सिक्योरिटी

Kashmir News : कश्मीर में लगातार दूसरे दिन गैर कश्मीरियों पर हमले में दो की मौत, फारुख अब्दुल्ला बोले-बदनाम करने की साजिश

Janjwar Desk
17 Oct 2021 3:53 PM GMT
Kashmir News : कश्मीर में लगातार दूसरे दिन गैर कश्मीरियों पर हमले में दो की मौत, फारुख अब्दुल्ला बोले-बदनाम करने की साजिश
x

(कश्मीर में लगातार दूसरे दिन गैर कश्मीरियों पर हमले हुए हैं)

यह लगातार दूसरा दिन है जब आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को निशाना बनाया गया है, इन दो दिनों में आतंकी अब तक कुल चार गैर-कश्मीरी मजदूरों की गोली मारकर हत्या कर चुके हैं..

Kashmir News : शनिवार, 16 अक्टूबर को दो गैर कश्मीरियों (Non Kashmiris) को गोली मारने की घटना के बाद आज रविवार, 17 अक्टूबर 2021 को भी लगातार दूसरे दिन तीन गैर कश्मीरियों को गोली मार दी गई। एएनआई ने सीआईडी (CID) सूत्रों के हवाले से बताया है कि आतंकियों ने जिन तीन गैर कश्मीर मजदूरों पर गोलियां चलाई है वो बिहार (Resident of Bihar) के रहने वाले हैं।

तीन में से दो राजा रेशी देव और जोगिंदर रेशी देव की मौत हो गई है जबकि एक चुनचुन रेशी देव घायल हैं। बता दें कि यह लगातार दूसरा दिन है जब आतंकियों ने गैर कश्मीरी मजदूरों को निशाना बनाया गया है। इन दो दिनों में आतंकियों (Terrorists) ने अब तक कुल चार गैर-कश्मीरी मजदूरों की गोली मारकर हत्या कर चुके हैं।

इससे पहले शनिवार को जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के श्रीनगर और पुलवामा (Pulwama District) जिले अलग-अलग घटनाओं में आतंकवादियों ने दो गैर स्थानीय लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी थी। घटना को लेकर पुलिस अधिकारी ने बताया था कि मूल रूप से बिहार के बांका जिले के रहने वाले अरविंद कुमार साह (30) को आतंकवादियों ने शनिवार शाम को श्रीनगर में ईदगाह के पास पार्क के बाहर गोली मारी थी।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि साह की मौके पर ही मौत हो गई। साह श्रीनगर (Shrinagar) में गोलगप्पा बेचते थे और उनका सपना बिहार में मौजूद परिवार को गरीबी से निकालना था जो उनकी मौत के साथ टूट गया है। चश्मदीदों ने बताया कि पिस्तौल से लैस आतंकवादी ने साह के ठेले को रोका और करीब से उनपर गोली मारी जिससे मौके पर ही साह की मौत हो गई।

वहीं, नेशनल कांफ्रेंस अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला (NCP president Farukh Abdullah) ने रविवार को कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में लोगों की हत्या की हालिया घटनाओं में कश्मीरी संलिप्त नहीं हैं और ये हमले कश्मीरियों को बदनाम करने की साजिश के तहत किए गए।

उन्होंने इन घटनाओं को केंद्र शासित प्रदेश के शांतिपूर्ण माहौल में खलल डालने की कोशिश बताया। फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि 'ये हत्याएं दुर्भाग्यपूर्ण हैं और एक साजिश के तहत की गई। कश्मीरी इन हत्याओं में संलिप्त नहीं हैं। यह कश्मीरियों को बदनाम करने की साजिश है।'

Next Story

विविध

Share it