समाज

योगीराज : यूपी के पीलीभीत में एक और छात्रा से सरेराह छेड़छाड़, तेजाब से नहलाने की धमकी

Janjwar Desk
4 Dec 2021 1:06 PM GMT
pilibhit news
x

(पीलीभीत में 11वीं कक्षा की छात्रा को तेजाब से नहलाने की धमकी)

पिता ने तहरीर देकर कहा कि उनकी 16 वर्षीय नाबालिग बेटी लिटिल एंजिल्स स्कूल अशोक नगर कॉलोनी पीलीभीत में कक्षा 11 की छात्रा है जोकि पहले बरेली में जीआरएम स्कूल में पढ़ती थी...

Pilibhit Crime News : भले ही उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh) सरकार मिशन शक्ति अभियान चलाकर महिलाओं के सुरक्षित होने का दावा करें लेकिन जनपद पीलीभीत (Pilibhit) में सरेआम स्कूली छात्राओं के साथ छेड़खानी की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला शहर के लिटिल एंजिल्स स्कूल (Little Angels School) का है। स्कूल की 11वीं कक्षा की छात्रा को रास्ते में रोककर बरेली (Bareilly ) के युवक ने ना सिर्फ छेड़छाड़ की बल्कि साथ में ना चलने पर उसके माता-पिता को जान से मार देने की भी धमकी दी।

युवक ने छात्रा के चेहरे पर तेजाब डालकर जला देने की धमकी दी। इस युवक की हरकतों से तंग आकर ही छात्रा ने बरेली के स्कूल से अपना नाम कटवाकर पीलीभीत में एडमिशन लिया मगर मनचले युवक ने यहां भी उसका पीछा नहीं छोड़ा। परेशान होकर छात्रा के पिता पुलिस अधीक्षक से मिले। पुलिस अधीक्षक के आदेश पर युवक के खिलाफ गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

इसी स्कूल में 11वीं कक्षा की है छात्रा

पीलीभीत शहर के सदर कोतवाली क्षेत्र के एक मोहल्ले के रहने वाले व्यक्ति ने पुलिस अधीक्षक से मिलकर उनको एक तहरीर देकर कहा कि उनकी 16 वर्षीय नाबालिग बेटी लिटिल एंजिल्स स्कूल अशोक नगर कॉलोनी पीलीभीत में कक्षा 11 की छात्रा है जोकि पहले बरेली में जीआरएम स्कूल में पढ़ती थी। उसको अंशुल सागर (उम्र लगभग 27 वर्ष) पुत्र गंगाराम निवासी मोहल्ला होली चौक, सुर्खा थाना प्रेम नगर, बरेली रास्ते में रोककर अश्लील भाषा का प्रयोग करके परेशान करता था। उसको बोलता था कि वह उसे उठाकर ले जाएगा।

जब बेटी ने अंशुल की शिकायत घर आकर उनसे (माता-पिता) से की, तब उन्होंने अंशुल से ऐसा न करने को कहा तब अंशुल ने उनके साथ गाली गलौज की। जान से मारने की धमकी दी। आखिर में उन्होंने अंशुल से परेशान होकर अपनी बेटी का नाम बरेली से हुए कटवाकर लिटिल एंजिल्स स्कूल अशोक कॉलोनी, पीलीभीत में लिखवा दिया। आए दिन अंशुल पीलीभीत भी पहुंच जाता है और उनकी बेटी को रास्ते में रोककर परेशान करता है और साथ चलने को कहता है। फोन कर उनकी बेटी से अश्लील बातें करता है।

2 दिसंबर को स्कूल जाते समय भी अंशुल ने मेरी बेटी को गांधी स्टेडियम रोड पर रोका और साथ चलने को कहने लगा। कहा कि अगर तुम मेरे साथ नहीं चलोगी तो मैं तेरे मां-बाप को जान से मार दूंगा और तुझे तेजाब से जला दूंगा। जिस कारण बेटी स्कूल न जाकर घर वापस आ गई और सारा घटनाक्रम परिवार को बताया।

छात्रा के पिता ने पुलिस अधीक्षक से फरियाद की कि उसकी पुत्री को उस वहशिये से बचा लिया जाए। रिपोर्ट दर्ज कर अंशुल के विरुद्ध कठोर कानूनी कार्रवाई की जाए ताकि उनकी व उनकी बेटी की जान माल की सुरक्षा हो सके।

पुलिस अधीक्षक के आदेश पर थाना सुनगढ़ी पुलिस ने आईपीसी की धारा 354, 504, 506 व लैंगिक अपराधों से बालकों के संरक्षण का अधिनियम-2012 की धारा 7 व 8 के तहत अंशुल सागर के विरुद्ध अभियोग दर्ज कर लिया है। थाना सुनगढ़ी पुलिस ने बताया कि अंशुल की तलाश में पुलिस टीम रवाना की गई। जल्द ही उसकी गिरफ्तारी की जाएगी।

Next Story

विविध