Top
दुनिया

अमेरिकी किसान समूहों ने भी आंदोलनकारी भारतीय किसानों को दिया समर्थन, कहा लोकतांत्रिक अधिकार से वंचित कर रही सरकार

Janjwar Desk
20 Feb 2021 3:18 PM GMT
अमेरिकी किसान समूहों ने भी आंदोलनकारी भारतीय किसानों को दिया समर्थन, कहा लोकतांत्रिक अधिकार से वंचित कर रही सरकार
x
बयान में कहा गया है, "कृषि कानून को बिना किसी संसदीय नियमों का पालन किए बगैर पारित किया गया और भारत सरकार ने किसानों को प्रदर्शन के लोकतांत्रिक अधिकार से वंचित करने के लिए सत्तावादी रणनीति का उपयोग किया।

मिनियापोलिस। संयुक्त राज्य अमेरिका में 87 किसान संगठनों, कृषि और खाद्य न्याय समूहों ने भारतीय किसानों के विरोध प्रदर्शन के समर्थन में भारतीय किसान संघ को अपना समर्थन दिया, जोकि 40 से अधिक भारतीय किसान संघों का यूनाइटेड फ्रंट है।

बयान के अनुसार, "भारत के किसान अन्यायपूर्ण कृषि कानूनों के खिलाफ इतिहास में दुनिया के सबसे जीवंत विरोधों में से एक के लिए लामबंद हुए हैं। उन्होंने उन तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए प्रदर्शन किया है, जिसे बिना किसानों की जानकारी या संपर्क किए बिना पारित कर दिया गया।"

हस्ताक्षरकर्ताओं ने इसके अलावा अन्य कई बातों पर चिंता व्यक्त की। बयान में कहा गया है, "कृषि कानून को बिना किसी संसदीय नियमों का पालन किए बगैर पारित किया गया और भारत सरकार ने किसानों को प्रदर्शन के लोकतांत्रिक अधिकार से वंचित करने के लिए सत्तावादी रणनीति का उपयोग किया।

बता दें कि किसान बीते 26 नवंबर 2020 से राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। किसान सितंबर 2020 में पारित किए गए तीन नए कानूनों को निरस्त करने की मांग कर रहे हैं। इस आंदोलन में 150 से ज्यादा आंदोलनकारियों की मौत हो चुकी है। सरकार और किसानों के बीच गतिरोध जारी है, लिहाजा कोई नतीजा अबतक नहीं निकल पाया है।

किसान उत्पाद व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) अधिनियम 2020, मूल्य आश्वासन और कृषि सेवा अधिनियम 2020 और आवश्यक वस्तु (संशोधन) अधिनियम 2020 पर किसान सशक्तिकरण और संरक्षण समझौता हेतु सरकार का विरोध कर रहे हैं ।

Next Story

विविध

Share it