Up Election 2022

UP Chunav 2022 : साइकिल में लगी चाचा की चाबी, अखिलेश के साथ मिलकर रण में उतरेंगे शिवपाल

Janjwar Desk
16 Dec 2021 11:37 AM GMT
UP Chunav 2022 : साइकिल में लगी चाचा की चाबी, अखिलेश के साथ मिलकर रण में उतरेंगे शिवपाल
x

(अखिलेश यादव और शिवपाल यादव। फोटो : ट्विटर/अखिलेश यादव)

UP Chunav 2022 : लंबी चली बातचीत में यह तय हुआ कि 2022 चुनाव में साइकिल में शिवपाल यादव अपनी चाबी लगाने को तैयार हो गए हैं....

UP Chunav 2022 : उत्तर प्रदेश की राजधानी में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) की मुलाकात का जितनी उत्सुकता से कार्यकर्ता इंतजार कर रहे थे उतनी ही बेसब्री मीडिया में भी नजर आ रही थी। लगभग एक घंटे की चली मुलाकात के बाद नतीजा जो निकलकर आया वह यूपी 2022 में भाजपा की मुश्किलें और भी बढ़ा सकता है। लंबी चली बातचीत में यह तय हुआ कि 2022 चुनाव में साइकिल में शिवपाल यादव अपनी चाबी लगाने को तैयार हो गए हैं।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुलाकात के बाद अपने ट्वीट में लिखा, 'प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जी से मुलाक़ात हुई और गठबंधन की बात तय हुई। क्षेत्रीय दलों को साथ लेने की नीति सपा को निरंतर मजबूत कर रही है और सपा और अन्य सहयोगियों को ऐतिहासिक जीत की ओर ले जा रही है।'

इससे पहले 11 नवम्बर को सपा में विलय को लेकर शिवपाल यादव ने कहा था कि, भाजपा को हटाने के लिए हम किसी भी तरह के त्याग के लिए तैयार हैं। और अगर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव हमारे जीतने वाले उम्मीदवारों को टिकट दे दें तो हम अपनी पार्टी का सपा में बिना शर्त विलय भी कर देंगे।

गौरतलब है कि शिवपाल सपा मुखिया अखिलेश यादव के पास पहले भी कई बार पैगाम पहुंचा कर गठबंधन की पेशकश कर चुके हैं। हालांकि सपा की तरफ से अभी इस बारे में कोई स्पष्ट बात नहीं कही गई है।

अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने की मांग

शिवपाल ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव से पहले भाजपा ने जो भी वादा किया था उनमें से एक भी पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है और भाजपा राज में अपराध और भ्रष्टाचार अपने चरम पर है, उन्होंने लखीमपुर की घटना का ज़िक्र करते हुए कहा कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे किसानों के खिलाफ फायरिंग की गई। फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट में इसकी पुष्टि भी हो गई है कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष ने गोली चलाई। अब तो मिश्रा को बर्खास्त कर दिया जाना चाहिए।

Next Story

विविध