Top
समाज

सराय कालेखां में हिंदू लड़के से मुस्लिम लड़की की शादी के बाद मचा बवाल, बन रहे दंगे जैसे हालात

Janjwar Desk
22 March 2021 8:05 AM GMT
सराय कालेखां में हिंदू लड़के से मुस्लिम लड़की की शादी के बाद मचा बवाल, बन रहे दंगे जैसे हालात
x
प्रतीकात्मक फोटो
इलाके में भारी तनाव बना हुआ है और हालात को देखते हुए वहां पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती कर दी गई है, जिस युवक ने मुस्लिम लड़की से प्रेम विवाह किया है उसके परिजन घर छोड़कर किसी सुरक्षित जगह पर चले गए हैं, ताकि कोई अप्रिय घटना न हो....

जनज्वार ब्यूरो, दिल्ली। सराय काले खां में हिंदू लड़के और मुस्लिम लड़की की शादी सांप्रदायिक रूप लेती जा रही है। जानकारी के मुताबिक दिल्ली की हरिजन बस्ती में रहने वाले 22 साल के युवक सुमित (बदला हुआ नाम) ने मुस्लिम समुदाय की लड़की खुशी (बदला हुआ नाम) से प्रेम विवाह किया, जिसके बाद यहां लगातार हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं।

गौरतलब है कि सराय काले खां इलाके में दो धर्मों से संबंध रखने वाले लड़का-लड़की ने अपनी मर्जी से प्रेम विवाह किया है और दोनों बालिग हैं। अब मीडिया में जो जानकारी सामने आ रही है उसके मुताकबिक इस शादी से गुस्साये लड़की के परिजनों और उनके जानकारों ने लड़के के घर और गली में तोड़फोड़ की। पुलिस का कहना है कि यह घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हुयी है और उसकी फुटेज उसके पास है। आरोप है कि आरोपियों ने गली में खड़े और लोगों के भी तमाम दोपहिया वाहनों और कारों को नुकसान पहुंचाया है।

फिलहाल इलाके में भारी तनाव बना हुआ है और हालात को देखते हुए वहां पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती कर दी गई है। जिस युवक ने मुस्लिम लड़की से प्रेम विवाह किया है उसके परिजन घर छोड़कर किसी सुरक्षित जगह पर चले गए हैं, ताकि कोई अप्रिय घटना न हो।

पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कर पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक प्रेमी जोड़े की शादी से लड़की के घर वाले नाराज हो गए, क्योंकि दोनों अलग-अलग समुदाय के रहने वाले हैं। शादी करने के बाद यह जोड़ा पुलिस के पास पहुंचा था और उन्हें पुलिस ने सुरक्षित स्थान पर भेज दिया।

इस मामले में सनलाइट कॉलोनी थाना पुलिस ने दंगा, तोड़फोड़, धमकी देने समेत कई अन्य धाराओं में लड़की के घरवालों और रिश्तेदारों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। अभी तक इस मामले में कुछ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। लड़के की बस्ती के लोगों का आरोप है कि तोड़फोड़ और दंगा मचाने की कोशिश करने वाले ज्यादातर आरोपियों की पहचान हो गई है, मगर पुलिस ने काफी देर तक किसी को नहीं पकड़ा। पुलिस पर आरोपियों को पकड़ने का दबाव बनाया जा रहा था, तर्क दिया जा रहा था कि अगर गिरफ्तारियां नहीं हुईं तो यहां कोई बड़ी वारदात हो सकती है।

इस मामले में साउथ-ईस्ट दिल्ली के डीसीपी आरपी मीणा ने मीडिया को दिये बयान में कहा कि हालात को देखते हुए इलाके में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। फिलहाल मौके पर शांति बनी हुई है। रात के वक्त ही हंगामा हुआ था, लेकिन इसके बाद हालात पूरी तरह से सामान्य हैं। इलाके के लोगों के मुताबिक तनावपूर्ण माहौल दो-तीन दिन पहले उस समय बनना शुरू हो गया था, जब एक ही इलाके में रहने वाले दो अलग-अलग धर्मों के लड़का और लड़की ने आपसी रजामंदी से शादी की थी।

मीडिया में जो खबरें आ रही हैं उसके मुताबिक लड़की के भाई और अन्य रिश्तेदार शनिवार 20 मार्च की देर रात करीब 11 बजे लड़के की गली में पहुंचे और गाड़ियों में तोड़फोड़ की। लड़के के पड़ोसियों का कहना है कि इन लोगों ने गली में ईंट-पत्थर भी बरसाए, हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

Next Story

विविध

Share it