दुनिया

तालिबानी लड़ाकों ने घर-घर तलाशी कर DW पत्रकार के रिश्तेदारों को मारी गोली, एक की मौत

Janjwar Desk
20 Aug 2021 7:33 AM GMT
तालिबानी लड़ाकों ने घर-घर तलाशी कर DW पत्रकार के रिश्तेदारों को मारी गोली, एक की मौत
x

(काबुल पर कब्जा करने के बाद तालिबान ने हाल ही में कहा था कि उसने अपने सभी विरोधियों को माफी दे दी है)

जर्मन ब्रॉडकास्टर ने कहा कि तालिबान ने कम से कम तीन अन्य डीडब्ल्यू पत्रकारों के घरों पर भी छापा मारा। डॉयचे वेले और अन्य जर्मन मीडिया संगठनों ने जर्मन सरकार से अपने अफगान कर्मचारियों की मदद के लिए तत्काल कार्रवाई करने का आह्वान किया है....

जनज्वार। अफगानिस्तान से बीस वर्षों के बाद अमेरिकी सेना के जाते ही कुछ ही दिनों के भीतर तालिबान सत्ता में काबिज हो गया है। तालिबान एक तरफ चाहता है कि दुनिया के देश उसकी सरकार को मान्यता दें, इसके लिए वह तालिबान की सॉफ्ट इमेज दिखाने की कोशिश कर रहा है। वहीं दूसरी ओर देश के भीतर वह आवाज को दबाने के लिए बर्बर कार्रवाई को अंजाम दे रहा है। अब खबर है कि तालिबानी लड़ाकों ने जर्मन पब्लिक ब्रॉडकास्टर डॉयचे वेले के पत्रकार के रिश्तेदार की गोली मारकर हत्या कर दी है।

डॉयचे वेले ने गुरूवार को कहा, आतंकी पत्रकार की घर-घर तलाशी कर रहे थे जो अब जर्मनी में काम करता है। पत्रकार का एक अन्य रिश्तेदार भी गंभीर रूप से घायल हुआ है, अन्य लोग घटना की डिटेल जानकारी दिए बिना भागने में सफल रहे। डीडब्ल्यू के महानिदेशक पीटर लिम्बर्ग ने हत्या की निंदा की। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान में मीडियाकर्मियों और उनके परिवारों के लिए खतरा है।

लिम्बर्ग ने कहा, "तालिबान द्वारा कल हमारे संपादकों में से एक के करीबी रिश्तेदार की हत्या अकल्पनीय रूप से दुखद है, और यह उस गंभीर खतरे की गवाही देता है जिसमें अफगानिस्तान में हमारे सभी कर्मचारी और उनके परिवार खुद को पाते हैं।" उन्होंने कहा, "यह स्पष्ट है कि तालिबानी पहले से ही काबुल और अन्य प्रांतों दोनों में पत्रकारों के लिए संगठित खोज कर रहे हैं। हमारे पास समय की कमी है!"

जर्मन ब्रॉडकास्टर ने कहा कि तालिबान ने कम से कम तीन अन्य डीडब्ल्यू पत्रकारों के घरों पर भी छापा मारा। डॉयचे वेले और अन्य जर्मन मीडिया संगठनों ने जर्मन सरकार से अपने अफगान कर्मचारियों की मदद के लिए तत्काल कार्रवाई करने का आह्वान किया है।

काबुल पर कब्जा करने के बाद तालिबान ने हाल ही में कहा था कि उसने अपने सभी विरोधियों को माफी दे दी है। तालिबान ने यह भी वादा किया था कि वह मीडिया की स्वतंत्रता को बरकरार रखेगा।

हालांकि समाचार एजेंसी एएफपी द्वारा देखे गए संयुक्त राष्ट्र के एक गोपनीय दस्तावेज में कहा गया है कि वे अमेरिका और नाटों बलों के साथ काम करने वाले लोगों की तलाश तेज कर रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र संघ का कहना है कि तालिबान ने उन लोगों की सूची तैयार की है जिन्हें वह गिरफ्तार करना चाहता है। साथ ही इन लोगों को धमकी दे रहा है कि वे सामने नहीं आएं वरना उनके परिवार के लोगों को मार दिया जाएगा या गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Next Story

विविध