Top
दुनिया

इसराइल ने गाजा की अल-जाला बिल्डिंग पर हमला कर मीडिया के दफ्तरों को उड़ाया, नेतन्याहू बोले यह परफेक्ट निशाना था

Janjwar Desk
17 May 2021 4:14 AM GMT
इसराइल ने गाजा की अल-जाला बिल्डिंग पर हमला कर मीडिया के दफ्तरों को उड़ाया, नेतन्याहू बोले यह परफेक्ट निशाना था
x

फ़िलिस्तीन के सूचना केंद्र द्वारा शेयर की गयी गाजा की फ़ोटो 

अलजज़ीरा की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 1 हफ्ते के दौरान गाजा पट्टी पर 192 लोगों की मौत हुई है जिनमें 58 बच्चे और 34 महिलाएं शामिल हैं। वही इसराइल में 10 लोगों की मौत हुई है जिसमें 2 बच्चे शामिल हैं।

जनज्वार ब्यूरो। शनिवार 15 मई को इसराइल ने गाजा की ऑल-जाला नामक बिल्डिंग पर हमला कर दिया था। इस हमले में बिल्डिंग में स्थित अमेरिकी समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस तथा कतर के समाचार चैनल अल-जजीरा के दफ्तर ध्वस्त हो गए।

एसोसिएटेड प्रेस ने इज़रायल के हमले को भयावह और चौंकाने वाला बताया है। एसोसिएटेड प्रेस ने लिखा है कि शनिवार को उन्होंने इजरायली सेना को कई कॉल की थीं और हमले को रोकने की गुजारिश की थी लेकिन इजरायली सेना ने उनकी नहीं सुनी।

एसोसिएटेड प्रेस ने लिखा है- "यह बहुत ही भयावह स्थिति है गाजा में जो कुछ भी हो रहा है अब दुनिया को बहुत कम पता चलेगा"।

वही समाचार पत्र अल जजीरा ने कहा है कि इसराइल पत्रकारों को गाजा में उनकी ड्यूटी करने से रोक रहा है। हमले का लाइव ब्रॉडकास्ट करते हुऐ अलजजीरा के एंकर हल्ला मोहिद्दीन ने कहा

"जब भी आप पत्रकारों को गाजा से लाइव अपडेट करते देखते हैं, तो वे आमतौर पर इस इमारत की छत पर खड़े होते हैं, जिसे अब इसराइली सेना द्वारा हवाई हमले में ध्वस्त कर दिया गया है।"

अल जजीरा मीडिया नेटवर्क के कार्यवाहक महानिदेशक डॉ मुस्तफा सुआ कहते हैं- "हम चाहते हैं कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय इस बर्बर हमले की निंदा करें, जो मीडिया को निशाना बनाने के लिए किया गया है। हम चाहते हैं कि इस हमले को लेकर इसराइल के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। इसराइल मीडिया को चुप कराना चाहता है वह चाहता है कि मीडिया गाजा के लोगों की तकलीफों पर बात ना करें।

मीडिया के दफ्तरों पर हमले को जायज ठहराते हुए इसराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने अपने इंटरव्यू में कहा- "बिल्डिंग में आतंकी संगठन का खुफिया दफ़्तर था जो इसराइल के नागरिकों पर आतंकी हमले की योजना बनाता था और अंजाम देता था इसलिए हमारा निशाना पूरी तरह सटीक था।"

नेतन्याहू के इस बयान पर एसोसिएटेड प्रेस ने उनसे सबूत की मांग की है।

गाजा पट्टी में बीते दिन 42 लोगों की हमले में हुई मौत



बेंजामिन नेतनयाहू ने हमले जारी रखने की बात कही है तो वहीं बीते दिन 16 मई को हुए हमलों में गाजा पट्टी में 42 फिलिस्तीनियों की मौत हुई है जो पिछले 1 हफ्ते के दौरान हुई झड़पों में अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। अलजज़ीरा की रिपोर्ट के अनुसार पिछले 1 हफ्ते के दौरान गाजा पट्टी पर 192 लोगों की मौत हुई है जिनमें 58 बच्चे और 34 महिलाएं शामिल हैं। वही इसराइल में 10 लोगों की मौत हुई है जिसमें 2 बच्चे शामिल हैं। इस हिंसा के संबंध में कल संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने वार्ता की थी जो किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सकी।

भारत ने संयुक राष्ट्र में हिंसा की निंदा की

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में इसराइल- फिलिस्तीन हिंसा की निंदा की है। संयुक्त राष्ट्र में भारत के दूत पी एस तिरुमूर्ति ने कहा है- भारत हर तरह की हिंसा की निंदा करता है व तत्काल तनाव खत्म करने की अपील करता है। उन्होंने कहा भारत फिलिस्तीनियों की जायज मांग का समर्थन करता है और दो राष्ट्र की नीति के जरिए समाधान को लेकर वचनबद्ध है

Next Story
Share it