वीडियो

Impact : खबर चलने के बाद अधिकारियों ने बाढ़ग्रस्त इलाके का किया निरीक्षण, जनज्वार ने प्रमुखता से उठाया था मसला

Janjwar Desk
2 Aug 2021 3:18 PM GMT
Impact : खबर चलने के बाद अधिकारियों ने बाढ़ग्रस्त इलाके का किया निरीक्षण, जनज्वार ने प्रमुखता से उठाया था मसला
x

जनज्वार में खबर चलने के बाद अफसरों ने बाढ़ग्रस्त इलाकों का किया दौरा.

बातचीत में लोगों ने पार्षद आरती गौतम सहित तमाम विधायकों, सांसदों यहां तक की मंत्रियों तक को कोसते हुए इस बार चुनाव और वोट ना देने की बात कही थी। इन सभी ने एक सुर में वोटिंग का बहिष्कार तक कर देने की बात कही थी...

जनज्वार, कानपुर। उत्तर प्रदेश की स्मार्ट सिटी में शुमार कानपुर के साउथ स्थित कुछ हिस्से में बाढ़ जैसे हालात बन गये हैं। लगातार बारिश के बाद यहां की पांडू नदी का जलस्तर उफान पर है। जिसके बाद स्थितियां बदतर हो रही हैं। जलभराव के बाद बर्रा-8 के वरूण विहार में कई मकान जमींदोज हो गये हैं।

बाढ़ग्रस्त इलाकों के कुछ हिस्सों में जाकर जनज्वार ने जमीनी हालातों का जायजा लिया था। हमने यहां के तमाम स्थानीय लोगों से बात कर उनका हाल-चाल दिखाया था। इन इलाकों में जन-जीवन अस्त व्यस्त हो चुका है। और तो हमारे संवाददाता से लोगों ने चुनाव और वोटिंग का बहिष्कार तक कर देने की बात कही थी।

जनज्वार संवाददाता ने इन इलाकों की ग्राउंड रिपोर्ट में स्थानीय निवासियों की परेशानी को लोगों के सामने रखा था। यहां की तारा, धनंजय गौतम, जीतेंद्र ने बताया था कि कैसे पानी का जलस्तर बढ़ जाने के बाद उनका जीवन नरक हो गया है। इलाके के 5 मकान जमींदोज हो चुके हैं।

बाढ़ग्रस्त इलाके में रह रहे लोगों में जिनके मकान गिरे थे उनके घर भी जनज्वार पहुँचा था। रानी गौतम, गीता सहित लोगों के गिरे मकान पर भी हमने चर्चा की थी। खबर में दिखाया गया था कि कैसे मकान गिर जाने के बाद यह लोग किराए पर दूसरी जगह मकान लेकर घर-बच्चे पाल रहे हैं।

आखिरी बातचीत में लोगों ने पार्षद आरती गौतम सहित तमाम विधायकों, सांसदों यहां तक की मंत्रियों तक को कोसते हुए इस बार चुनाव और वोट ना देने की बात कही थी। इन सभी ने एक सुर में वोटिंग का बहिष्कार तक कर देने की बात कही थी।

अन्य अफसरों के साथ इलाके का निरीक्षण करतीं DCP साउथ रवीना त्यागी

इस पूरी कवायद के बाद आज डीसीपी साउथ रवीना त्यागी के नेतृत्व में अफसरों की एक टीम बाढ़ग्रस्त इलाके में पहुँची थी। यहां के स्थानीय निवासियों का हाल चाल जाना गया। हर संभव मदद किए जाने का आश्वासन दिया गया है। साथ ही जिनके मकान गिरे, या अन्य कुछ नुकसान हुआ उसके लिए डिपार्टमेंटल चर्चा करने की बात भी कही गई।

डीसीपी साउथ रवीना त्यागी ने बताया कि, 'कानपुर साउथ के थाना बर्रा अंतर्गत पांडु नदी का जलस्तर बढ़ जाने से यहां के कई इलाकों में जलभराव की स्थिति बन गई है। जिनका नुकसान हुआ है उसकी भरपाई के लिए प्रशासनिक तौर पर चर्चा की जा रही है। हमारी पहली प्राथमिकता लोगों की सुरक्षा है। किसी को दिक्कत ना होने पाए प्रशासन हर संभव प्रयास और मदद करने को तत्पर है।'

Next Story

विविध

Share it