समाज

'बारात घोड़ी पर चढ़कर लाए तो टीका नहीं गोली मिलेगी', शादी से पहले दलित को सवर्णों की धमकी

Janjwar Desk
2 Jun 2021 3:27 PM GMT
बारात घोड़ी पर चढ़कर लाए तो टीका नहीं गोली मिलेगी, शादी से पहले दलित को सवर्णों की धमकी
x

(शादी से पहले दलित को सवर्णों की धमकी, भीम आर्मी ने दिया पीड़ित को सहयोग का आश्वासन)

अलखराम ने कहा कि पुरानी परम्परा में दलित जाति के लोगों की बारात बड़े ही सादगी के साथ होती थी, दूल्हे पैदल ही दुल्हन के दरवाजे पर जाता था, लेकिन 21वीं सदी में अब दलितों की बारात हाईटेक हो गई है....

जनज्वार डेस्क। इक्कीसवीं सदी में भी समाज जातिवाद की जड़ों को तोड़ नहीं पाया है, इंसान को अब भी इंसान नहीं समझा जा रहा है। ताजा मामला उत्तर प्रदेश के महोबा जिले के महोबकंठ थाना क्षेत्र का है जहां एक दलित युवक को सवर्णों की ओर से शादी में घोड़ी का इस्तेमाल न करने की धमकी दी गई है।

जानकारी के मुताबिक ये मामला माधवगंज गांव का है। अलखराम अहिरवार दिल्ली में एक कम्पनी में नौकरी करता है। परिजनों ने इसकी शादी गांव से बीस किमी दूर बिहट में रामसखी के साथ तय की है। घर में शादी की तैयारियां भी चल रही हैं। निमंत्रण पत्र भी रिश्तेदारों और नातेदारों में बंट चुके हैं।

लेकिन युवक का कहना है कि शादी की तैयारियों के बीच उसके और दुल्हन के गांव के सवर्ण जाति के लोग घोड़ी पर चढ़कर बारात लाने पर ऐतराज कर रहे हैं और धमकी दे रहे हैं कि घोड़ी पर बैठकर टीका कराने आओगे तो गोली मिलेगी। युवक ने बताया कि सवर्णों की गुंडई को लेकर पूरा परिवार दहशत में है इसीलिये सोशल मीडिया में विभिन्न संगठनों से मदद मांगी गई है।

अलखराम ने कहा कि पुरानी परम्परा में दलित जाति के लोगों की बारात बड़े ही सादगी के साथ होती थी। दूल्हे पैदल ही दुल्हन के दरवाजे पर जाता था, लेकिन 21वीं सदी में अब दलितों की बारात हाईटेक हो गई है, इसीलिए घोड़ी पर चढ़कर टीका कराने का फैसला किया गया है। घोड़ी भी बुक है। इसी बीच उसके गांव के सवर्ण लोग भड़क गए हैं। दुल्हन के गांव के लोगों ने भी घोड़ी पर चढ़कर बारात लाने से मनाही करते हुए जानमाल की धमकी दी है।

दूल्हे अलखराम ने बताया कि इस मामले की जानकारी होते ही भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष आकाश राणा कार्यकर्ताओं के साथ घर आए और परिजनों को भरोसा दिलाया है कि पुरानी परम्परा से बारात नहीं जाएगी। दूल्हा घोड़ी पर ही सवार होकर टीका कराने जाएगा। इसके लिए आर्मी के कार्यकर्ता भी बारात में शामिल होंगे। बताया कि सवर्णों की धमकी से दुल्हन के घर के लोग भी डरे और सहमे हुए हैं।

दूल्हे ने बताया कि इस मामले की शिकायत महोबकंठ थाने में की गई थी, जिस पर थानाध्यक्ष ने परिवार वालों से मिलकर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। बताया कि पुलिस ने अब मामले की तेजी से जांच कर रही है। थानाध्यक्ष सुनील तिवारी ने बताया कि शिकायती पत्र मिला है, जिसमें जांच पड़ताल कराई जा रही है। कहा कि दूल्हे को सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराई जाएगी।

Next Story

विविध

Share it