Up Election 2022

Uttarakhand Election 2022 : उत्तराखण्ड में कांग्रेस के लिए टिकट वितरण में ही होगी पहली अग्निपरीक्षा

Janjwar Desk
21 Dec 2021 2:09 PM GMT
Uttarakhand Election 2022 : उत्तराखण्ड में कांग्रेस के लिए टिकट वितरण में ही होगी पहली अग्निपरीक्षा
x

(उत्तराखंड चुनाव 2022 : स्क्रीनिंग कमेटी ने प्रत्याशियों के नामों की लिस्ट को किया फाइनल)

Uttarakhand Election 2022 : कुमाऊं के अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, चम्पावत और बागेश्वर जैसे चार पर्वतीय जनपदों की 14 सीटें ऐसी हैं, जिनके लिये तीन गुने से ज्यादा 47 कांग्रेसियों ने दावेदारी पेश की है...

सलीम मलिक की रिपोर्ट

Uttarakhand Election 2022 : आगामी विधानसभा चुनाव के लिए प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस (Congress) ने सत्ताधारी भाजपा (BJP) पर बढ़त बनाते हुए अपने प्रत्याशी चयन की पहली प्रक्रिया को पूरा कर लिया है। एआईसीसी (AICC) पर्यवेक्षकों की रायशुमारी के बाद मंगलवार शाम तक कुमाउं मण्डल (Kumaon Mandal) में पार्टी की स्क्रीनिंग कमेटी ने प्रत्याशियों के नामों की लिस्ट को फाइनल कर लिया है। अब इस लिस्ट को दिल्ली आलाकमान को भेजा जा रहा है। जहां से इन नामों में से ही प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की जाएगी। पार्टी के एक शीर्ष नेता का कहना है कि आधे से अधिक नामों की घोषणा एक सप्ताह में हो सकती है। पहले चरण में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ ही उन सीटों के टिकट के बारे में निर्णय होगा जहां एक-दो ही दावेदार हैं।

कुमाऊं के अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, चम्पावत और बागेश्वर जैसे चार पर्वतीय जनपदों की 14 सीटें ऐसी हैं, जिनके लिये तीन गुने से ज्यादा 47 कांग्रेसियों ने दावेदारी पेश की है। सबसे अधिक 7 दावेदार डीडीहाट सीट पर दिखाई दे रहे हैं। जबकि अल्मोड़ा सीट के लिए 6 दावेदार मैदान में हैं।

रानीखेत, जसपुर, जागेश्वर व द्वाराहाट सीट से सिर्फ एक ही दावेदार मैदान में हैं। जागेश्वर से गोविंद सिंह कुंजवाल, रानीखेत से करन माहरा, जसपुर से आदेश चौहान के अलावा किसी अन्य ने आवेदन नहीं किया। तीनों कांग्रेस के मौजूदा विधायक हैं। इसके अलावा द्वाराहाट सीट से पूर्व विधायक मदन बिष्ट ही एकमात्र दावेदार हैं। जिसका मतलब है कि पार्टी को इन चार जगहों पर टिकट फाइनल करने में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

इसके अलावा खटीमा से कार्यकारी अध्यक्ष भुवन कापड़ी के अलावा प्रकाश तिवारी ने टिकट मांगा है। भुवन ने पिछले चुनाव में मौजूदा सीएम पुष्कर सिंह धामी को कड़ी टक्कर दे चुके हैं। सोमेश्वर विधानसभा सुरक्षित सीट है जहां से पूर्व में प्रत्याशी रहे राजेंद्र बाराकोटी ने अपना आवेदन तो किया ही है राज्यसभा सदस्य प्रदीप टम्टा का आवेदन भी पार्टी को मिला है। दोनों जगहों पर राय-मशवरे के जरिये एक नाम फाइनल का प्रयास है।

अल्मोड़ा जिले की 6 सीटों के लिए 15, पिथौरागढ़ की 4 सीटों पर 13, बागेश्वर की 2 सीटों के लिए 8 और चम्पावत की भी 2 सीटों के लिए 10 कांग्रेसी मैदान में हैं।

स्क्रीनिंग कमेटी के अध्यक्ष अविनाश पांडे का कहना है कि जो आवेदन आए हैं। इन्हीं में से नाम हाईकमान को भेजे जाएंगे। निर्णय शीर्ष स्तर से ही होगा।

कांग्रेस से चुनाव लड़ने के इच्छुक इतने अधिक दावेदारों को नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह कांग्रेस के लिए अच्छा संकेत बता रहे हैं। बकौल प्रीतम "उत्तराखंड में कांग्रेस जीत की ओर है। इसी कारण पार्टी में टिकट चाहने वाले प्रत्याशियों की भरमार है।

टिकट के इतने दावेदारों के बीच पार्टी की लोकप्रियता से इतर एक कड़वी सच्चाई यह भी है कि 47 दावेदारों में से पार्टी सिम्बल पर सिर्फ 14 नेता ही चुनावी अखाड़े में कूद आ सकते हैं। शेष दावेदार या तो मन मानकर बैठ जाएंगे या फिर बगावत का रास्ता अख्तियार तो नहीं करेंगे। यदि बगावत हुई तो कांग्रेस के लिए चुनाव में एक मोर्चा और खुल जायेगा। जिससे पार पाना चुनौती भरा हो सकता है।

Next Story

विविध