दुनिया

Sri Lanka Crisis : गुस्साई जनता ने कचरे की गाड़ियों में डाले राजपक्षे के समर्थक, भारतीय ट्विटर यूजर्स बोले BJP-RSS समर्थकों का भी होगा ये हाल

Janjwar Desk
10 May 2022 10:26 AM GMT
Sri Lanka Crisis : गुस्साई जनता ने कचरे की गाड़ियों में डाले राजपक्षे के समर्थक, भारतीय ट्विटर यूजर्स बोले BJP-RSS समर्थकों का भी होगा ये हाल
x

Sri Lanka Crisis : गुस्साई जनता ने कचरे की गाड़ियों में डाले राजपक्षे के समर्थक, भारतीय ट्विटर यूजर्स बोले BJP-RSS समर्थकों का भी होगा ये हाल

Sri Lanka Crisis : सोशल मीडिया एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें सत्ता समर्थक कार्यकर्ताओं को गुस्साई जनता के द्वारा कूड़ेदान में डाला जा रहा है....

Sri Lanka Crisis : उर्जा और आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका (Sri Lanka Crisis) में हिंसक प्रदर्शन जारी हैं। हालात लगातार भयावह होते जा रहे हैं। गृहयुद्ध -का खतरा बना हुआ है। गुस्साई जनता (Angry Protesters In Sri Lanka) ने सोमवार की देर रात राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे के पैतृक घर समेत सत्ताधारी पार्टी के पंद्रह से ज्यादा सदस्यों के घरों और दफ्तरों को आग के हवाले कर दिया। इस बीच कई वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं। एक वीडियो में पूर्व प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे के समर्थकों को गुस्साए प्रदर्शनकारियों के द्वारा कचरे की गाड़ी में डाला जा रहा है।

प्रोफेसर अशोक स्वेन ने अपने ट्वीट में लिखा- श्रीलंका में महिंद्रा राजपक्षे (Mahinda Rajapakshe) के समर्थकों को अब गुस्साई जनता ने सचमुच कूड़ेदान में फेंक दिया है- भारत में इसे मोदी भक्तों को उनके भविष्य के बारे में चेतावनी होनी चाहिए।

एक यूजर ने उनके इस ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए लिखा- जल्द ही भारत में भी मोदी- आरएसएस समर्थक इसी तरह ट्रीट किए जाएंगे।

इफ्तेखार नाम के यूजर ने भी वीडियो को पोस्ट किया और लिखा- श्रीलंका में वहां के लोगों ने राजपक्षे के समर्थकों को कूडेदान में फेंक दिया। भारत में अंधभक्तों का भविष्य भी ऐसा ही होगा?

मनोज सरकार नाम के यूजर ने लिखा- देखो जनता ने क्या हाल कर दिया श्रीलंका में.. वक्त होना भी कितना रिस्क फैक्टर होता है।

पड़ोसी देश में गंभीर आर्थिक संकट (Sri Lanka Crisis) के बीच राजनीतिक स्थिति काफी खराब हो चुकी है और प्रधानमंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद महिंदा राजपक्षे को अज्ञात स्थान पर सेना ले गई है। आज सुबह हजारों प्रदर्शनकारियों ने महिंदा राजपक्षे के सरकारी आवास का घेराव किया था जिसके बाद सेना ने भीड़ में फंसने से बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन किया।

श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे ने आर्थिक और राजनीतिक संकट को लेकर चल रहे प्रदर्शनों के बीच मंगलवार को राष्ट्रीय कर्फ्यू को बुधवार की सुबह तक के लिए बढ़ा दिया है।

Next Story

विविध