौबे और इंस्पेक्टर सुभाष सिंह की भूमिका की जांच कर रिपोर्ट 24 घण्टे के भीतर देने को कहा है।

परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। जल्द ही सभी की गिरफ्तारी कर आगे की विधिक कार्रवाई करने की बात कही गई है।

Next Story

विविध

Share it