Top
समाज

वरवर राव के परिवार ने NHRC से की हस्तक्षेप की मांग, उनके स्वास्थ्य की नहीं दी जा रही जानकारी

Janjwar Desk
24 July 2020 4:09 PM GMT
वरवर राव के परिवार ने NHRC से की हस्तक्षेप की मांग, उनके स्वास्थ्य की नहीं दी जा रही जानकारी

राव पिछले महीने जेल में गंभीर रूप से अस्वस्थ हो गए थे और उनके परिवार ने आरोप लगाया कि राव के लिए चिकित्सा स्थिति को अनदेखा कर दिया गया था और अधिकारियों द्वारा उनकी तबियत बिगड़ने दी गई.....

नई दिल्ली। तेलुगु कवि वरवर राव के परिवार ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने अस्पताल के अधिकारियों से उनके स्वास्थ्य की जानकारी की जानकारी नहीं मिल पा रही है। राव का कोविड 19 टेस्ट पॉजिटिव आया था, वह अभी मुंबई के नानावती अस्पताल में भर्ती हैं।

राव के परिवार ने पत्र में कहा कि उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी देने से इनकार करना राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के 13 जुलाई 2020 के आदेश का सीधा उल्लंघन है, इस आदेश के तहत जेल अधिकारियों को राव को उनके परिवार के सदस्यों को सूचित करने के लिए सभी आवश्यक चिकित्सा देखभाल और सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया था।

राव पिछले महीने जेल में गंभीर रूप से अस्वस्थ हो गए थे और उनके परिवार ने आरोप लगाया कि राव के लिए चिकित्सा स्थिति को अनदेखा कर दिया गया था और अधिकारियों द्वारा उनकी तबियत बिगड़ने दी गई। राव के परिवार, मानवाधिकार कार्यकर्ताओं, वकीलों और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की कई अपीलों के बाद राव को अस्पताल ले जाया गया था।

उनके परिवार ने पत्र में कहा कि राव के सिर पर चोट लगी है, जो नानावती अस्पताल में खोजी गईं, लेकिन उन्हें अस्पताल या जेल अधिकारियों के द्वारा इसके बारे में नहीं बताया गया था।

'हमें मीडिया और नागरिक समाज के दोस्तों से ही इसके बारे में जानकारी मिली। नतीजतन हमें अस्पताल या जेल अधिकारियों से कोई आधिकारिक अपडेट नहीं मिलता है और किसी भी गंभीर उपचार के लिए हमारी सहमति नहीं ली जाती है।'

परिवार के सदस्यों ने एनएचआरसी से हस्तक्षेप करने और यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया है कि परिवार को हर छह घंटे में नियमित स्वास्थ्य अपडेट प्रदान किया जाए।

Next Story

विविध

Share it