अंधविश्वास

Bihar Crime News: डायन के नाम पर महिला को किया प्रताड़ित, बेटे ने विरोध किया तो पीटा

Janjwar Desk
11 Dec 2021 10:00 AM GMT
Bihar Crime News: डायन के नाम पर महिला को किया प्रताड़ित, बेटे ने विरोध किया तो पीटा
x

(अंधविश्वास में दो पक्षों के बीच मारपीट )

Bihar Crime News: डायन बताकर बुजुर्ग महिला को प्रताड़ित करने के मामले में दो पक्षों के बीच मारपीट हुई जिसमें दो लोग घायल हो गए...

Gopalganj Crime News: प्रशासन की ओर से डायन प्रताड़ना को लेकर तमाम कानून बनाए गए हैं, लेकिन बावजूद इसके अंधविश्वास की आड़ में महिलाओं की प्रताड़ित करने का मामला आए दिन सामने आता है। ऐसा ही एक मामला बिहार के गोपालगंज से सामने आया है। यहां एक बुजुर्ग महिला को डायन के नाम पर गांव के कुछ लोग परेशान कर रहे थे। महिला के बेटे ने जब इसका विरोध किया तो आरोपियों ने उसी की पिटाई कर दी।

मामला गोपालगंज के बरौली थाना क्षेत्र स्थित कहला रमईराम के टोला गांव है। यहां दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट हुई। मारपीट के इस घटना में दोनों पक्ष के लोग जख्मी हो गए। घायलों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने दोनों पक्षों से पूछताछ की तो मामला अंधविश्वास से जुड़ा पाया गया।।

मारपीट में शामिल एक पक्ष के जख्मी चुन्नी लाल के पुत्र अजय बैठा ने बताया कि वह कलकत्ता में रहता है और रेलवे में क्लर्क के पद पर कार्यरत है। कुछ दिन पहले उसकी मां पर दूसरे पक्ष के लोगों ने डायन होने का झूठा आरोप लगाया था। मां ने इसकी जानकारी कलकत्ता में रह रहे बेटे को दी। पीड़ित के अनुसार, जब बेटे ने फोन पर आरोपियो से बात किया तो उनलोगों ने फोन पर ही गाली गलौज की और जान से मारने की धमकी दी। पीड़ित के अनुसार, इसकी सूचना तब स्थानीय थाना के पुलिस को फोन पर दी गई थी।

पीड़िता का बेटा अजय बैठा बुधवार 8 दिसंबर की रात छुट्‌टी से घर लौटा था। इसी दौरान दूसरे पक्ष के एक युवक ने मारपीट करना शुरू कर दिया। विरोध करने पर चाकू से हमला कर दिया जिससे महिला का बेटा घायल हो गया। चाकूबाजी के बाद जब घरवाले विरोध करने आए तो उनके साथ भी मारपीट की गई।

वहीं, दूसरे पक्ष के रमेश बैठा के बेटे अभिषेक बैठा का कहना है कि वह अपनी बाइक से कहीं जा रहा था। तभी आरोपी अजय बैठा द्वारा ने उसकी बाइक रूकवाई और लाठी-डंडे से हमला कर दिया। अपने बचाव का प्रयास के दौरान हाथ में पहने कडा से पहले पक्ष के सिर पर चोट लग गई। अभिषेक के अनुसार, उसने किसी तरह कोई धारदार हथियार से हमला नहीं किया। अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को उसने गलत बताया है। पुलिस के अनुसार, दो पक्षों में मारपीट की बात सामने आ रही है। कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है। जांच के बाद मारपीट की असली वजह सामने आएगी।

Next Story

विविध

Share it