दुनिया

Pakistan Political Crisis Updates : अब क्या करेंगे मियां नियाजी, SC ने कह दिया - 'हम वही करेंगे जो देश हित में होगा'

Janjwar Desk
6 April 2022 11:02 AM GMT
Pakistan Political Crisis Updates : अब क्या करेंगे मियां नियाजी, SC ने कह दिया - हम वही करेंगे जो देश हित में होगा
x
Pakistan Political Crisis Updates : अगर सुप्रीम कोर्ट ने डिप्टी स्पीकर के मनमाने फैसले को बदल दिया तो इमरान खान मुश्किलों में घिर जाएंगे और संभावित संकटों से पार पाना उनके लिए शायद ही संभव हो।

Pakistan Political Crisis Updates : पाकिस्तान में सियासी संकट जारी है। इमरान खान ( Imran Khan ) सरकार द्वारा मनमाने तरीके से संसद भंग करना और चुनाव कराने की मांग के मुद्दे पर बुधवार को भी वहां की सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) में बहस साफ हुई। सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने डिप्टी स्पीकर के फैसले पर सवाल उठाए हैं। साथ ही इमरान खान की पार्टी के वकील को जमकर फटकार लगाई है।

पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट ( Supreme court Pakistan ) ने फैसला देने से पहले अपने रुख का इजहार लगभग कर दिया है। पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने साफ कर दिया है कि हम वही फैसला देंगे, जो देश हित में होगा। ऐसा इसलिए कि हमने संविधान को बचाने की कसम खाई है। ऐसे में सवाल यह उठता है कि मियां नियाजी यानि इमरान खान ( Imran Khan ) अब क्या करेंगे। ऐसा इसलिए कि अगर सुप्रीम कोर्ट ने डिप्टी स्पीकर के मनमाने फैसले को बदल दिया तो इमरान खान मुश्किलों के घिर जाएंगे, और संभावित संकटों से पार पाना उनके लिए शायद ही संभव हो। वास्तव में सुप्रीम कोर्ट ने उनके खिलाफ फैसला दिया तो सेना और विपक्षी दलों के नेता इमरान को कहीं का नहीं छोड़ेंगे और पानी पिला-पिलाकर उनकी सियासी मात तय करेंगे।

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस बोले

बुधवार को पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट में इमरान सरकार के फैसले पर बुधवार को सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान जस्टिस Jamal Khan Mandokhel ने कहा कि सुनवाई को पटरी से उतारने की कोशिश न की जाए। हमने संविधान को बचाने की कसम खाई है। जस्टिस बोले कि हम ऐसा फैसला देंगे जो देश हित में होगा। इससे पहले उन्होंने डिप्टी स्पीकर के फैसले पर उठाए सवाल। साथ ही इमरान की पार्टी के वकील को जमकर फटकार लगाई। पाकिस्तान के सर्वोच्च अदालत ने पीटीआई के वकील से तीखे सवाल किए। वकील से पूछा कि किस आधार पर डिप्टी स्पीकर ने अविश्वास प्रस्ताव को खारिज किया। इस फैसले का आधार क्यों नहीं बताया गया। बता दें कि डिप्टी स्पीकर ने इमरान खान सरकार के खिलाफ आए अविश्वास प्रस्ताव को संविधान की धारा पांच के खिलाफ बताते हुए खारिज कर दिया था।

कोर्ट को न बनाएं आरोपी, फैसले का इंतजार करें

पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस Umer Ata Bandyal ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि सुनवाई में हो रही देरी से ऐसा समझा जा रहा है कि कोर्ट इसमें देरी कर रहा है। कोर्ट को फैसला न सुनाने का आरोपी बनाया जा रहा है। ऐसा नहीं है। हम विभिन्न पहलुओं पर गंभीरता से विचार कर रहे हैं। लोग धैर्य रखें और इंतजार करेंं। हमने संविधान को बचाने की कसम खाई है। वहीं करेंगे जो देश के हित में होगा।

विपक्षी पार्टियों ने इमरान को घेरा

दूसरी तरफ पीपल्स पार्टी के नेताओं ने सुप्रीम कोर्ट के बाहर इमरान खान पर आज भी निशाना साधा। वह बोले कि पहले ये संसद से भागे, अब शायद सुप्रीम कोर्ट से भी भागेंगे। फिर याद रखना कि ये इलेक्शन से भी भागेंगे।

EC 90 दिनों में चुनाव कराने की करे तैयारी

Pakistan Political Crisis Updates : इस बीच पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने चुनाव आयोग ( EC ) को पत्र लिखकर जल्द से जल्द आम चुनाव की तारीखों का ऐलान करने के लिए कहा है। चुनाव आयोग से कहा है कि 90 दिन के भीतर चुनाव कराने की तैयारी करें।

Next Story

विविध