Top stories

Kharge Attacks BJP-RSS : भाजपा और आरएसएस जो देश में कर रही वह देशहित में नहीं : मल्ल्किार्जुन खड़गे

Janjwar Desk
22 March 2022 11:57 AM GMT
Kharge Attacks BJP-RSS : मायावती के हमलों से बि​लबिलाये मल्लिकार्जुन खड़गे ने उतारी खीझ, कहा - भाजपा-आरएसएस वाले चाहते हैं देश में हो सिर्फ एक पार्टी का शासन
x

मायावती के बयान से बिलबिलाये मल्लिकार्जु्न खड़गे ने भाजपा—आरएसएस पर उतारी खीझ। 

Kharge Attacks BJP-RSS : राज्यसभा में कांग्रेस के संसदीय दल के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी का देश के लोकतंत्र पर गहरा विश्वास है और इस पर चुनावों में हार या जीत से कोई फर्क नहीं पड़ता है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने यह भी कहा कि वर्तमान में जो भाजपा सरकार और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से देश में किया जा रहा है वह कतई देश के हित में नहीं है।

Kharge Attacks BJP-RSS : पांच राज्यों में हाल में हुए विधानसभा चुनावों (Assembly Elections) में कांग्रेस पार्टी की हार के बावजूद पार्टी का नेताओं का मनोबल अब भी बढ़ा हुआ है। राज्यसभा (Rajya Sabha) में कांग्रेस के संसदीय दल के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने समाचार एजेंसी एएनआई (ANI) से बातचीत में कहा है कि कांग्रेस पार्टी (Congress Party) का देश के लोकतंत्र (Democracy) पर गहरा विश्वास है और इस पर चुनावों में हार या जीत से कोई फर्क नहीं पड़ता है।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने यह भी कहा कि वर्तमान में जो भाजपा सरकार (BJP Government) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) की ओर से देश में किया जा रहा है वह देश के हित में कतई नहीं है।

खड़गे ने आगे कहा कि लोकतंत्र में राजनीतिक दल मजबूत और कमजोर होते रहते हैं। देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस ना तो जीतकर अतिउत्साहित होती है ना ही चुनावो में हार मिलने पर हतोत्साहित होती है। उन्होंने कहा कि हम अपनी पार्टी की मूल विचारधारा से कभी समझौता नहीं करते हैं। इसलिए कांग्रेस पार्टी किसी खास वोट बैंक की राजनीति नहीं करती है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता खड़गे ने ये बातें उस समय कहीं जब उनसे पूछा गया कि क्या नरेन्द्र मोदी और अमित शाह के नेतृत्व उदय होने पर इतिहास में पहली बार कांग्रेस पार्टी के अस्तित्व पर संकट आ गया है। मल्लिकार्जुन खड़गे ने यह भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी एक तानाशाही पार्टी है। ऐसी पार्टी की विचाराधारा से लोकतंत्र की रक्षा नहीं की जा सकती है। कभी भाजपा के सिर्फ दो सांसद हुआ करते थे पर अब यह पार्टी तानाशाही पार्टी का रूप ले चुकी है।

खड़गे ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने बाबरी मजिस्द ढाहने की घटना से भारतीय लोकतंत्र में ध्रुवीकरण की राजनीति की शुरूआत की थी। पर कांग्रेस पार्टी ने कभी भी अपनी मूल विचारधारा से समझौता नहीं किया है।उन्होंने कहा कि देश में लोकतंत्र की जड़ों को मजबूत करने के लिए ही देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने अपनी सरकार में विपक्षियों और ऐसे लोगों को भी शामिल किया था जिनकी विचारधारा उनसे मेल नहीं खाती थी। इसलिए आज भी पार्टी समाज के सभी वर्गों को साथ लेकर देश में लोकतंत्र को जीवित रखने के अभियान में जुटी हुई है।

(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रु-ब-रु कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आएं और अपना सहयोग दें।)

Next Story

विविध