Top stories

PM Modi US Visit : तालिबानी खौफ के चलते पाकिस्तान की इजाजत से रूट बदलकर अमेरिका के लिए रवाना हो सके PM मोदी

Janjwar Desk
22 Sep 2021 4:36 PM GMT
modi visit us
x

(अपने विशेष विमान से हाथ हिलाते भारतीय पीएम मोदी image/twitter)

PM Modi US Visit : सरकारी सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी की फ्लाइट के लिए पाकिस्तान का एयरस्पेस इस्तेमाल करने की इजाजत मांगी गई थी। इस्लामाबाद की तरफ से हामी भरने के बाद PM की फ्लाइट के लिए यह रूट तय हुआ...

PM Modi US Visit (जनज्वार) : प्रधानमंत्री मोदी बुधवार को तीन दिवसिय यात्रा पर अमेरिका यात्रा पर रवाना हो गये। पीएम के विमान ने निर्धारित रूट अफगानिस्तान (Afghanistan) के ऊपर से उड़ान नहीं भरी। यह फैसला सुरक्षा कारणों से लिया गया। पीएम मोदी ने अमेरिका (America) तक अपनी नॉन स्टॉप फ्लाइट के लिए पाकिस्तान की इजाजत से उनके एयरस्पेस का इस्तेमाल किया।

पीएम मोदी (PM Modi) का विमान अफगानिस्तान की वायु सीमा से नहीं गुजरा। जब से तालिबानियों की ओर से अफगानिस्तान पर कब्जा किया गया है तभी से भारतीय विमान सुरक्षा कारणों को ध्यान में रखते हुए अफगान वायु सीमा का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। सभी भारतीय विमान किसी अन्य रूट का इस्तेमाल कर उड़ान भर रहे हैं।

मोदी के साथ उनके विशेष विमान में एनएसए (NSA) अजित डोभाल, विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला सहित सरकार के उच्च अधिकारी भी अमेरिका रवाना हुए। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी की फ्लाइट के लिए पाकिस्तान का एयरस्पेस इस्तेमाल करने की इजाजत मांगी गई थी। इस्लामाबाद की तरफ से हामी भरने के बाद प्रधानमंत्री की फ्लाइट के लिए यह रूट तय किया गया।

अफगानिस्तान से होकर जाता है भारत-अमेरिका रूट

बता दें कि, भारत से अमेरिका का हवाई रूट पाकिस्तान (Pakistan) और अफगानिस्तान से होकर गुजरता है। इसके बाद विमान ताजिकिस्तान की सीमा से होते हुए नॉर्थ अटलांटिक ओशन के ऊपर से उड़ान भरते हैं। हालांकि अमेरिका के अलग-अलग शहरों तक जाने वाली फ्लाइटों को अपने रूटों में थोड़ा बदलाव भी करना पड़ता है।

पाकिस्तान की परमिशन से PM ने भरी उड़ान (image/bhaskar)

2019 में पाकिस्तान ने जताया था विरोध

इससे पहले, पाकिस्तान ने 2019 में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्पेशल प्लेन को उसके एयरस्पेस में उड़ान भरने की मंजूरी देने से इनकार कर दिया था। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने पर विरोध जताते हुए पाकिस्तान ने यह फैसला लिया था। उस समय प्रधानमंत्री मोदी जर्मनी और राष्ट्रपति कोविंद आइसलैंड जा रहे थे।

एडवांस्ड डिफेंस सिस्टम से लैस है पीएम का प्लेन

प्रधानमंत्री मोदी के साथ हाई-लेवल डेलीगेशन को लेकर जा रहे प्लेन ने बुधवार सुबह एयरफोर्स के टेक्निकल एयरबेस से उड़ान भरी थी। पहली बार भारत के वीवीआईपी (VVIP) एयरक्राफ्ट को एअर इंडिया वन (AI-1) कॉल साइन दिया गया है। हाल ही में वीवीआईपी ऑपरेशन के लिए मॉडिफाई किए गए बोइंग 777 एक्स्ट्रा रेंज (B-777 ER300) में एडवांस्ड डिफेंस सिस्टम फिट किया गया है।

अपने बयान में पीएम मोदी ने क्या कहा?

अमेरिका यात्रा पर रवाना होने से पहले PM मोदी ने बयान जारी कर कहा कि यह दौरा अमेरिका से स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप मजबूत करने का मौका होगा। PM मोदी ने कहा, 'मैं अमेरिका के महामहिम राष्ट्रपति जो बाइडेन के निमंत्रण पर 22-25 सितंबर, 2021 तक USA का दौरा करूंगा। इस दौरान मैं राष्ट्रपति बाइडेन के साथ वैश्विक रणनीतिक साझेदारी और आपसी हितों के क्षेत्रीय व ग्लोबल मुद्दों पर विचार साझा करूंगा। मैं उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मिलने के लिए भी उत्सुक हूं। हैरिस के साथ विज्ञान और टेक्नोलॉजी सेक्टर में सहयोग के अवसरों पर चर्चा होगी।'

क्वाड शिखर सम्मेलन में भी शामिल होंगे PM

प्रधानमंत्री ने कहा, 'मैं राष्ट्रपति बाइडेन, ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा के साथ व्यक्तिगत रूप से क्वाड लीडर्स शिखर सम्मेलन में भाग लूंगा। यह सम्मेलन इस साल मार्च में हुए वर्चुअल शिखर सम्मेलन के नतीजों का जायजा लेने का मौका देगा। साथ ही भारत-प्रशांत क्षेत्र के लिए हमारे साझा दृष्टिकोण के आधार पर भविष्य में उठाए जाने वाले कदमों पर बातचीत होगी।'

Next Story

विविध

Share it