Up Election 2022

UP Election 2022: सपा से नाउम्मीदी के बाद हाथी की सवारी कर सकते हैं इमरान और मसूद अख्तर

Janjwar Desk
17 Jan 2022 4:52 AM GMT
upchunav2022
x

(हाथी की सवारी कर सकते हैं इमरान मसूद)

UP Election 2022: चर्चा है कि इमरान मसूद और विधायक मसूद अख्तर बसपा का दामन थाम सकते हैं। उनके निकटवर्ती सूत्र भी यही संकेत दे रहे हैं कि बसपा से तीन सीटों की बात चल रही है...

UP Election 2022: पश्चिमी यूपी में दलित-मुस्लिम कार्ड में सहारनपुर की फांस आ गई है। कांग्रेस छोड़कर सपा में गए इमरान मसूद (Imran Masood) और विधायक मसूद अख्तर (MLA Masood Akhtar) के सामने सियासी उहापोह वाली स्थिति खड़ी हो गई है। उन्हें सपा का टिकट मिलता नहीं दिख रहा है तो वहीं भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर की भी सपा से बात परवान नहीं चढ़ पाई है। सपा गठबंधन के रुख से दलित-मुस्लिम कार्ड को झटका लगना तय माना जा रहा है।

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव रहे इमरान मसूद और सहारनपुर देहात सीट से कांग्रेस के सिटिंग विधायक मसूद अख्तर ने बीती दस जनवरी को कांग्रेस छोड़ सपा ज्वाइन करने का ऐलान किया था। चर्चा थी कि इमरान मसूद बेहट और मसूद अख्तर को सहारनपुर देहात से टिकट मिल सकता है। लेकिन पांच दिन बाद ही इमरान मसूद और विधायक मसूद अख्तर का सपा से मोह भंग होता दिखाई दे रहा है।

मसूद ने बताया अपना दर्द

विधायक मसूद अख्तर ने वीडियो वायरल करते हुए बताया कि बीते दिनों लखनऊ में वह और इमरान मसूद सपा मुखिया अखिलेश यादव से मिले थे। उन्होंने पार्टी में पूरा सम्मान देने का भरोसा दिलाया था। शनिवार को दोपहर अखिलेश यादव ने बातचीत के लिए बुलाया था। उसके बाद शाम का समय तय कर दिया। लेकिन फिर भी बुलावा नहीं आया। इंतजार के बाद शाम को जब वह सपा आफिस गए तो पता चला कि बेहट और नकुड़ से टिकट तय कर दिए गए हैं। दुखी अंदाज में उन्होंने जनता से अपील की कि वह विधायक रहे या नहीं रहें, लेकिन खून के आखिरी कतरे तक आपकी सेवा करते रहेंगे। उधर इमरान मसूद से दो बार बात करने की कोशिश की गई तो उनके मोबाइल स्विच आफ मिले।

सपा मुखिया से चल रही बात- धर्म सिंह सैनी

भाजपा छोड़ सपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री धर्म सिंह सैनी का दावा है कि इमरान मसूद के मुद्दे को लेकर सपा मुखिया अखिलेश यादव से बात चल रही हैं। उनके सपा छोड़ने की बात कोरी अफवाह है। उधर सपा जिलाध्यक्ष चौधरी रुद्रसेन भी लखनऊ जा रहे हैं। वह इमरान मसूद के मुद्दे पर सपा मुखिया से बात करेंगे।

बसपा में जाने की चर्चा

यदि सपा से बात नहीं बनी, तो क्या होगा? चर्चा है कि इमरान मसूद और विधायक मसूद अख्तर बसपा का दामन थाम सकते हैं। उनके निकटवर्ती सूत्र भी यही संकेत दे रहे हैं कि बसपा से तीन सीटों की बात चल रही है। आधिकारिक रूप से मसूद इस पर चुप हैं।

सहारनपुर दंगे का आरोपी सपा में शामिल

सहारनपुर दंगे के आरोपी को लखनऊ ले जाकर सपा में शामिल करा दिया गया। इसके बाद जिले में सियासी माहौल गर्म हो गया। सोशल मीडिया पर फोटो को जमकर वायरल किया जा रहा है। उधर, सपा नेता भी इस पर सवाल उठा रहे हैं। बीते दिन लखनऊ में मोहर्रम अली पप्पू को सपा की सदस्यता दिलाई गई। कहा जा रहा है कि उन्हें सपा में शामिल कराने में नगर विधायक संजय गर्ग ने अहम भूमिका निभाई। उधर, रविवार को नगर विधायक संजय गर्ग के साथ सदस्यता ग्रहण करते हुए मोहर्रम अली पप्पू का फोटो वायरल हुआ तो सहारनपुर की सियासत में खलबली मच गई।

अखिलेश कहें तो दूंगा समर्थन- चंद्रशेखर रावण

भीम आर्मी प्रमुख व आजाद समाज पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि एक बार सपा मुखिया अखिलेश यादव छोटा भाई कह दें तो बिना शर्त सपा को समर्थन दे दूंगा। अगर उनका गठबंधन सपा से नहीं हुआ तो सपा को काफी नुकसान होगा। इसलिए अखिलेश यादव को विचार करने के लिए सोमवार सुबह 11 बजे तक का समय दिया है। वही पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि वो गठबंधन को लेकर अखिलेश यादव से समय लेकर बात करेंगे। शनिवार को आजाद समाज पार्टी के सपा के साथ गठबंधन की अटकलों पर चंद्रशेखर ने विराम लगा दिया था।

Next Story

विविध