Up Election 2022

कम हुई है बड़े चैनलों की credibility, जो स्वतंत्र हैं, यूट्यूबर्स हैं वही सच्चाई को जिंदा रखे हुए हैं- अखिलेश यादव

Janjwar Desk
24 Feb 2022 7:57 AM GMT
upchunav2022
x

(अखिलेश ने स्वतंत्र पत्रकारिता को टीवी मीडिया की अपेक्षा अधिक भरोसेमंद बताया)

सही मायनों में यह लोग सरकार की जो कमियां हैं, जनता क्या कह रही, वह क्या चाहती है, सरकार को क्या संदेश देना चाहती है स्वतंत्र पत्रकार बखूबी उस चीज को दिखा रहे हैं...

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर चार चरणों की वोटिंग समाप्त हो चुकी है। पांचवें चरण की तैयारियां जोर-शोर से चल रहीं। सभी पार्टियां कड़ी मेहनत कर रहीं। इस बीच समाजवादी पार्टी के मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh yadav) ने एक स्वतंत्र पत्रकार से बात करते हुए बड़ी बात कह दी है।

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने बड़े चैनलों पर लोगों की घट रही विश्वसनियता पर बात करते हुए कहा कि इस वक्त जो स्वतंत्र पत्रकार है, यूट्यूबर हैं, जो खुद से खबर बनाकर खुद चला रहे हैं उनमें ही सच्चाई जिंदा बची हुई है। अखिलेश ने कहा यह लोग जनता के बीच पहुँचकर असलियत निकालकर सामने लाते हैं।

उन्होने कहा कि सही मायनों में यह लोग सरकार की जो कमियां हैं, जनता क्या कह रही, वह क्या चाहती है, सरकार को क्या संदेश देना चाहती है स्वतंत्र पत्रकार बखूबी उस चीज को दिखा रहे हैं। चुनावी सभा के बीच अखिलेश यादव द्वारा यह बात कहने पर वहां मौजूद स्वतंत्र पत्रकार ने तहेदिल से उनका शुक्रिया अदा करते हुए बात करने पर आभार भी प्रकट किया।

बताते चलें कि बीते दिनों तमाम बार दर्शकों के सामने अखिलेश यादव का वो रूप भी सामने आया जिसमें उनने कथित गोदी मीडिया व स्टार एंकरों को इमानदार कहकर संबोधित किया था। अखिलेश की इस इमानदारी वाली बात में कहीं ना कहीं कटाक्ष था, जिसके लिए गोदी मीडिया समय दर समय हकदार बनती रही है।

वरिष्ठ पत्रकार विनोद कापड़ी ने अखिलेश के इस बयान पर लिखा है, 'ये राहुल है। पहले एक टीवी चैनल में था। अब स्वतंत्र पत्रकार। ये देखना सुखद है कि राजनेता अब स्वतंत्र पत्रकारों का महत्व समझने लगे हैं और बिना तामझाम/बिना बड़े ब्रांड वाले युवा पत्रकारों से भी बात करने लगे हैं। आज से दो-चार साल पहले ये सब कल्पना से परे था।'

Next Story

विविध