वीडियो

UP : 'पहले अपने बेटे के सिर पर हाथ रखकर कसम खाओ वोट मुझे दिया था, तब लाईट लगवा दूंगा' विधायक का BJP चरित्र

Janjwar Desk
13 July 2021 8:10 AM GMT
UP : पहले अपने बेटे के सिर पर हाथ रखकर कसम खाओ वोट मुझे दिया था, तब लाईट लगवा दूंगा विधायक का BJP चरित्र
x

(शाहजहांपुर में भाजपा विधायक वीर विक्रम सिंह जनता से अजब-गजब मांग करते हुए)

जब तुमने मुझे वोट ही नहीं दिया तो मैं क्यों लाइट लगवाऊं। जब किसी से कोई अपेक्षा रखी जाती है तो उसको बदले में कुछ देना भी पड़ता है। तुम लोगों ने मुझे वोट नहीं दिया। न ही तुम्हारे गांव से मुझे वोट मिला था...

जनज्वार, शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर (Shahjhanpur) में भाजपा विधायक वीर विक्रम सिंह पौधरोपण कर लोगों को हरियाली के प्रति जागरुक करने आए थे। इस बीच कुछ लोगों ने हाथ जोड़कर उनसे गांव में लाइट लगवाने की गुजारिश की, तो हरियाली का महत्व भूल वो उन लोगों को बेटे की कसम खिलाने लगे।

कसम इसबात की, कि चुनाव में उनको वोट दिया था की नहीं? गांव वाले कई बार बोले भी हुजूर आपको ही वोट दिया था। इसके बाद भी विधायक (MLA) को उनपर यकीन नहीं हुआ। बोले, ठीक है तो फिर अपने बेटे के सिर पर हाथ रखकर कसम खाओ कि, तुमने मुझे ही वोट दिया था। अगर कसम खा लोगे तो, गांव में लाइट लग जाएगी।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे विधायक

वन विभाग की ओर से जिले के कटरा विधानसभा के नगला ब्राहीम गांव में पौधरोपण कार्यक्रम था। कार्यक्रम में स्थानीय भाजपा (BJP) विधायक वीर विक्रम सिंह बतौर मुख्य अतिथि कार्यक्रम में शामिल हुए थे। कार्यक्रम में पर्यावरण के प्रति लोगों को जागरुक करने के लिए गांव वालों को भी बुलाया गया था।

पौधारोपण करने के बाद विधायक गांव वालों को पर्यावरण का महत्व समझा रहे थे। कार्यक्रम में गांव वालों से बातचीत करते विधायक का वीडियो सामने आया है। जिसमें विधायक बोले-अपेक्षा के बदले कुछ देना पड़ता है इसी बीच कुछ लोगों ने हाथ जोड़कर उनसे गांव में लाइट लगवाने की गुजारिश की।

गुजारिश सुन विधायक भड़क उठे। बोले कि, जब तुमने मुझे वोट ही नहीं दिया तो मैं क्यों लाइट लगवाऊं। जब किसी से कोई अपेक्षा रखी जाती है तो उसको बदले में कुछ देना भी पड़ता है। तुम लोगों ने मुझे वोट नहीं दिया। न ही तुम्हारे गांव से मुझे वोट मिला था। फिर मैं क्यों तुम्हारी फरियाद सुनूं।

इसपर गांव वालों ने विधायक को कई बार समझाने की कोशिश की। हाथ जोड़कर कहा, वोट आपको ही दिया था। लेकिन विधायक को उनकी बात पर भरोसा नहीं हुआ। इसके बाद विधायक के सामने गांव वाले खामोश हो गए और वहां से लौट गए।

Next Story

विविध

Share it