दुनिया

Russia Ukraine War : रूस ने यूक्रेन के मिलिट्री बेस पर बोला अब तक का सबसे बड़ा हमला, 70 से ज्यादा यूक्रेनी सैनिक हताहत

Janjwar Desk
1 March 2022 6:17 AM GMT
Russia-Ukraine War : रूस ने यूक्रेन के मिलिट्री बेस पर बोला अब तक का सबसे बड़ा हमला।
x

रूस ने यूक्रेन के मिलिट्री बेस पर बोला अब तक का सबसे बड़ा हमला।

Russia Ukraine War : रूसी सेना के हमले में 70 से ज्यादा यूक्रेनी सैनिक मारे गए।

Russia Ukraine War : रूस और यूक्रेन के बीच छह दिनों से जंग जारी है। इस बीच रूस ने यूक्रेन के मिलिट्री बेस पर अब तक का सबसे बड़ा हमला बोल दिया है। रूसी की सेना के हमले में 70 से ज्यादा यूक्रेनी सैनिक मारे गए हैं। रूस ने अर्टलरी तोप से यूक्रेन के Okhtyrka में स्थित मिलिट्री बेस को निशाना बनाया था। Okhtyrka शहर खारकीव और कीव के बीच पड़ता है। इस बीच सूचना ये भी है कि रूसी सेना यूक्रेन के खेरसॉन इलाके तक पहुंच गया है।

रूस ने किया प्रतिबंधित थर्मोबैरिक हथियार का इस्तेमाल

दूसरी तरफ यूक्रेन की राजदूत ओकसाना मार्कारोवा ने दावा किया है कि युद्ध के पांचवें दिन रूस ने यूक्रेन के ख‍िलाफ प्रतिबंधित थर्मोबैरिक हथियार (Thermobaric Weapon) का इस्तेमाल किया है। थर्मोबैरिक हथियारों में पारंपरिक गोला-बारूद का उपयोग नहीं होता है। ये एक उच्च-दाब वाले विस्फोटक से भरे होते हैं। ये शक्तिशाली विस्फोट करने के लिए आसपास के वातावरण से ऑक्सीजन सोखते हैं।

यूक्रेन पर लगातार हो रहे रूसी हमले के बीच यूएन के हाई कमिश्‍नर Filippo Grandi ने बतायाहै कि युद्ध के चलते अब तक 50 हजार यूक्रेन के नागरिक पड़ोसी देशों में भाग चुके हैं। रूस ने यूक्रेन के राष्‍ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्‍की की उस अपील को मानने से इनकार कर दिया है, जिसमें उन्‍होंने नो फ्लाई जोन बनाने की मांग की थी ताकि जिससे रूस के हमलों को रोका जा सके।

यूक्रेन पर रूस के रूस हमले को बढ़ता देख कनाडा ने यूक्रेन को एंटी टैंक हथियार सप्‍लाई करने का ऐलान कर दिया है। इसके साथ ही कनाडा ने रूसी ऑयल खरीदने से भी इनकार कर दिया है। ऑस्‍ट्रेलियन के पीएम स्‍कॉट मारॅरिसन ने यूक्रेन को 50 मिलियन डॉलर की सैन्‍य मदद देने के साथ ही रूस से लड़ने के लिए उसे मिसाइल देने का भी फैसला किया है। यूक्रेन के राष्‍ट्रपति ने हमसे सैन्‍य मदद मांगी थी।

Russia Ukraine War : वहीं अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने बेलारूस को धमकी दी है कि उसे रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादीमिर पुतिन का साथ देने की कीमत चुकानी पड़ेगी। बेलरूस के राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको को कड़ी चेतावनी देते हुए नेड प्राइस ने कहा कि यूक्रेन पर हमले में रूस की मदद करना बंद कर दो वरना ये महंगा पड़ सकता है। अमेरिका ने रूस के 12 डिप्‍लोमेट्स को निकालने की घोषणा कर दी है।

Next Story

विविध