समाज

Rudrapur Crime News : पकड़े गए रुद्रपुर के गुनाहगार, पेशेवर अपराधी निकले आरोपी - रामपुर के गिरोह ने दिया था अंजाम, तीन फरार

Janjwar Desk
14 Jan 2022 10:14 AM GMT
Rudrapur Crime News : पकड़े गए रुद्रपुर के गुनाहगार, पेशेवर अपराधी निकले आरोपी - रामपुर के गिरोह ने दिया था अंजाम, तीन फरार
x

पकड़े गए रुद्रपुर के गुनाहगार

Rudrapur Crime News : एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर ने शुक्रवार दोपहर इस काण्ड का खुलासा करते हुए बताया कि सीसीटीवी फूटेज की सहायता एक होण्डा सिटी सफेद रंग की कार को ट्रेस किया गया था....

सलीम मलिक की रिपोर्ट

Rudrapur Crime News : जिले के बहुचर्चित पशु हत्याकाण्ड को रामपुर जिले के आधा दर्जन पेशेवर गौ हत्या आरोपियों ने अंजाम दिया था। मामले में पुलिस ने गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि गिरोह के सरगना सहित तीन अभी फरार हैं। मुख्य सरगना दो दिन पहले ही अपने जिले में एक पुराने मामले में कोर्ट सरेंडर के बाद जेल जा चुका है।

उत्तराखण्ड के उधमसिंहनगर जिले के रुद्रपुर शहर (Rudrapur City) में पांच दिन पहले 9 जनवरी की रात शहर के श्याम चौकी टाॅकीज रोड पर गगन ज्योति बारात घर के सामने खाली प्लाट में कुछ लोगों ने दो बेजुबान पशुओं की नृशंस हत्या कर उनके शव को वहीं छोड़ दिये थे।

इस घटना को लेकर हिंदू संगठनों (Hindutva Organisation) ने विरोध जताया था, साथ ही पुलिस को जल्द घटना का खुलासा करने के लिए चोबीस घंटे का अल्टीमेटम भी दिया था। सीसीटीवी फुटेज की मदद से पुलिस अभियुक्तों तक पहुंच गई। फुटेज में दिख रही उनकी कार पुलिस ने पहले ही बरामद कर लिया था।

एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर ने शुक्रवार दोपहर इस काण्ड का खुलासा करते हुए बताया कि सीसीटीवी फूटेज की सहायता एक होण्डा सिटी सफेद रंग की कार को ट्रेस किया गया था।

फुटेज में सारा घटनाक्रम देखने के बाद कार का रजिस्ट्रेशन नम्बर यूपी 25 एक्स 0240 तस्दीक कर उसके मालिक तक पहुंचा गया। जानकारी में पता चला कि आरोपियों में से मूल रूप से रामपुर जिले के रहने वाले कुछ लोग गदरपुर क्षेत्र में किराये के मकान में रह रहे थे। कल गुरुवार को एसओजी प्रभारी कमलेश भट्ट के नेतृत्व में पुलिस टीएम ने एक आरोपी अयूब उर्फ हक्ला पुत्र मोहम्मद अहमद निवासी मोहल्ला अगलका थाना स्वार जिला रामपुर हाल निवासी जाफरपुर मजार वाली मस्जिद के पास, गदरपुर को गिरफ्तार कर लिया था।

पूछताछ में अयूब उर्फ हक्ला ने बताया कि घटना के दिन दोनों गौवशीय जानवरों को काटने के बाद अचानक पुलिस की गाडी देखकर वह लोग मांस के अवशेष मौके पर छोड़कर भाग गए थे। उसने गोमांस को शौलत अली व अफसर अली के साथ मिलकर बेचने की बात भी स्वीकार की। जिस आधार पर मुकदमे में अफसर अली व शौलत अली के नाम बढ़ा दिए गए हैं।

अय्यूब से मिले इनपुट के आधार पर अफसर अली पुत्र अली हुसैन निवासी खिदरपुर थाना अजीमनगर जिला रामपुर और शौलत अली पुत्र नक्शे अली निवासी खेमपुर थाना अजीमनगर जिला रामपुर को होण्डा सिटी कार के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि दानिश पुत्र अफसर अली निवासी ग्राम खिदरपुर थाना अजीमनगर जिला रामपुर, उस्मान पुत्र नक्शे अली निवासी खेमपुर थाना अजीमनगर जिला रामपुर और नईम पुत्र मोहम्मद अहमद निवासी मोहल्ला अगलका थाना स्वार जिला रामपुर अभी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं।

इनका मुख्य सरगना दानिश है, जिस पर 19 मुकदमे चल रहे हैं। दानिश दो दिन पहले ही पुलिस की पकड़ से बचने के लिए किसी पुराने मामले में कोर्ट सरेंडर के बाद जेल चला गया है।

एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार और फरार लोगों के खिलाफ कई मुकदमें चल रहे है। फरार उस्मान और दानिश थाना अजीम नगर के हिस्ट्रीशीटर अपराधी है।

गिरोह का सरगना दानिश है। उसके खिलाफ थाना गदरपुर में 2, थाना काशीपुर में 1, थाना स्वार जिला रामपुर में 2, थाना अजीमनगर मे 8, थाना टाण्डा में 4, थाना सिविल लाइन रामपुर में 2 मुकदमे दर्ज हैं।

अयूब उर्फ हक्ला के खिलाफ थाना स्वार में 3, थाना विलासपुर में 1 और थाना अजीमनगर 1 मामला पंजीकृत है। नईम के खिलाफ थाना स्वार में 3, थाना बाजपुर में 1 केस दर्ज है। जबकि उस्मान पर थाना स्वार में 3, थाना आईटीआई में 1, थाना अजीमनगर में 5, थाना टाण्डा रामपुर में 1 मामला दर्ज है।

शौलत अली के खिलाफ थाना अजीमनगर में 2, थाना गंज रामपुर में 1, थाना स्वार में 1 मामला पंजीकृत है। अफसर अली पर थाना अजीमनगर में 2 मामले दर्ज है।

Next Story
Share it