Top
समाज

दिल्ली में कूड़ा बीनने वाली बेघर मां-बेटी से बलात्कार का वीडियो वायरल, पत्थर से कुचलने की धमकी देकर किया था रेप

Janjwar Desk
4 Jan 2021 8:25 AM GMT
दिल्ली में कूड़ा बीनने वाली बेघर मां-बेटी से बलात्कार का वीडियो वायरल, पत्थर से कुचलने की धमकी देकर किया था रेप
x

प्रतीकात्मक फोटो

महिला का पति उसे और उसकी बेटी को छोड़कर गांव चला गया था और उसके पास किराया देने का पैसा नहीं था तो वह अपनी 18 साल की बेटी के साथ सड़क पर आकर रहने लगी और कूड़ा बीनकर अपना गुजारा करने लगी, बेटी के साथ पटरी पर ही सो जाती थी...

नई दिल्ली। उत्तर पश्चिमी दिल्ली में सड़क के किनारे एक बेसहारा मां और बेटी के साथ दुष्कर्म करने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। ये गिरफ्तारी अपराध का वीडियो वायरल होने के बाद की गई है।

आरोपियों ने वजीरपुर की जेजे कॉलोनी में मां-बेटी के साथ दुष्कर्म किया था। इस आरोपी के अलावा पुलिस ने उस लड़के को भी गिरफ्तार किया है, जिसने अपने घर की बालकनी से इस अपराध का वीडियो बनाया था और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट किया।

पुलिस के मुताबिक यह घटना 29 और 30 दिसंबर की रात को हुई थी और वीडियो 3 जनवरी को सोशल मीडिया पर डाला गया। वीडियो वायरल होते ही पुलिस हरकत में आई।

पुलिस टीमों ने सीसीटीवी फुटेज की जांच की और पीड़िताओं को खोजने के लिए क्षेत्र के चारों ओर खुफिया जानकारी एकत्र करने के अलावा बस स्टॉप, मेट्रो स्टेशन, आश्रय घर आदि में पूछताछ की। बाद में दोनों पीड़िताओं का पता चल गया।

नॉर्थ वेस्ट दिल्ली की डीसीपी विजयंता आर्य ने कहा, "कचरा बीनने वाली 35 साल की मां और करीब 18 साल की बेटी के बयान लिये गए हैं। दोनों पीड़िताओं की मेडिकल जांच कराई गई है। साथ ही भारत नगर पुलिस स्टेशन में धारा 323, 341, 354, 354सी, 376, 509, 506 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया।"

पीड़िताओं को खोजने के बाद 20-30 साल की उम्र के बीच के आरोपियों की तलाश शुरू की गई। पीड़िताओं ने संदिग्ध लोगों में से आरोपी की पहचान कर ली। ये आरोपी जहांगीर पुरी का रहने वाला 22 वर्षीय सोनू और जेजे कॉलोनी में रहने वाला 24 वर्षीय अमित है। वीडियो बनाने वाले व्यक्ति की पहचान जेजे कॉलोनी में के. ब्लॉक में रहने वाले 18 साल रितिक के रूप में हुई है।

पीड़िता से पूछताछ में पता चला कि महिला की उसके पति से अनबन चल रही थी। पति महिला और उसकी बेटी को छोड़कर गांव चला गया है। उसके पास किराया देने का पैसा नहीं था तो वह अपनी 18 साल की बेटी के साथ सड़क पर आ रहने लगी और कूड़ा बीनकर अपना गुजारा करने लगी। वह बेटी के साथ पटरी पर सो जाती थी। 29 दिसम्बर की रात इलाके में नशा करने वाले दो युवकों की महिला और उसकी बेटी पर नजर पड़ी और उन लोगों ने वारदात को अंजाम दिया। जब महिला और उसकी बेटी ने विरोध किया तो पत्थर से कुचलने की धमकी दी गयी।

Next Story

विविध

Share it