Up Election 2022

Kanpur News: सपा नेत्री रचना सिंह के 'भून डालो-काट डालो' वाले ट्वीट पर हंगामा, BJP प्रवक्ता ने दर्ज कराई शिकायत

Janjwar Desk
17 Jan 2022 3:28 AM GMT
upchunav2022
x

(विवादित ट्वीट को लेकर आमने सामने पूनावाला और रचना सिंह)

Kanpur News: भाजपा ने वीडियो के कुछ अंश निकालकर छेड़छाड़ करते हुए ये बखेड़ा खड़ा किया है। सपा नेत्री का कहना है कि पुलिस को इस विषय में पूरी जानकारी दी है...

Kanpur News: खुद के लिए सालों से नेतानगरी की जमीन तलाश रहीं सपा नेत्री रचना सिंह विवादों में घिरती दिख रहीं। उनके भड़काऊ चुनाव प्रचार पर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने चुनाव आयोग और यूपी पुलिस से शिकायत दर्ज कराई है। वहीं दूसरी तरफ शिकायत होने के बाद रचना सिंह ने विवादित ट्वीट डिलीट कर दिया है।

रविवार को बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने उनके ट्वीट पर कड़ी आलोचना व्यक्त की है। साथ ही उन्होने चुनाव आयोग से इसपर आपत्ति जताई है। हालांकि सपा नेत्री ने अपनी सफाई में कहा है कि उन्होने जो वीडियो ट्वीट किया है उसमें देशभक्ति गीत चल रहा है। भाजपा ने वीडियो के कुछ अंश निकालकर छेड़छाड़ करते हुए ये बखेड़ा खड़ा किया है। सपा नेत्री का कहना है कि पुलिस को इस विषय में पूरी जानकारी दी है।

रचना सिंह के ट्वीट पर पूनावाला कि शिकायत

वहीं दूसरी तरफ बीजेपी कानपुर ग्रामीण जिलाध्यक्ष कृष्ण मुरारी शुक्ला समाजवादी पार्टी की सरकार अभी बनी नहीं है..लेकिन उससे पहले ही इनके पदाधिकारी व समर्थक धमकी देने लगे हैं। इन लोगों को ज्यादा भाव न देकर मुझे अपना समय खराब नहीं करना है।

क्या है मामला?

रचना सिंह ने जो वीडियो ट्वीट किया था, उसके बैकग्राउण्ड में गाना बज रहा है। 'रूकना कभी सीखा नहीं, झुकना कभी सीखा नहीं, बढ़ते रहेंगे अपने कदम, हिम्मत है जो रोक ले, धमकी से हम डरते नहीं, अपना लहू यह कहता है कि हम वीर हैं मरते नहीं...भून डालो दुश्मनों को...काट डालो दुश्मनों को।' रचना ने यह लिखकर ट्वीट किया था जो अब उनके लिए मुश्किलें खड़ी करने जैसा सबब बनता दिख रहा।

कौन हैं रचना सिंह?

समाजवादी पार्टी में प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य की सदस्य रचना सिंह बिल्हौर विधानसभा क्षेत्र की रहने वाली हैं। वह लगातार अपने क्षेत्र में सुरखियों में रहता हैं। सीएए प्रोटेस्ट से लेकर कल्याणपुर में दस्वीं मंजिल से युवती को फेंक देने की घटना तक वह सक्रिय रहती आईं हैं। उनके जनाधार की अगर बात करें तो अभी फिलहाल वह मेहनत कर रही हैं।

इनपुट : रिजवान कुरैशी, बिल्हौर

Next Story

विविध