वीडियो

#ArrestLucknowGirl : कैब ड्राइवर को पीटने वाली लड़की पर लखनऊ पुलिस को दर्ज करनी पड़ी FIR, सोशल मीडिया पर उठी थी मांग

Janjwar Desk
2 Aug 2021 5:18 PM GMT
#ArrestLucknowGirl : कैब ड्राइवर को पीटने वाली लड़की पर लखनऊ पुलिस को दर्ज करनी पड़ी FIR, सोशल मीडिया पर उठी थी मांग
x

लखनऊ की थप्पड़बाज लड़की पर पुलिस को दबाव में दर्ज करनी पड़ी FIR. (photo-social media)

केसरी खेड़ा लखनऊ की रहने वाली लड़की प्रियदर्शिनी की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी कैब ड्राइवर का 151 में चालान कर दिया था। जबकि लड़की को बीच सड़क हंगामा करने तथा मारपीट ना करने की चेतावनी देकर छोड़ दिया गया था...

जनज्वार, लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कृष्णा नगर स्थित अवध चौराहे पर सरेआम एक गरीब कैब ड्राइवर की पिटाई करने वाली युवती पर थाना कृष्णानगर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने यह एफआईआर सोशल मीडिया पर गिरफ्तारी की मांग पर उठे दबाव के बाद किया है।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज को आधार बनाते हुए आरोपी लड़की जिसका नाम प्रियदर्शिनी यादव बताया जा रहा है, पर लूट और तोड़फोड़ की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। आज सोमवार 2 अगस्त को घटना की फुटेज वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया था। जिसके बाद पुलिस को मुकदमा दर्ज करना पड़ा।

हालांकि जांच में यह भी सामने आया है कि, पहले पुलिस ने उच्छाधिकारियों को गुमराह करने की कोशिश की। जिसके चलते मामले ने इस कदर तूल पकड़ा। जबकि प्रक्रिया के मुताबिक इस तरह के मामलों में पहले मेडिकल जांच करानी चाहिए थी। लेकिन मेडिकल तो दूर मुकमें की धाराएं तक लचर लिखी गई हैं।

पुलिस की एक्सयूवी निकली वैगन आर

इंस्पेक्टर कृष्णानगर ने पहले बताया था कि केसरी खेड़ा की रहने वाली प्रियदर्शिनी पैदल जा रही थीं। इसी वक्त एक ब्लैक कलर की XUV-500, UP32 HA 2545 में बैठे तीन मुस्लिम युवकों की गाड़ी लड़की से टकरा गई। जिसके बाद दोनो पक्षों को थाने लाकर कार्रवाई की गई। जबकि सीसीटीवी फुटेज सामने आने पर दिख रहा गाड़ी एक्सयूवी नहीं बल्कि वैगन आर है, जिसमें पीले कलर की नंबर प्लेट भी लगी हुई है।

उल्टा ड्राइवर पर पुलिस ने की थी कार्रवाई

केसरी खेड़ा लखनऊ की रहने वाली लड़की प्रियदर्शिनी की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी कैब ड्राइवर का 151 में चालान कर दिया था। जबकि लड़की को बीच सड़क हंगामा करने तथा मारपीट ना करने की चेतावनी देकर छोड़ दिया गया था। इसके साथ ही इंस्पेक्टर कृष्णा नगर महेश दुबे के मुताबिक किसी भी पक्ष का मेडिकल नहीं करवाया गया था, जिसपर अब सवाल भी उठ रहे हैं।

वरिष्ठ पत्रकार सुशील दुबे इस मामले पर चुटकी लेते हुए लिखते हैं, हालांकि, इस महा बदतमीज लड़की के ऊपर सोशल मीडिया के दबाब में मजबूरी में कृष्णा नगर कोतवाली में एफआईआर दर्ज हो गयी है, लेकिन मुझे लगा कि समाज वह वीडियो देखने की जरूरत है। ये है पिंक बूथ,1090, आदि आदि का वेवजह महिला या नारी या लड़की का सशक्तिकरण कितने आराम से पुलिस जी के सामने भरे चौराहे पर उचक-उचक कर, वैसे ये इत्ते बजे आराम से आ कंहा से रहीं थी मोहतरमा, पॉश इलाके में बहुत दिख जायेगा मॉडल शापो पर।'

Next Story

विविध

Share it