Top
सिक्योरिटी

जम्मू-कश्मीर: 4 शीर्ष आतंकवादी कमांडर ढेर, रास्ता भटके 16 युवा पहुंचे घर

Janjwar Desk
20 Aug 2020 2:50 PM GMT
जम्मू-कश्मीर: 4 शीर्ष आतंकवादी कमांडर ढेर, रास्ता भटके 16 युवा पहुंचे घर
x
डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि नसीर पाकिस्तान में प्रशिक्षित था और एक खतरनाक आतंकवादी था, वह कुछ सुरक्षा कर्मियों की हत्याओं में शामिल था, जिसमें कुछ सीआरपीएफ अधिकारी भी शामिल थे...

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस प्रमुख ने गुरुवार को कहा कि हाल ही में चार शीर्ष आतंकवादी कमांडर मारे गए हैं और 16 युवा आतंक का रास्ता छोड़कर अपने परिवारों के पास लौट आए हैं। उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में मीडिया को संबोधित करते हुए डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा, पिछले कुछ दिनों के दौरान मुठभेड़ सुरक्षा बलों के लिए बड़ी सफलता रही और इससे स्थानीय लोगों के जीवन में राहत मिलेगी।

उन्होंने कहा, क्रेरी (बारामूला) में शीर्ष लश्कर कमांडर सजाद हैदर और उसके पाकिस्तानी सहयोगी उस्मान को कल हंदवाड़ा में एक अन्य स्थानीय आतंकवादी नसीर के साथ मार गिराया गया।

सिंह ने कहा, नसीर पाकिस्तान में प्रशिक्षित था और एक खतरनाक आतंकवादी था। वह कुछ सुरक्षा कर्मियों की हत्याओं में शामिल था, जिसमें कुछ सीआरपीएफ अधिकारी भी शामिल थे। पिछले चार दिनों के दौरान, पूरे कश्मीर में तीन मुठभेड़ हुईं। इन मुठभेड़ों में 'ए' और 'ए प्लस' श्रेणी के चार आतंकवादियों को ढेर कर दिया गया। वे चार आतंकवादी शीर्ष कमांडर थे और पूरे कश्मीर में शीर्ष 10 से 20 आतंकवादियों की सूची में थे।

जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख ने कहा, सज्जाद हैदर ने बड़ी संख्या में स्थानीय युवकों को आतंकवाद के लिए भर्ती किया था। पिछले कुछ दिनों में सुरक्षा बलों ने कुछ युवाओं को गिरफ्तार किया है, जो आतंकवादी गतिविधियों में शामिल होने की राह पर थे। हाल की मुठभेड़ों में मारे गए आतंकी इन युवाओं को भर्ती करने में शामिल थे।

उन्होंने कहा, इस साल हम 16 युवाओं को वापस ले आए हैं, जो आतंकी गतिविधियों में शामिल हो गए थे। उन्हें उनके परिवारों को लौटा दिया है।

Next Story

विविध

Share it