Up Election 2022

Uttarakhand Election 2022 : CEC के बैठक के बाद इन नामों की लिस्ट होगी जारी, दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं कांग्रेस के ये तीन नेता

Janjwar Desk
21 Jan 2022 10:39 AM GMT
Uttarakhand Election 2022 : CEC के बैठक के बाद इन नामों की लिस्ट होगी जारी, दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं कांग्रेस के ये तीन नेता
x

Uttarakhand Election 2022 : CEC के बैठक के बाद इन नामों की लिस्ट होगी जारी

Uttarakhand Election 2022 : दिल्ली में केंद्रीय चुनाव समिति (CEC) की बैठक के बाद देर सायं 45 से ज्यादा प्रत्याशियों की पहली सूची जारी की जाएगी, कांग्रेस की नजरें भाजपा की सूची पर टिकी हुई थीं....

Uttarakhand Election 2022 : विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सूची जारी होने और प्रदेश में आज से नामांकन प्रक्रिया शुरू से दबाव में आई कांग्रेस में हो रही टिकट की जद्दोजहद अंतिम चरण में पहुंच गई है। कुछ ही घण्टों बाद कांग्रेस (Congress) अपने प्रत्याशियों की घोषणा करने जा रही है।

भाजपा में टिकट बंटवारे के बाद चल रही बगावत से सबक सीखते हुए कांग्रेस (Congress) ने अपनी पार्टी की भावी बगावत रोकने के लिए सिपहसालारों को डेमेज कंट्रोल की जिम्मेदारी सौंप दी है। फिलहाल चुनाव समिति के प्रमुख हरीश रावत (Harish Rawat), प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल (Ganesh Godiyal) और नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह (Pritam Singh) को दिल्ली में ही रोका गया है।

दिल्ली में केंद्रीय चुनाव समिति (CEC) की बैठक के बाद देर सायं 45 से ज्यादा प्रत्याशियों की पहली सूची जारी की जाएगी। कांग्रेस की नजरें भाजपा की सूची पर टिकी हुई थीं। भाजपा की प्रत्याशियों पर स्थिति साफ होने के बाद कांग्रेस ने भी सीईसी की बैठक शुक्रवार शाम चार बजे बुलाई है। बैठक के बाद देर शाम तक प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी।

बैठक में भाग लेने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत (Harish Rawat), प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल और नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह को दिल्ली रोका गया है। प्रदेश के यह तीनों दिग्गज नेता नौ दिनों से दिल्ली में ही डेरा डाले हुए हैं। इसके अलावा भी तमाम नेता अपने टिकट की आस में दिल्ली डटे हुए हैं। प्रत्याशियों की सूची घोषित होने के बाद ही इन सबकी वापसी हो सकेगी। 40 से 45 टिकट सहमति से तय हो चुके हैं। 25 से 30 टिकट ही ऐसे हैं, जिनका पैनल सीईसी के पास है।

पैनल में किस खेमे से जुड़े किस दावेदार को टिकट मिलता है, इसका इंतजार किया जा रहा है।भाजपा के असंतुष्टों पर भी कांग्रेस की नजर है। जनाधार वाले ऐसे असंतुष्टों को टिकट देने पर यदि लाभ मिले तो कांग्रेस इस पर भी विचार कर रही है।

भाजपा की तरह कांग्रेस में भी दावेदारों की ज्यादा संख्या देखते हुए प्रत्याशी घोषित होने के बाद असंतोष सिर उठा सकता है। इसे देखते हुए पार्टी ने मुख्य चुनाव पर्यवेक्षक मोहन प्रकाश समेत वरिष्ठ नेताओं व अन्य पर्यवेक्षकों को असंतोष प्रबंधन के लिए सक्रिय रहने को कह दिया गया है। कुल मिलाकर आज की शाम ग़दर की शाम है।

Next Story

विविध