दुनिया

Elon Musk Twitter news : मस्क के ऐलान पर उठने लगे सवाल, EU-वेस्ट लिबरल समूह के लोग अभी से जता रहे इस बात की आशंका

Janjwar Desk
29 Oct 2022 11:02 AM GMT
Elon Musk Twitter news : मस्क के ऐलान पर उठने लगे सवाल, EU-वेस्ट लिबरल समूह के लोग अभी से जता रहे इस बात की आशंका
x
Elon Musk Twitter news : ईयू और वेस्ट लिबरल समूह के लोगों को इस बात की आशंका है कि आने वाले दिनों में ट्विटर जैसा फ्री स्पीच वाला प्लेट्फॉर्म चरमपंथियों के बुलंद आवाज का अड्डा न बन जाए।


एलन मस्क के ऐलान और फ्री स्पीच को लेकर संभावित पॉलिसी पर धीरेंद्र मिश्र की रिपोर्ट

Elon Musk Twitter news : लंबे विवाद के बाद Elon Musk ने Twitter को खरीद लिया और उस पर अपना कब्जा भी जमा लिया। ​ट्विटर का बॉस बदलते ही शीर्ष चार अधिकारियों को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। इसके बदले करीब एक हजार करोड़ का भुगतान भी मस्क को करना होगा। अब दुनियाभर में चर्चा इसकी है कि ट्विटर के नये बॉस एलन मस्क ( Elon musk ) फ्री स्पीच ( free speech ) को किस रूप में परिभाषित करेंगे। क्या ट्विटर पर दक्षिणपंथियों का दबदबा बढ़ेगा या पहले की तरह बेहतर संवाद का जरिया बना रहेगा। इस मुद्दे पर दुनियाभर के लोग दो गुटों में बंटे दिखाई दे रहे हैं। ईयू और वेस्ट लिबरल समूह के लोगों को इस बात की आशंका अभी है कि कहीं ट्विटर ( Twitter ) जैसा फ्री स्पीच वाला प्लेट्फॉर्म चरमपंथियों के बुलंद आवाज का अड्डा न बन जाए।

हालांंकि, ट्विटर ( Twitter ) के नये सीईओ और स्वामी एलन मस्क ( Elon Musk ) के ताजा ट्विट से से ऐसा तो नहीं लगता है, लेकिन उनको नजदीक से जानने वाले इस बात की आशंका जता रहे हैं कि मस्क फ्री स्पीच ( Free Speech ) को अपने तरीके से परिभाषित करने की कोशिश कर सकते हैं। ट्विटर कंटेंट आने वाले दिनों में कट्टर विचारों के प्रवाह का जरिया बन सकता है।

ऐलन मस्क ने क्या कहा?

फिलहाल, Twitter को खरीदने के बाद ही Elon Musk ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर एक ट्वीट कर कहा कि मैंने ट्विटर का अधिग्रहण इसलिए किया क्योंकि सभ्यता के भविष्य के लिए एक सामान्य डिजिटल टाउन स्क्वायर होना महत्वपूर्ण है, जहां हिंसा का सहारा लिए बिना, स्वस्थ तरीके से विश्वासों की एक विस्तृत श्रृंखला पर बहस करना संभव हो।

उन्होंने आगे कहा कि हम जल्द ही एक कंटेंट मॉडरेशन काउंसिल ( Content Moderation Council ) का गठन करेंगे। सीएमसी ही कंटेंट मॉडरेशन से जुड़ी सभी फैसले लेगी। इसके साथ ही कंटेंट मॉडरेशन काउंसिल ( CMC ) ही कंपनी के सभी पहलुओं पर नजर रखेगी। यह काउंसिल विभिन्न पक्षों पर गौर करेगी और उस पर निगरानी रखेगी। काउंसिल की बैठक से पहले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पोस्ट होने वाले किसी भी कंटेंट को लेकर कंपनी कोई बड़ा फैसला नहीं लेगी और न ही प्रतिबंधित फर्जी खातों को बहाल किया जाएगा। दरअसल, ट्विटर का अधिग्रहण करने की प्रक्रिया के दौरान मस्क ने कंटेंट मॉडरेशन नियमों को बदलने का वादा किया था। इन सभी पहलुओं पर उन्होंने जल्द ही बड़े बदलाव के संकेत दिए हैं।

इसके अलावा दो दिन पहले मस्क ने विज्ञापनदाताओं को भरोसा दिलाते हुए कहा कि सामाजिक संदेश सेवाएं सभी के लिए एक निःशुल्क हेलस्केप में विकसित नहीं होंगी, जहां कुछ भी बिना किसी परिणाम के कहा जा सकता है!

अहम सवाल : ट्विटर नफरती बयानों का अड्डा न बन जाए!

दुनिया के सबसे बड़े धनकुबेर और ट्विटर के नये बॉस के रुख से इस बात को बल मिला है कि ट्विटर आने वाले दिनों में सामाजिक सौहार्द के लिए बड़ा खतरा भी हो सकता है। यह प्लेटफॉर्म धुर दक्षिणपंथी और वामपंथी वैचारिक आवाज जैसे समूहों में तब्दील हो सकता है, जिससे समाज में पहले से ज्यादा घृणा और द्वेष को बढ़ावा मिलेगा।

इसके संकेत भी मिलने शुरू हो गए हैं। मस्क के हाथों ट्विटर के नियंत्रा में ट्विटर के आते ही दक्षिणपंथी राजनीतिक टिप्पणीकार बेन शापिरो ने कहा कि शुक्रवार को उन्हें 40 हजार नये ट्विटर फॉलोअर्स मिले, जबकि एक उदारवादी अभिनेता मार्क हैमिल ने कहा कि उन्होंने पिछले तीन दिनों में लगभग 6,000 फॉलोअर्स खो दिए हैं। यानि नये बदलाव को लेकर जो लोग सवाल उठाने लगे हैं उनकी आशंका यूं ही नहीं है।

ट्रंप ने खुशी तो जाहिर की, पर उत्साहित नहीं हैं

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ( Donald Trump ) ने ट्टिवर के स्वामित्व में बदलाव पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि उनके कार्यकर्ताओं ने ट्विटर प्रबंधन के उत्पीड़न और गलत सूचना में वृद्धि की चेतावनी दी थी। मेरे ट्विटर अकाउंट्स को भी ब्लॉक कर दिया गया था। केवल आशंका के आधार पर कि वह अपने चुनावी नुकसान को उलटने के लिए यूएस कैपिटल पर 2021 के घातक हमले की तरह और अधिक हिंसा को बढ़ावा दे सकते हैं।

फिलहाल उन्होंने कहा है कि ट्विटर अब समझदार लोगों के हाथों में है। इसके बावजूद उन्होंने इस बात का जवाब नहीं दिया कि अगर उन्हें ट्विटर से जुड़ने की इजाजत मिली तो वह उससे जुड़ेंगे या नहीं। इसके बावजूद संभावना जताई जा रही है कि मस्क ने सामग्री मॉडरेशन और प्रतिबंधित अकाउंट्स को वापस चालू करने के बाद ट्रंप ट्विटर पर वापस लौट आएंगे।

ईयू के नियमों का करना होगा पालन : थियरी ब्रेटन

वहीं यूरोपीय संघ ( EU ) के आंतरिक बाजार आयुक्त थियरी ब्रेटन ने ट्वीट कर एलन मस्क ( Elon Musk ) को साफ कर दयिा है कि सोशल मीडिया कंपनियों के लिए ईयू ( EU ) के अपने नियम हैं। यूरोप में ट्विटर को उन नियमों का पालन करना होगा।

मस्क लाएंगे पोस्टिंग और वैचारिक दृष्टिकोण में बदलाव : प्रो. स्टेनली

येल विश्वविद्यालय के दर्शनशास्त्र के प्रोफेसर जेसन स्टेनली जिन्होंने अमेरिका में ट्रंप के बढ़ते वजूद को नव फासीवाद को संकेत बताया था, ने कहा कि मस्क ट्विटर के पोस्टिंग और वैचारिक दृष्टिकोण को बदलेंगे। फिलहाल मैं ट्विटर पर हूं लेकिन मुझ जैसे लोगों को सावधान रहने की जरूरत है। प्रतिकूल बदलाव हुए तो उस पर समय बर्बाद करने की जरूरत मैं नहीं समझता।

Elon Musk Twitter news : बिज स्टोन आभार जता किस बात का दे रहे हैं संकेत

यहां पर इस बात का जिक्र करना भी जरूरी है कि भले ही मस्क ट्विटर ( Twitter ) के पूर्व सीईओ पराग अग्रवाल और टॉप अधिकारियों के रीति नीति से नाराज हों, लेकिन ट्विटर के सह-संस्थापक बिज स्टोन ने पराग, नेड, विजय व अन्य को व्यवसाय में उनके बड़े पैमाने पर योगदान के लिए आभार जताया है। उन्होंने अपने ट्विट में लिखा है कि ट्विटर पर सामूहिक योगदान के लिए @paraga, @vijaya और @nedsegal को धन्यवाद। ये सभी विशाल प्रतिभा के धनी, सभ्य और सुंदर इंसान हैं।

Next Story

विविध