दुनिया

डोनाल्ड ट्रंप ने Tik-Tok को दी वार्निंग, 15 सितंबर तक बेचो अपना कारोबार नहीं तो धंधे से कर दूंगा आउट

Janjwar Desk
4 Aug 2020 5:00 AM GMT
डोनाल्ड ट्रंप ने Tik-Tok को दी वार्निंग, 15 सितंबर तक बेचो अपना कारोबार नहीं तो धंधे से कर दूंगा आउट
x
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने Tik-Tok को चेतावनी देते हुए कहा कि अमेरिका में अपना कारोबार बंद करो। अगर यह 15 सितंबर तक नहीं बेचा तो धंधे से आउट कर दूंगा....

जनज्वार। चीन के साथ भारत के तनाव और बड़ी संख्या में भारतीय सैनिकों के मारे जाने के बाद देश में बहुत सारे चीनी ऐप बैन कर दिये गये, जिनमें से टिक-टॉक (Tik-Tok) भी एक था। अब अमेरिका में भी टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने की बात सामने आयी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने Tik-Tok को चेतावनी देते हुए कहा कि अमेरिका में अपना कारोबार बंद करो। अगर यह 15 सितंबर तक नहीं बेचा तो धंधे से आउट कर दूंगा।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि Tik-Tok अगर अमेरिका में 15 सितंबर तक अपना व्यापार किसी और को नहीं बेचता है तो इसे यहां भी बंद कर दिया जाएगा। इससे पहले भी ट्रंप अमेरिका में Tik-Tok को बैन करने को लेकर बयानबाजी कर चुके हैं।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि टिकटॉक को अमेरिका में बैन करने पर विचार किया जा रहा है। उसी के बाद मीडिया में इस बात की सुर्खियां बनी थीं कि दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनियों में से एक माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक के अधिग्रहण पर विचार कर रहा है।

माइक्रोसॉफ्ट ने मीडिया को दिये अपने एक बयान में कहा है कि "माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला और राष्ट्रपति डोनाल्ड जे ट्रम्प के बीच बातचीत के बाद, Microsoft अमेरिका में टिकटॉक की खरीद के लिए चर्चा जारी रखने के लिए तैयार है।"

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति चिंता जताते हुए अमेरिका में टिकटॉक को बंद करने की धमकी दी है। इस बारे में राज्य के सचिव माइक पोम्पिओ ने 2 अगस्त को बयान दिया था, राष्ट्रपति टिकटॉक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की घोषणा करने के लिए तैयार हैं। पोम्पियो ने फॉक्स न्यूज को बताया,"राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा, 'बहुत हुआ,' और हम इसे ठीक करने जा रहे हैं।" उन्होंने कहा,"और इसलिए वह आने वाले दिनों में राष्ट्रीय सुरक्षा जोखिमों को लेकर कार्रवाई करेंगे जो चीनी कम्युनिस्ट पार्टी से जुड़े सॉफ्टवेयर टिकटॉक द्वारा पैदा हो रहे हैं।"

टिकटॉक को ट्रंप ने यह धमकी तब दी है, जबकि अमेरिका में इसका अच्छा-खासा कारोबार है और इसके करोड़ों यूजर हैं। टिकटॉक बैन किये जाने के फैसले पर टिकटॉक के यूजर नाराज भी हैं।

Next Story

विविध