वीडियो

Live Suicide Case : सांसद पर रेप का आरोप लगाकर सुप्रीम कोर्ट के बाहर आत्मदाह मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर तलब

Janjwar Desk
20 Aug 2021 7:52 AM GMT
Live Suicide Case : सांसद पर रेप का आरोप लगाकर सुप्रीम कोर्ट के बाहर आत्मदाह मामले में पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर तलब
x

आत्मदाह मामले में अमिताभ ठाकुर किए गये तलब 

सुप्रीम कोर्ट के बाहर एक युवती और उसके पुरुष मित्र ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर आत्मदाह करने का प्रयास किया था। दोनों सुप्रीम कोर्ट के अंदर जाना चाहते थे, लेकिन पर्याप्त आईडी नहीं होने के कारण उन्हें रोक दिया गया, जिसके बाद दोनों ने खुद को आग लगा ली थी...

जनज्वार, लखनऊ। बसपा सांसद अतुल राय पर रेप सहित पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए दिल्ली सुप्रीम कोर्ट के बाहर युवती द्वारा आत्महत्या करने की कोशिश के मामले में जांच अधिकारी नीरा रावत ने अमिताभ ठाकुर को 23 अगस्त की सुबह 11 बजे तलब किया है। दरअसल, घटना के दिन रेप पीड़िता ने फेसबुक लाइव में अमिताभ ठाकुर पर भी गंभीर आरोप लगाए थे, जिस पर अमिताभ ने ट्वीट कर आरोपों का खंडन करते हुए सफाई दी थी।

गौरतलब है कि, बीती 16 अगस्त को दिल्ली सुप्रीम कोर्ट के बाहर एक युवती और उसके पुरुष मित्र ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर आत्मदाह करने का प्रयास किया था। दोनों सुप्रीम कोर्ट के अंदर जाना चाहते थे, लेकिन पर्याप्त आईडी नहीं होने के कारण उन्हें रोक दिया गया, जिसके बाद दोनों ने खुद को आग लगा ली थी। इस घटना से पहले दोनो ने फेसबुक पर लाइव भी किया था जो वायरल हुआ था।

ठाकुर को भेजा गया पत्र

फेसबुक लाइव के दौरान ही दोनो ने खुद को आग लगा ली थी। फेसबुक लाइव में युवती ने सांसद अतुल राय पर दुष्कर्म करने सहित अमिताभ ठाकुर पर भी कई आरोप मढ़े थे। मामले के तूल पकड़ने के बाद यूपी के योगी सरकार ने IPS नीरा रावत और आरके विश्वकर्मा को जांच सौंपी थी। जांच टीम पीड़िता द्वारा फेसबुक पर लाइव के आरोपों के आधार पर नीरा रावत ने अमिताभ ठाकुर को 23 अगस्त को सुबह 11 बजे हजरतगंज विधान सभा मार्ग स्थित उत्तर प्रदेश भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड कार्यालय पहुंच कर जबाव बयान दर्ज कराने का निर्देश दिया है।

क्या है पूरा मामला?

बीते 18 दिसम्बर 2020 को पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर ने मऊ जिले की घोसी लोकसभा सीट से सांसद अतुल राय के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा लिखाने वाली युवती और उसके सहयोगी के खिलाफ केस दर्ज कराया था। अमिताभ ने युवती और उसके सहयोगी पर उन पर और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ अशिष्ट टिप्पणी का आरोप लगाया था।

आईपीएस ठाकुर ने एफआईआर में आरोप लगाया था कि बीते 6 नवम्बर 2020 को रात 9 बजे युवती और 7 नवम्बर को 11 बजे युवती के सहयोगी ने अमिताभ ठाकुर को फोन कर धमकाया था। इतना ही नहीं, युवती ने सांसद अतुल राय से पैसे लेकर राजनैतिक पार्टी के एजेंट के रूप में काम करने का आरोप भी लगाया था। इसके बाद दोनों ने वीडियो जारी कर भी अतुल राय के एजेंट के तौर पर अमिताभ पर काम करने का आरोप लगाया था।

दोनों ने आईपीएस अमिताभ ठाकुर की बेटी को टारगेट करते हुए आपत्तिजनक बातें भी कही थी। उसके बाद दोनों उनके गोमतीनगर स्थित आवास पर गए, जहां उन्होंने जबरदस्ती फेसबुक लाइव ऑन कर वीडियो रिकॉर्डिंग शुरू कर दी। अमिताभ की पत्नी डॉक्टर नूतन ठाकुर से सहमति लिए बगैर पूरी बातचीत को जबरदस्ती रिकॉर्ड किया और आपत्तिजनक बातें कहीं।

आईपीएस ठाकुर के एफआईआर के लिए तहरीर देने पर गोमतीनगर थाने में एफआईआर दर्ज करने से इनकार कर दिया था। फिर अमिताभ ने इस मामले में वाराणसी के थाना लंका में मुकदमा दर्ज कराया था। अमिताभ ठाकुर ने लखनऊ पुलिस को बताया कि दोनों मामले अलग हैं। इसके बाद लखनऊ पुलिस ने अमिताभ ठाकुर की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया था।

Next Story

विविध

Share it