Top stories

Aaj Ka Mausam, 7 October 2021: दक्षिणी राज्यों में बारिश का अलर्ट, त्योहारी मौसम के बीच होगी मॉनसून की विदाई

Janjwar Desk
6 Oct 2021 5:17 PM GMT
Aaj Ka Mausam, 03 April 2022 : दिल्ली, राजस्थान समेत उत्तर भारत में लू चलने की संभावना, इन राज्यों में होगी बारिश
x

Aaj Ka Mausam, 03 April 2022 : दिल्ली, राजस्थान समेत उत्तर भारत में लू चलने की संभावना, इन राज्यों में होगी बारिश

Aaj Ka Mausam, 7 October 2021: त्योहारों के उत्साह में कोई खलल न पड़े इसलिए मॉनसून ने अब विदा लेने का मन बना लिया है... भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की मानें तो 6 सितंबर के बाद से देश के राज्यों मॉनसून के वापसी के लिए परिस्थितियां अनूकूल बन रही है...

Aaj Ka Mausam, 7 October 2021: साल 2021 में कई राज्यों में रिकॉर्ड तोड़ बारिश के कारण लोगों को काफी दिक्कतों का समना करना पड़ा। बिहार, बंगाल, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण आई बाढ़ ने काफी तबाही मचाई। आमतौर पर देश के ज्यादातर हिस्सों से सितंबर तक मॉनसून की वापसी हो जाती थी। लेकिन, 2021 के सितंबर में रिकॉर्ड स्तर की बारिश दर्ज की गई। लेकिन, अक्टूबर के आगमन के साथ ही मॉनसून के वापसी की खबर भी आ गई है। त्योहारों के उत्साह में कोई खलल न पड़े इसलिए मॉनसून ने अब विदा लेने का मन बना लिया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की मानें तो 6 सितंबर के बाद से देश के राज्यों मॉनसून के वापसी के लिए परिस्थितियां अनूकूल बन रही है। मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक नवरात्रि के दौरान उत्तर पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों से दक्षिणी-पश्चिमी मानसून की वापसी की शुरुआत बुधवार, 6 अक्टूबर से हो गई है।

दक्षिण के राज्यों में होगी बारिश

इसके लिए स्थितियां बेहतर बनी हुई हैं। हालांकि, दक्षिण के कुछ राज्यों में अभी भी बारिश होने की संभावना जताई गई है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार दक्षिणी राज्य तमिलनाडु, कर्नाटक और केरल में 6 अक्टूबर से अगले चार दिनों तक लगातार मध्यम से भारी बारिश होने के आसार हैं। बारिश को लेकर मौसम विभाग की ओर से रेड और आरेंज अलर्ट जारी कर दिया गया है। मौसम विभाग की ओर से जारी अलर्ट के मुताबिक केरल के इडुक्की जिले के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। वहीं पठनमथीट्टा, कोट्टायम, पलक्कड और मलप्पुरम जिलों में लगातार चार दिन भारी बारिश की हो सकती है। इसके अलावा बुधवार को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और लक्षद्वीप के अधिकांश हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा IMD ने कहा कि पश्चिम बंगाल में चक्रवाती प्रभाव के चलते दक्षिण असम और त्रिपुरा में भारी बारिश होने की आशंका है।

बिहार के इन जिलों में बारिश संभव

पटना स्थित मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, 5 अक्टूबर को बिहार के 38 जिलों में कुछ जगहों पर बारिश होने की संभावना है। राज्य में 6 अक्तूबर से बारिश की स्थिति में बदलाव देखने को मिल सकता है। पश्चिम चंपारण, सिवान, सारण पूर्वी चंपारण और गोपालगंज में 6 अक्टूबर से लेकर 9 अक्टूबर तक मौसम शुष्क रहने की संभावना है।

बंगाल के जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति

दामोदर घाटी निगम की तरफ से अचानक पानी छोड़े जाने और लगातार भारी बारिश के चलते पश्चिम बंगाल के छह जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है। इन जिलों में पश्चिम और पूर्वी बर्दवान, बांकुरा, बीरभूम, हुगली और हावड़ा शामिल हैं। बाढ़ से राज्य की गंभीर स्थिति को देखते हुए राहत कार्य के लिए सेना और एनडीआरएफ को तैनात किया गया है।

आमतौर पर उत्तर-पश्चिम भारत से दक्षिण-पश्चिम हिस्सों से मानसून की वापसी पर 17 सितंबर से शुरू होती है। इससे पहले 2019 में मानसून की वापसी 9 अक्टूबर को शुरू हुई थी। साल 2021 में भारत में जून से सितंबर तक चार महीने के दौरान सामान्य बारिश हुई। 1 जून से 30 सितंबर तक 87 सेमी बारिश दर्ज की गई। दक्षिणी-पश्चिम मानसून ने 2021 जून को केरल में दस्तक दे दी थी। फिर 15 जून को मध्य, पश्चिम, पूर्व, उत्तर पूर्व और दक्षिण भारत में मानसून आया। आशंका जताई जा रही है कि देर से मॉनसून की विदाई के बाद जल्द ही ठंड भी दस्तक देने को तैयार है। मौसम विभाग द्वारा ताजा जानकारी की मानें तो दिल्ली और यूपी में 15 अक्टूबर से सुबह और शाम में हल्की ठंड महसूस होगी।

Next Story

विविध