समाज

लड़की को जिंदा जलाकर मारने के आरोपी युवक की भी मिली जली हुई लाश, जानिये क्या था पूरा माजरा

Janjwar Desk
19 Sep 2022 9:26 AM GMT
लड़की को जिंदा जलाकर मारने के आरोपी युवक की भी मिली जली हुई लाश, जानिये क्या था पूरा माजरा
x

लड़की को जिंदा जलाकर मारने के आरोपी युवक की भी मिली जली हुई लाश, जानिये क्या था पूरा माजरा

Kanpur Crime news : मृतक अमित की शिनाख्त उस लड़के के रूप में हुई है, जिस पर अपनी सहकर्मी लड़की को जलाकर हत्या करने का आरोप लगा था, पूरे मामले में हैरान करने वाला तथ्य यह है कि युवक भी उसी तरह मारा गया, जिस तरह उस पर लड़की को जलाकर मारने का आरोप था...

Kanpur Crime news : यूपी के कानपुर में जेल से जमानत पाकर बाहर निकले हत्यारोपी युवक का शव सचेंडी इलाके की झाड़ियों में जला हई हालत में बरामद किया गया है। घटना से इलाके में हड़कंप का माहौल है। मृतक की शिनाख्त उस लड़के के रूप में हुई है, जिस पर एक लड़की को जलाकर हत्या करने का आरोप लगा था। पूरे मामले में हैरान करने वाला तथ्य यह है कि युवक भी उसी तरह मारा गया, जिस तरह उसने लड़की को जलाकर मारा था।

जमानत पर बाहर निकले मृतक अमित के पिता ने लड़की के मां-बाप और और भाई पर उसे जिंदा जलाकर मारने का आरोप लगाया है। मृतक के पिता से मिली तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। वहीं, लड़की के घरवालों का कहना है कि उनका इस हत्या से कोई लेना-देना नहीं है। बता दें कि 25 अक्टूबर 2021 को अमित और उसकी प्रेमिका पर लड़की को जलाकर मारने का आरोप लगा था।

जानकारी के अनुसार शनिवार 17 सितंबर को अमित अपने घर से नौबस्ता में किसी व्यक्ति का आरओ ठीक करने आया था। देर रात जब अमित घर नहीं लौटा तो परिजनों ने थाना नौबस्ता में उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई, लेकिन रविवार 18 सितंबर को सचेंडी इलाके के एक खाली प्लॉट में अमित की जली हुई डेड बॉडी बरामद हुई। अमित की लाश के उपर उसका बैग भी रखा था, जिसमें रखे कागजों के आधार पर पुलिस ने परिजनों को सूचना दी।

अमित के घरवाले मौके पर पहुँचे तो उसकी जली हुई लाश देखकर हैरान रह गये। गौरतलब है कि मृतक अभी एक महीने पहले ही हाईकोर्ट से जमानत पाकर बाहर निकला था। वह कानपुर जेल में ज्योति हत्याकांड की सजा काट रहा था। उस पर 25 अक्टूबर 2021 को अपनी पूर्व सहकर्मी ज्योति मिश्रा की हत्या का आरोप था। ज्योति की लाश जली हुई हालत में चकेरी इलाके में पाई गई थी।

अमित के खिलाफ ज्योति मिश्रा के पिता ने जिंदा जलाकर मारने की एफआईआर दर्ज कराई थी, जिसके बाद चकेरी पुलिस ने अमित और उसकी प्रेमिका को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

ज्योति हत्याकांड में खुलासा हुआ था कि मृतका ज्योति ने आखिरी कॉल अमित को ही की थी और उसके घरवालों का ये भी आरोप था कि अमित उनकी बेटी पर गलत निगाह रखता था, जिसके चलते उसने ज्योति को जलाकर मार दिया। उसी के बाद अमित जेल की सलाखों के पीछे सजा काट रहा था।

अमित हत्याकांड पर एडीसीपी अंकिता शर्मा का कहना है कि अमित के परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है। मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपी हमारी गिरफ्त में होंगे।

Next Story