समाज

Yati Narsinghanand के खिलाफ अब भीम आर्मी ने भी खोला मोर्चा, देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग

Janjwar Desk
15 Jan 2022 12:16 PM GMT
Yati Narsinghanand Hate Speech : ज्यादा बच्चे पैदा करें नहीं तो 2029 तक हिंदू विहीन हो जाएगा भारत, फिर दिया विवादित बयान
x

गाजियाबाद डासना मंदिर के मुख्य पुजारी यति नरसिंहानंद।

Yati Narsinghanand : भीम आर्मी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि यति नरसिंहानंद सरस्वती द्वारा कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट व इस संविधान पर हमें कोई भरोसा नही है, यह संविधान सौ करोड़ हिंदुओं को खा जाएगा......

Yati Narsinghanand : कथित धर्मसंसद में मुसलमानों के खिलाफ जहरीली बयानबाजी करने वालों के खिलाफ देशभर में गुस्सा बढ़ता जा रहा है। अब भीम आर्मी (Bhim Army) ने भी इन लोगों के खिलाफ कार्यवाही की मांग करते हुए मोर्चा खोल दिया है।

भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष नफ़ीस अहमद खान के नेतृत्व में नगर मजिस्ट्रेट के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर यति नर सिंहनन्द सरस्वती (Yati Narsinghanand Saraswati) द्वारा दिये गए देश विरोधी हेट स्पीच पर देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की गई। इस बाबत हल्द्वानी कोतवाली में भी एफआईआर के लिए तहरीर दी गयी है।

तहरीर में भीम आर्मी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि यति नरसिंहानंद सरस्वती द्वारा कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट व इस संविधान पर हमें कोई भरोसा नही है। यह संविधान सौ करोड़ हिंदुओं को खा जाएगा। इस संविधान पर विश्वास करने वाले सारे लोग मारे जाएंगे। जो इस सिस्टम पर इन नेताओं पर सुप्रीम कोर्ट पर इस पुलिस पर इस फौज पर भरोसा कर रहे हैं वह सारे लोग कुत्ते की मौत मारे जाएंगे!


भेजे गए ज्ञापन में राष्ट्रपति से गुहार लगाई गई है कि धर्म का चोला पहनकर धर्म की आड़ में सनातन धर्म को बदनाम करने वाले, संविधान और सुप्रीम कोर्ट पर असंवैधानिक टिप्पणी करने वाला तथा धर्म संसद में धर्म विशेष का नरसंहार करने के लिए उत्तेजित करने वाले के खिलाफ सख्त करवाई की जाए।

ज्ञापन देने वालों में नफ़ीस अहमद खान, मनीष गौतम, सिराज अहमद, विकास कुमार, मोनू कुमार, असलम खान, हरीश लोधी, रितिक कांत सहित कई लोग मौजूद थे।

Next Story

विविध