Top
दुनिया

अमेरिका में 5 करोड़ लोगों को खाने के पड़े लाले, दुनिया के सबसे अधिक अमीरों के शहर न्यूयाॅर्क में बुरा हाल

Janjwar Desk
4 Jan 2021 3:22 AM GMT
अमेरिका में 5 करोड़ लोगों को खाने के पड़े लाले, दुनिया के सबसे अधिक अमीरों के शहर न्यूयाॅर्क में बुरा हाल
x

अमेरिका के एक शहर में भोजन पैकेट के वितरण का दृश्य। फोटो : सोशल मीडिया से।

अमेरिका की सबसे बड़ी भूख राहत संस्था फीडिंग अमेरिका की रिपोर्ट के अनुसार, वहां हर छठा आदमी और हर चौथा बच्चा भूख का सामना कर रहा है...

जनज्वार। आर्थिक समृद्धि ही लोगों के सकल विकास का सूचक नहीं होता है। दुनिया के सबसे संपन्न देश अमेरिका में उत्पन्न गंभीर खाद्य संकट इसका प्रमाण है। दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका का हर छठा आदमी खाद्य संकट का सामना कर रहा है और हालात यह है कि वे घंटों लाइन लगाकर खाद्य सामग्री पाने का इंतजार करते हैं। हालिया दशकों में 2008 में आयी सबसे बड़ी बंदी से भी बुरे हालात इन दिनों अमेरिका में हैं।

अमेरिका के ऐसा हाल होने की एक बड़ी वजह कोरोना महामारी से अर्थव्यवस्था पर पड़ा बुरा असर है। यहां के नागरिकों की आर्थिक स्थिति कमजोर हुई है। महामारी के कारण यहां लोगों ने बड़े पैमाने पर अपना रोजगार गंवाया है और इसकी वजह से लोगों को खाद्य संकट व भूख का सामना करना पड़ रहा है।

अमेरिका की सबसे बड़ी भूख राहत संस्था फीडिंग अमेरिका की रिपोर्ट के अनुसार, यहां दिसंबर के आखिर में पांच करोड़ से अधिक लोग खाद्य असुरक्षा का सामना कर रहे थे। यानी हर छठवां अमेरिकी भूख से जूझ रहा है। बच्चों के मामले में स्थिति कहीं अधिक बुरी है। अमेरिका में हर चौथा बच्चा भूख का सामना कर रहा है।

फीडिंग अमेरिका की रिपोर्ट में कहा गया है कि जून से अमेरिका में खाने के जरूरतमंदों की संख्या तेजी से बढ रही है। पूरे देश में ऐसे जरूरतमंद महामारी से पहले की तुलना में दोगुना हो गए हैं। वहीं, ऐसे जरूरतमंद परिवार जिनमें बच्चे भी हैं, उनकी संख्या तीन गुना बढी है।

फीडिंग अमेरिका ने अपने नेटवर्क के माध्यम से संकट के दौर में अमेरिका में खाने के पैकेट बांटे। उसने एक महीने में 54.8 करोड़ खाने के पैकेट बांटे हैं। महामारी शुरू होने से पहले की तुलना में यह 52 प्रतिशत अधिक है। इन पैकेट्स को लेने के लिए लोगों की लंबी कतार लगती है। यह संस्था क्रिसमस के महीने हर साल औसतन 500 लोगों को खान मुहैया कराती है जबकि इस बार यह आंकड़ा 8500 हो गया।

अमेरिका में 20 साल में पहली बार ऐसी नौबत आयी है। रिपोर्ट के अनुसार, यहां 5.04 करोड़ लोग भूख का सामना कर रहे हैं और इसमें 1.7 करोड़ बच्चे हैं। अमेरिका के सबसे बड़े शहर न्यूयाॅर्क में भूख की समस्या बढी है। यहां 1.20 लाख लोग ऐसे हैं, जिनके पास 50 लाख डाॅलर यानी 36 करोड़ रुपये या उससे अधिक की संपत्ति है। यह दुनिया का सबसे बड़ा औसत है। फिर भी यहां एक ऐसा बड़ा तबक है जो खाने के संकट का सामना कर रहा है। महामारी के दौरान न्यूयाॅर्क फूड बैंक ने यहां 7.7 करोड़ खाने के पैकेट बांटे हैं। यह किसी भी अन्य साल की तुलना में 70 प्रतिशत अधिक है। इनमें ब्लैक कम्युनिटी की स्थिति अधिक बुरी है।

Next Story

विविध

Share it