Up Election 2022

Pilibhit News: पीलीभीत में समाजवादी पार्टी पर बरसे राजनाथ सिंह, अखिलेश यादव की पार्टी पर लगाया ये बड़ा आरोप

Janjwar Desk
2 Feb 2022 4:58 PM GMT
(पीलीभीत के श्री अग्रवाल सभा भवन में आयोजित भाजपा के कार्यक्रम को संबोधित करते केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।)
x

(पीलीभीत के श्री अग्रवाल सभा भवन में आयोजित भाजपा के कार्यक्रम को संबोधित करते केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह।)

Pilibhit News: पीलीभीत में केंद्रीय रक्षा मंत्री (Central Defence Minister) एवं भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक राजनाथ सिंह (Raj Nath Singh) ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) की उत्तर प्रदेश में नैया डूब रही है।

पीलीभीत से निर्मल कांत शुक्ल की रिपोर्ट

Pilibhit News: पीलीभीत में केंद्रीय रक्षा मंत्री (Central Defence Minister) एवं भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक राजनाथ सिंह (Raj Nath Singh) ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) की उत्तर प्रदेश में नैया डूब रही है। चुनाव में अब डूबते को तिनके का सहारा है। जब कोई सहारा नहीं तो लाल पोटली का सहारा लिया है मगर लाल पोटली भी समाजवादी पार्टी को संभाल नहीं सकती है।

श्री सिंह बुधवार को शहर में जनपद के चारों विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशियों के चुनावी जनसंपर्क अभियान के तहत श्री अग्रवाल सभा भवन में आयोजित संवाद कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जब-जब उत्तर प्रदेश के अंदर समाजवादी पार्टी की सरकार आई है। गुंडागर्दी बढ़ी है अराजकता बढ़ी है। दंगे हुए हैं। जात-पात और हिंदू मुसलमान के नाम पर लोगों को लड़ाया गया है। श्री सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में अब समाजवादी पार्टी जा रही है। इस चुनाव में समझो चली गई।

भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस पर हमला करते हुए केंद्रीय रक्षा मंत्री ने कहा कि जब-जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार आई, सरकार पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे। कांग्रेस के मंत्रियों को जेल की हवा खानी पड़ी। उत्तर प्रदेश के चुनाव में जनपद पीलीभीत की चारों विधानसभा सीटों का जिक्र करते हुए श्री सिंह ने कहा कि उनके सभी प्रत्याशी अपने में अलग-अलग विशेषताएं रखते हैं। भारतीय जनता पार्टी समाज और देश को बनाने के लिए राजनीति करती है।

भाजपा के स्टार प्रचारक ने चुनौती भरे लहजे में कहा कि केंद्र में मोदी जी की सरकार हो या उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार। कोई मां का लाल उंगली उठाकर नहीं कह सकता है कि किसी भी मंत्री के दामन पर भ्रष्टाचार का दाग हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार मिटाने को बहुत से सुधारात्मक कदम उठाए हैं। केंद्रीय रक्षा मंत्री ने ताल ठोक कर मतदाताओं को विश्वास दिलाया कि जिस दिन भारतीय जनता पार्टी के किसी विधायक के दामन के ऊपर भ्रष्टाचार के दाग नहीं, भ्रष्टाचार का छींटा तक नजर आएगा, उस दिन भारतीय जनता पार्टी उस विधायक को पार्टी से निकाल बाहर करेगी।

सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जमकर तारीफ की। कहा कि विकास के मामले में उत्तर प्रदेश में करिश्माई काम हुआ है। उदाहरण देते हुए बोले- जेवर एयरपोर्ट के निर्माण के बारे में तो सभी ने सुना होगा। अब दुनिया भर के हवाई जहाजों की मेंटेनेंस व सर्विस यदि कहीं होगी तो वह उत्तर प्रदेश के जेवर एयरपोर्ट पर होगी। वहां बड़ी-बड़ी इंडस्ट्रियां लगेगी। होटल बनेंगे। 60,000 लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

भाजपा के स्टार प्रचारक ने बार-बार भ्रष्टाचार का जिक्र करते हुए कहा कि जब राजीव गांधी देश के प्रधानमंत्री थे तो उन्होंने खुद एक सभा में यह स्वीकार किया कि वह दिल्ली से 100 पैसे भेजते हैं, तो धरातल पर आते-आते 15 पैसे ही आम जनता तक पहुंच पाते हैं। 85 पैसे भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाते हैं। उन्होंने जनता से सवाल किया कि आज मोदी सरकार में किसान सम्मान निधि के 6000 रुपए दिल्ली से डाले जाते हैं तो वह पूरे 6000 किसान के खाते में आते हैं या नहीं ? केंद्रीय रक्षा मंत्री प्रधानमंत्री आवास योजना, आयुष्मान योजना, उज्जवला योजना, शौचालय योजना के जरिए आम आदमी के जीवन स्तर में सुधार किए जाने का जिक्र करना भी नहीं भूले। श्री सिंह ने चारों प्रत्याशियों को भारी बहुमत से जिताने की अपील की।

तराई के सिखों को साधने की कोशिश

चुनावी माहौल को बनाते हुए राजनाथ सिंह तराई के सिखों को भी यह कहकर साध गए कि सिखों का इतिहास ही बलिदान कर रहा है। सिख भाइयों के योगदान को पूरा देश भूल नहीं सकता। भारत की संस्कृति की रक्षा करने में अपना शीश कटाने का कार्य यदि किसी ने किया है तो हमारे सिख भाइयों ने किया है। उन्होंने महाराजा रणजीत सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि जहां एक और महाराजा ने स्वर्ण मंदिर में सोने का छत्र लगवाया, वही काशी विश्वनाथ के मंदिर में भी सोने का छत्र लगवाया। मगर कुछ लोग हमसे सिख समाज की दूरियां कराना चाहते हैं।

पैदल घूमकर किया जनसंपर्क

कार्यक्रम के बाद केंद्रीय रक्षा मंत्री कड़े सुरक्षा घेरे के बीच चूड़ी वाली गली से होकर स्टेशन रोड पर हजारों समर्थकों के काफिले के साथ मतदाताओं से सहयोग की अपील करते हुए निकले। उनका कई जहां पर पुष्प वर्षा करके स्वागत किया गया।



दिन भर हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे दुकानदार

भाजपा के स्टार प्रचारक राजनाथ सिंह की सुरक्षा के नाम पर मुख्य स्टेशन रोड पर सुबह 10:30 बजे से लेकर शाम चार बजे उनके जाने तक सुनगढ़ी थाने से लेकर ड्रमंड गंज चौराहे तक और पूरी लाल रोड पर छोटी-छोटी गलियों के तक में सीमा सुरक्षा बल के जवानों का पहरा गलियों के मुहाने तक पर बिठा दिया गया। परिवार के साथ स्कूटी-मोटरसाइकिलों से जा रहे लोगों को भी स्टेशन रोड पर नहीं घुसने दिया। हालांकि बाजार रोजाना की तरह खुला मगर दुकानदार पब्लिक की सड़क पर एंट्री ना होने के कारण ग्राहकों के इंतजार में हाथ पर हाथ धरे बैठे भाजपा को कोसते देखे गए।

कोविड-19 के निर्देशों का भी उल्लंघन

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के कार्यक्रम में ना तो दो गज की दूरी और ना ही लोगों के लिए मास्क था जरूरी। यह नजारा तो अग्रवाल सभा में आयोजित सार्वजनिक सभा का था। इसके बाद जब राजनाथ सिंह स्टेशन रोड पर मतदाताओं से संवाद करने के लिए निकले तो उनके पीछे-पीछे हजारों कार्यकर्ताओं का हुजूम एक दूसरे से सटकर चल रहा था।

खूब उड़ीं आचार संहिता की धज्जियां

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के कार्यक्रम को लेकर भाजपा ने जमकर आदर्श चुनाव आचार संहिता की धज्जियां उड़ाई। प्रशासन सिर्फ मूकदर्शक बना रहा। सुबह 9 बजे ही सुनगढ़ी थाने के पास से लेकर पूरे स्टेशन रोड पर बाजार खुलने से पहले ही इक्का-दक्का दुकानों को छोड़कर लगभग सभी दुकानों पर बड़े-बड़े बिना दुकानदारों की सहमति के भाजपा के बड़े-बड़े झंडे लगा दिए गए। बिजली विभाग और भारत संचार निगम के खंभों और पोलों पर भी भाजपा के झंडे लगा दिए गए। इतना ही नहीं भाजपा के लोगों ने केसरिया रंग के ओम और जय श्री राम लिखे हुए धार्मिक झंडे भी तमाम दुकानों और पोलों पर लगाकर जमकर आचार संहिता की धज्जियां उड़ाईं। एक नहीं बल्कि बड़ी तादाद एक-एक मीटर का भाजपा का झंडा लगाए चार पहिया वाहन पूरे शहर में सरपट दौड़ते रहे, जब चुनाव के मद्देनजर इन वाहनों की अनुमति के बाबत नगर मजिस्ट्रेट से जानकारी की गई तो वे बोले कि यह सब देखना रिटर्निंग ऑफिसर का काम है। हमारा इससे कोई ताल्लुक नहीं है।

खराब मौसम में नहीं उतरा राजनाथ का उड़न खटोला

केंद्रीय रक्षा मंत्री व भाजपा के स्टार प्रचारक राजनाथ सिंह को हेलीकॉप्टर से पुलिस लाइन के ग्राउंड पर उतरना था। नियत समय पर हेलीकॉप्टर आया भी लेकिन हेलीपैड से रंगीन धुआं उड़ा कर दिया गया सिग्नल पायलट को नजर नहीं आया तो राजनाथ का उड़न खटोला चक्कर काट कर वापस बरेली लौट गया। तब राजनाथ सिंह को बरेली से कार से सड़क मार्ग से आना पड़ा।

Next Story

विविध