Top stories

Top 10 News in hindi : IIT गोल्ड मेडलिस्ट लाखों की नौकरी छोड़ बना संन्यासी, भर्ती सत्याग्रह शिवराज के लिए खतरे की घंटी

Janjwar Desk
30 Sep 2022 3:14 AM GMT
Top 10 News in hindi : IIT गोल्ड मेडलिस्ट लाखों की नौकरी छोड़ बना सन्यासी, भर्ती सत्याग्रह शिवराज के लिए खतरे की घंटी
x

Top 10 News in hindi : IIT गोल्ड मेडलिस्ट लाखों की नौकरी छोड़ बना सन्यासी, भर्ती सत्याग्रह शिवराज के लिए खतरे की घंटी

Top 10 News : इंदौर में भर्ती सत्याग्रह में शामिल बेरोजगार प्रदर्शनकारियों का कहना है कि अभी इंदौर में अनिश्चितकालीन भर्ती सत्याग्रह चल रहा है। यदि सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है तो वे भोपाल में भी अनिश्चितकालीन आंदोलन करेंगे।

1. IIT Delhi गोल्ड मेडलिस्ट बोले - पढ़े-लिखे लोगों को बनना चाहिए संन्यासी

मूलतः बिहार के रहने वाले और दिल्ली आईआईटी ( IIT Delhi ) के गोल्ड मेडलिस्ट संदीप कुमार भट्ट ( IITian Sanseep Kumar Bhatt ) ने लाखों की नौकरी छोड़ साधु बन गए हैं। उनका कहना है कि पढ़े-लिखे को ही साधु और संन्यासी बनने की जरूरत है। उनका यह फैसला अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उन्होंने एमटेक किया। मोटी सैलरी पर जॉब भी की लेकिन फिर उन्होंने 28 साल की उम्र में संन्यास की राह पकड़ ली है। संदीप भट्ट की उम्र 28 साल है और उन्होंने अभी शादी नहीं की है। संदीप भट्ट का कहना है कि मशीन की क्वालिटी तो बढ़ रही है पर इंसान की क्वालिटी घट रही है। हर साल लाखों क्राइम होते हैं। यह इस बात का प्रमाण है कि इंसान की क्वालिटी खराब हो रही है। उन्होंने कहा मैं मानता हूं कि पढ़े लिखे लोगों को साधु-संत बनना चाहिए। आखिर क्या वजह है कि बड़ी-बड़ी कंपनी के लोगों हायर करती है। अगर अच्छाई समाज में बढ़ानी है तो ऐसे लोगों को भी आगे आना चाहिए।

2. पढ़ाई के लिए भारत आने वाले विदेशी छात्रों की संख्या में 42% का इजाफा

भारत सरकार के आंकड़ों से पता चलता है कि जो देश पढ़ाई के लिए अपने छात्रों को भारत भेजते आ रहे हैं। उनके नामों में पिछले कुछ सालों में कोई बदलाव नहीं आया है। हालांकि यहां आने वाले विदेशी छात्रों ( Foreign Student ) एक बड़ा हिस्सा दक्षिण एशियाई देशों से आता है। इस मामले में नेपाल पहले नंबर पर बना हुआ है। पहले मलेशिया और भूटान जैसे देश एक बड़ी संख्या में अपने छात्रों को भारत भेजते थे लेकिन इन देशों की शिक्षा व्यवस्था में सुधार आने के बाद से उनकी संख्या कम हो गई है। अखिल भारतीय उच्च शिक्षा सर्वेक्षण के सात सालों के आंकड़ों के मुताबिक 2012-13 में भारत आने वाले विदेशी छात्रों की संख्या 34,774 थी जो 2019-20 में बढ़कर 49,348 हो गई है। नेपाल ने भारत में सबसे अधिक छात्रों को भेजना जारी रखा हुआ है। उसके बाद अफगानिस्तान का नंबर आता है। पिछले दो.तीन सालों से बांग्लादेश से आने वाले छात्रों की संख्या भी बढ़ी हैण् लेकिन भूटान और मलेशिया से आने वाले छात्रों की संख्या में कमी आई है। इराक और ईरान से आने वाले छात्रों की संख्या में भी कमी आई है।

3. MP : बेरोज़गारों का भर्ती सत्याग्रह शिवराज के लिए खतरे की घंटी




सीएम शिवराज सिंह चौहान ने खुद एक लाख सरकारी भर्तियों का ऐलान किया था। ऐसे में युवा सड़कों पर पूछ रहे हैं कि क्या ये वादा महज़ चुनावी नीति का हिस्सा भर थेए या फिर सरकार अपने ऐलान पर अमल ही करना भूल गई। इन तमाम वादों और दावों के बीच इंदौर में आज युवा बीते हफ्तेभर से भर्ती सत्याग्रह ( recruitment satyagraha ) कर रहे हैं। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या इन बेरोज़गारों से नौकरी को लेकर किया सरकारी वादा महज चुनावी नीति का हिस्सा भर थेए या फिर सरकार अपने ऐलान पर अमल ही करना भूल गई। सरकार की इस उदासीनता के खिलाफ बीते 21 सितंबर से ही राज्य के विभिन्न हिस्सों में सत्याग्रह आंदोलन कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि अभी इंदौर में अनिश्चितकालीन भर्ती सत्याग्रह चल रहा है। यदि सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है तो वे भोपाल तक पदयात्रा करेंगे और वहां पर भी अनिश्चितकालीन आंदोलन करेंगे।

4. गहलोत की होगी छुट्टी, सचिन को सीएम बनाने की कवायद पर फैसला 8 अक्टूबर के बाद

राजस्थान में जारी सियासी उथल-पुथल के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने साफ कर दिया है कि वह कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ेंगे। वहीं प्रदेश के अंदर विधायकों के इस्तीफे से उपजे विवाद के बाद अशोक गहलोत मुख्यमंत्री बने रहेंगे या सचिन पायलट को कमान मिलेगी या नहीं, का फैसला पार्टी आलाकमान 8 अक्टूबर के बाद लेगी। साथ ही ये भी साफ हो गया है कि राजस्थान में सीएम पद के लिए कोई तीसरा चेहरा पार्टी की ओर से नहीं होगा।ै गुरुवार देर शाम सचिन पायलट ने भी सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद पायलट ने बताया था कि मैंने सोनिया गांधी से बात की है। कई मुद्दों पर उनसे चर्चा हुई है।

5. मोदी से नाराज सत्यपाल मलिक RLD का थाम सकते हैं दामन

पीएम मोदी से नाराज चल रहे मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ( Satyapal Malik ) रिटायरमेंट के बाद राष्ट्रीय लोक दल में शामिल हो सकते हैं। इस तरह की खबरें बीते कुछ दिनों से लगातार सामने आ रही हैं। साथ ही सत्यपाल मलिक के चुनाव लड़ने की बात भी की जा रही हैं। राज्यपाल मलिक ने आरएलडी ज्वाइन करने को लेकर कहा कि सभी लोग गलत चीजों को फैला रहे हैं। मेरा पहले दिन से कहना है कि मैं रिटायरमेंट के बाद कोई पार्टी ज्वाइन नहीं करूंगा। मैं कोई चुनाव नहीं लड़ूंगा। मेरी तीन मीटिंग अगले हफ्ते होनी है। ये मीटिंग अलीगढ़, बुलंदशहर और शामली में है। सपा और आरएलडी के साथ मंच साझा करने को लेकर मलिक ने कहा कि वह किसानों का सम्मेलन है।

6. गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स से पीछे हटने को Chini सेना ने बताया शांति को बढ़ावा देना वाला कदम, दोनों देश मिलकर करेंगे काम

पैंगोंग झील क्षेत्र में हिंसक झड़प के बाद पांच मई 2020 को पूर्वी लद्दाख में सीमा गतिरोध शुरू हो गया था। दोनों पक्षों ने धीरे-धीरे हजारों सैनिकों के साथ-साथ भारी अस्त्र-शस्त्र भी तैनात कर दिए थे। चीन ( China News ) सेना ने पूर्वी लद्दाख में गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स के पेट्रोलिंग प्वाइंट 15 से भारतीय सेना और खुद को पीछे हटने वाले फैसले को शांति को बढ़ावा देने वाला कदम बताया है। चीनी सेना ने आगे कहा कि चीन-भारत कोर कमांडर स्तरीय बैठक के 16वें दौर में बनी सहमति के अनुसार जियानन डाबन क्षेत्र में सीमा पर तैनात दोनों सेनाओं के सैनिकों ने हाल में योजनाबद्ध तरीके से एक साथ पीछे हटना शुरू किया। चीनी सेना गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स क्षेत्र में पीपी 15 को जियान डाबन कहती है।

7. चिकित्सा प्राप्त करना मौलिक अधिकार, गौतम नवलखा को अस्पताल में कराएं भर्ती : Supreme Court

सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) ने गुरूवार को एल्गार परिषद-माओवादी लिंक मामले में जेल में बंद गौतम नवलखा को इलाज के लिए मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती होने की इजाजत दे दी है। नवलखा ने पेट में कैंसर के इलाज के लिए अच्छे अस्पताल में भर्ती करने की गुहार लगाई थी। जस्टिस केएम जोसेफ और हृषिकेश रॉय की पीठ ने कहा कि चिकित्सा उपचार प्राप्त करना एक मौलिक अधिकार है। यह बिना भेदभाव के सबको मिलना चाहिए। हम निर्देश देते हैं कि याचिकाकर्ता को तत्काल चिकित्सा जांच के लिए ले जाया जाए। कोर्ट ने नवलखा के साथी सहबा हुसैन और बहन को अस्पताल में उनसे मिलने की अनुमति दी है। कोर्ट ने कहा कि हम स्पष्ट करते हैं कि याचिकाकर्ता पुलिस हिरासत में ही रहेगा।

8. सरकार का बड़ा एक्शन - IT नियमों के उल्लंघन के आरोप में 67 पोर्न वेबसाइट बैन

केंद्र सरकार ने इंटरनेट सेवा प्रदाता कंपनियों को 2021 में जारी नए सूचना प्रौद्योगिकी नियमों के उल्लंघन के आरोप में 67 पोर्न वेबसाइट को ब्लॉक करने का आदेश दिया है। इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को भेजे गए एक ईमेल में दूरसंचार विभाग ने कंपनियों से पुणे की एक अदालत के आदेश के आधार पर 63 वेबसाइटए जबकि उत्तराखंड उच्च न्यायालय के आदेश तथा इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा जारी निर्देशों के आधार पर चार वेबसाइट को ब्लॉक करने के लिए कहा है।

9. CBI की विशेष अदालत ने व्यापम घोटाले में 5 आरोपियों को सुनाई 7 साल की सजा

भोपाल की विशेष सीबीआई अदालत ने गुरुवार को व्यापमं घोटाले में पांच लोगों को सात साल की सजा सुनाई है। अदालत ने प्रत्येक पर 10,000 रुपए का जुर्माना भी लगाया है। जबकि उनके दो सह-आरोपियों को ठोस सबूत के अभाव में बरी कर दिया गया था।

10. यू-ट्यूबर Boby Kataria को कोर्ट से मिली जमानत, इस मामले में हुआ था गिरफ्तार



प्लेन में सिगरेट पीने के मामले में यू.ट्यूबर बॉबी कटारिया ( Boby Kataria ) को कोर्ट से जमानत मिल गई है। पुलिस ने 27 सितंबर को उसे अरेस्ट करके कोर्ट में पेश किया था। जिसके बाद उसे एक दिन के लिए जेल भेज दिया गया था। दरअसल प्लेन में सिगरेट पीने के आरोप में मुकदमा दर्ज होने के बाद से पुलिस आरोपी बॉबी कटारियाकी तलाश कर रही थी। बॉबी कटारिया काफी दिनों तक पुलिस के हाथ नहीं आया और गच्चा देता रहा। बाद में कोर्ट ने बॉबी कटारिया को दिल्ली पुलिस के सामने इन्वेस्टिगेशन जॉइन करने या एकतरफा कार्रवाई की चेतावनी दी जिसके बाद बॉबी कटारिया 27 सितंबर को पुलिस के सामने पेश हुआ। पुलिस ने उसे कोर्ट के सामने पेश किया। जहां से उसे एक दिन के लिए जेल भेज दिया गया।

Next Story

विविध