Up Election 2022

UP Election 2022: गिनती से पहले गाड़ियों में EVM मूव कराने के आरोपों पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने दिया जवाब

Janjwar Desk
9 March 2022 3:22 AM GMT
upchunav2022
x

(वाराणसी समेत कई जनपदों में ईवीएम मूव कराने का आरोप)

कुछ मीडिया चैनलों द्वारा यह संज्ञान में लाया गया है कि वाराणसी में 08 मार्च को कुछ इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें गाड़ी में ले जायी जा रही थीं, जिन पर वहां उपस्थित राजनीतिक प्रतिनिधियों द्वारा आपत्ति की गयी थी...

UP Election 2022: सोमवार सात मार्च को यूपी विधानसभा चुनाव का अंतिम चरण समाप्त हो चुका है। शाम से ही एग्जिट पोल (Exit Polls) दिखाए जाने लगे। लेकिन इस वक्त प्रदेश में सबसे अधिक विवाद की जो जड़ है वह ईवीएम मशीनों को लेकर चल रहा है। बनारस, कानपुर, सोनभद्र से लेकर कानपुर देहात तक इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों को लेकर सवाल उठ रहे हैं।

10 मार्च गुरूवार को वोटों की गिनती होगी। राजनीतिक दलों ने ईवीएम (EVM) को लेकर आरोप लगाया था कि यह गाड़ी में कहीं ले जायी जा रही थीं। इसके बाद से यह मामला तूल पकड़ लिया है। अब इस मामले पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि कुछ मीडिया चैनलों द्वारा यह संज्ञान में लाया गया है कि वाराणसी में 08 मार्च को कुछ इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें गाड़ी में ले जायी जा रही थीं, जिन पर वहां उपस्थित राजनीतिक प्रतिनिधियों द्वारा आपत्ति की गयी थी।

इस मामले पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने जांच की। जांच के दौरान यह पता चला कि मतगणना अधिकारियों के प्रशिक्षण के लिए ईवीएम चिन्हित थीं। जिले में मतगणना अधिकारियों के प्रशिक्षण के लिए कल 09 मार्च, 2022 को प्रशिक्षण आयोजित किया गया है, जिसके लिए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें (EVM) मंडी में स्थित अलग खाद्य गोदाम में बने स्टोरेज से यूपी कॉलेज स्थित प्रशिक्षण स्थल ले लायी जा रही थीं।

वाराणसी में हंगामें की एक तस्वीर

मतदान में प्रयुक्त सभी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें स्ट्रांग रूम के अंदर सील बंद हैं तथा केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों के त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरे में सुरक्षित हैं। ये मशीन पूरी तरह से अलग हैं और सुरक्षित हैं और उसमें सीसीटीवी की निगरानी है। सभी राजनैतिक दलों-प्रत्याशियों के प्रतिनिधियों द्वारा सीसीटीवी कवरेज के माध्यम से इन पर लगातार सीधी निगरानी की जा रही है।

जिला निर्वाचन अधिकारी-जिला मजिस्ट्रेट वाराणसी द्वारा राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को भी इसके संबंध में जानकारी दी गई और घटना से संबंधित तथ्यों से उपस्थित मीडिया को भी अवगत कराया गया है। बता दें कि समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) ने कल मंगलवार आरोप लगाया था कि वाराणसी में मतगणना केंद्रों से इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (EVM) को ले जाया जा रहा है। वहीं सोनभद्र में भी सपा कार्यकर्ताओं ने पकड़ी मतपत्र लदी दो सरकारी गाड़ी को पकड़ा था। साथ ही इसकी जानकारी अधिकारियों को भी दी थी।

Next Story

विविध