Up Election 2022

Uttarakhand Election 2022 : महिला प्रत्याशी से बोले छिछोरे, "ठण्ड हो रही है, कुछ व्यवस्था करा दो" !

Janjwar Desk
8 Feb 2022 11:38 AM GMT
Uttarakhand Election 2022 : महिला प्रत्याशी से बोले छिछोरे, ठण्ड हो रही है, कुछ व्यवस्था करा दो !
x

(उत्तराखंड चुनाव 2022 : निर्दलीय उम्मीदवार श्वेता मासीवाल)

Uttarakhand Election 2022 : श्वेता को सीधे फोन करके बीते दिवस कुछ युवकों ने "ठण्ड हो रही है, कुछ व्यवस्था करा दो" की मांग कर दी, पहली बार चुनावी समर में उतरी मौजूदा चुनावी प्रोटोकॉल से अनभिज्ञ श्वेता को पहले तो समझ नहीं आया कि यह किस व्यवस्था की बात कर रहे हैं....

Uttarakhand Election 2022 : विधानसभा चुनाव में कई रंग देखने को मिल रहे हैं। कुछ अच्छे तो कुछ खराब। प्रत्याशियों को भी चुनाव में खट्टे-मीठे अनुभवों से दो-चार होना पड़ रहा है। रामनगर विधानसभा क्षेत्र (Ramnagar Constituency) की एक मात्र महिला निर्दलीय प्रत्याशी के साथ भी कुछ ऐसा ही खट्टा अनुभव हुआ जब उन्हें सामान्य प्रत्याशी समझकर कुछ छिछोरे उनसे फोन पर शराब मांगने लगे। रामनगर विधानसभा में ग्यारह प्रत्याशी मैदान में हैं। इन्हीं में एक महिला निर्दलीय प्रत्याशी हैं, श्वेता मासीवाल।

श्वेता (Shweta Masiwal) की खासियत है कि उनका पूरा चुनाव उन मुद्दों पर आधारित है, जो अब भूले-बिसरे ज़माने की बात समझे जाते हैं। अधिकारों के साथ ही जनता की जिम्मेदारी, स्थानीय विधायक से आक्रामक शैली में जवाब मांगना, नशे के खिलाफ मुहिम, चिकित्सा जैसे मुद्दे पर बहस, रोजगार की संभावनाओं की तलाश जैसे मुद्दों को अपने एजेण्डे का केंद्र बनाए श्वेता के सामने चुनावी जीत से अधिक सोशल मुद्दों को चुनावी कैम्पेन का हिस्सा बनाना अहम है। श्वेता की चुनावी टीम में भी स्पोर्ट्स, कला, साहित्य, कानून, पत्रकारिता, शिक्षा जैसे प्रतिष्ठित क्षेत्रों से जुड़े कार्यकर्ताओं की भरमार है। जो श्वेता के मुद्दों को लोगों के बीच प्रभावशाली ढंग से रख रहे हैं।

इसी श्वेता को सीधे फोन करके बीते दिवस कुछ युवकों ने "ठण्ड हो रही है, कुछ व्यवस्था करा दो" की मांग कर दी। पहली बार चुनावी समर में उतरी मौजूदा चुनावी प्रोटोकॉल से अनभिज्ञ श्वेता को पहले तो समझ नहीं आया कि यह किस व्यवस्था की बात कर रहे हैं।

लेकिन जैसे सी उन्हें समझ आया कि यह उनसे शराब की आपूर्ति करने के लिए बोल रहे हैं तो आगबबूला श्वेता ने युवकों को खरी-खोटी सुनानी शुरू कर दी। लताड़ लगाते हुए श्वेता ने इन लोगों को शहर-समाज की बदहाली का जिम्मेदार बताते हुए इन्हें सुधरने की हिदायत दे डाली।

श्वेता ने इस मामले में दुबारा फोन करने पर पुलिस में शिकायत करने की धमकी दी तो फोन करने वाला युवक रिरियाने लगा। बाद में गुस्साई श्वेता ने इस बातचीत को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए कहा कि जो लोग समाज को नशे में डुबोना चाहते हैं, इन लोगों के कारण असामाजिक तत्वों के हौसले इतने बढ़ गए हैं कि वह महिला प्रत्याशी से भी पूरी बेशर्मी के साथ शराब मांगने पर उतारू हो रहे हैं।

Next Story

विविध