दुनिया

America : टेक्सास के स्कूल में अंधाधुंध फायरिंग, 18 बच्चों समेत 21 की मौत, बाइडेन ने फायरिंग को बताया नरसंहार

Janjwar Desk
25 May 2022 1:48 AM GMT
America : टेक्सास के स्कूल में अंधाधुंध फायरिंग, 18 बच्चों समेत 21 की मौत, कई घायल, बाइडेन ने बताया नरसंहार
x

America : टेक्सास के स्कूल में अंधाधुंध फायरिंग, 18 बच्चों समेत 21 की मौत, कई घायल, बाइडेन ने बताया नरसंहार

America : टेक्सास के एक स्कूल में अंधाधुंध गोलीबारी की घटना में 18 बच्चों समेत 21 की मौत।

America News : अमेरिका के टेक्सास ( Texas Firing ) स्थित स्कूल से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। एक स्कूल में हुई गोलीबारी ( Firing ) में अब तक 18 बच्चों समेत 21 छात्रों की मौत की सूचना है। ताजा अपडेट यह है कि छात्रों पर अंधाधुंध फायरिंग की घटना को 18 वर्षीय युवक ने अंजाम दिया। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ( Joe Biden ) ने गोलीबारी की घटना को नरसंहार ( massacre ) करार दिया है।

टेक्सास फायरिंग ( Texas Firing ) में जिन बच्चों की मौत हुई है उनकी उम्र 7 से 10 साल के बीच थी। ये सभी ग्रेड-2, 3 और 4 के छात्र थे। अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक संदिग्ध हमलावर को भी मौत के घाट उतार दिया गया है।

न्यूज एजेंसी AP के मुताबिक 18 वर्षीय बंदूकधारी एक हैंडगन और एक राइफल के साथ रॉब एलीमेंट्री स्कूल में दाखिल हुआ। हमलावर युवक सैन एंटोनियो का निवासी था। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव काराइन जीन पियरे ने कहा कि राष्ट्रपति जो बाइडेन को गोलीबारी के बारे में जानकारी दे दी गई है। बाइडेन एशिया की पांच दिवसीय यात्रा से लौट रहे हैं।

नस्लीय हिंसा की आंशका

अमेरिका ( America ) के न्यूयार्क के बफेलो शहर के एक सुपरमार्केट में पिछले हफ्ते भी गोलीबारी हुई थी। उसके बाद दक्षिणी कैलिफोर्निया के एक चर्च में अधांधुंध फायरिंग की घटना हुई। ह्यूस्टन के एक व्यस्त बाजार में भी गोलीबारी हुई। चिंता की बात ये है कि इन हमलों को नस्लीय हिंसा के तौर पर देखा जा रहा है।

2012 के बाद फायरिंग की सबसे बड़ी घटना

America news: बता दें कि साल 2022 में अब तक अमेरिका के 30 स्कूलों में गोलीबारी की घटना हो चुकी है। इसके चलते अब तक 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। 50 से ज्यादा लोग घायल हुए है। फरवरी 2018 में फ्लोरिडा के पार्कलैंड में मार्जोरी स्टोनमैन डगलस हाई स्कूल की शूटिंग के बाद से टेक्सास में ये सबसे बड़ी घटना है। उस वक्त 18 लोगों को निशाना बनाया गया था। साल 2012 में न्यूटाउन के कनेक्टिकट एलीमेंट्री स्कूल में एक बंदूकधारी ने 26 लोगों की हत्या कर दी थी।

(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रू-ब-रू कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आयें और जनज्वार को आर्थिक सहयोग दें।)

Next Story

विविध