Up Election 2022

UP Election 2022: बलिया में 10 जूते मारकर एक गिनने वाली BJP उम्मीदवार केतकी सिंह का Video हो रहा Viral

Janjwar Desk
3 March 2022 12:38 PM GMT
upchunav2022
x

(10 जूते मारकर एक गिनने वाली बीजेपी प्रत्याशी केतकी सिंह) 

UP Election 2022: इस दौरान केतकी सिंह ने एक सपा कार्यकर्ता का कॉलर पकड़ लिया। उनके कॉलर पकड़ते ही बीजेपी और सपा के कार्यकर्ताओं ने बवाल शुरू कर दिया और मारपीट शुरू हो गई...

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आज छठवें चरण का मतदान हुआ है। इस दौरान बलिया की बांसडीह सीट से भारतीय जनता पार्टी (BJP) उम्मीदवार केतकी सिंह का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में वह समाजवादी पार्टी (SP) कार्यकर्ताओं को धमकाते हुए जूते मारने की बात कहते दिखाई दे रही हैं।

भाजपा प्रत्याशी कहती हैं कि, '10 जूते मारूंगी..और एक गिनूंगी..क्या समझते हो आगे पीछे कोई है नहीं।' इस दौरान वायरल वीडियो में ही दोनो पक्षों के समर्थक आपस में गुत्थमगुत्था करने लगते हैं। गौरतलब है कि बलिया की इस बांसडीह सीट से आजादी के बाद आज तक कभी बीजेपी का उम्मीदवार जीत नहीं सका है।

फिलहाल, बीजेपी प्रत्याशी केतकी सिंह का यह वीडियो समाजवादी पार्टी ने अपने ट्विटर हैंडल से शेयर करते हुए लिखा है- 'बलिया जिले की बांसडीह विधानसभा से बीजेपी प्रत्याशी अपने समर्थकों के साथ अभद्रता करते हुए धमकी दे रही हैं, जिला प्रशासन और चुनाव आयोग तत्काल संज्ञान लेते हुए भयमुक्त और निष्पक्ष मतदान कराने की कृपा करे।'

बताया जा रहा है कि बलिया की बांसडीह विधानसभा क्षेत्र के असेगा मंदिर के पास बीजेपी की महिला प्रत्याशी केतकी सिंह की मौजूदगी में बीजेपी और सपा समर्थकों के बीच जमकर झड़प हुई। इस दौरान केतकी सिंह ने सपा कार्यकर्ताओं से कहा, 'क्या समझते हो अकेली हूं कोई आगे पीछे नहीं है, 10 जूते मारूंगी और गिनूंगी एक।'

इसके बाद बीजेपी प्रत्याशी केतकी सिंह और सपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प शुरू हो गई। इस दौरान केतकी सिंह ने एक सपा कार्यकर्ता का कॉलर पकड़ लिया। उनके कॉलर पकड़ते ही बीजेपी और सपा के कार्यकर्ताओं ने बवाल शुरू कर दिया और मारपीट शुरू हो गई। इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो वायरल हो रहा है।

वीडियो वायरल होने के बाद केतकी सिंह

इस हंगामें के बाद केतकी सिंह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर और सामने आया है जिसमें वह अपनी सफाई देती नजर आ रही हैं। जाहिर सी बात है कि जब उन्हें पता चला होगा की महिला होते हुए भी लोग उन्हें लेडी गुंडी जैसी संज्ञा दे सकते हैं..जिसके बाद हो सकता है, सफाई दी गई हो।

Next Story

विविध