Top
अंधविश्वास

झारखंड के सिमडेगा में महिला को डायन कह बाल कटवा कर गांव में घुमाया, आरोपियों में 6 महिलायें शामिल

Janjwar Desk
22 Sep 2020 3:18 PM GMT
झारखंड के सिमडेगा में महिला को डायन कह बाल कटवा कर गांव में घुमाया, आरोपियों में 6 महिलायें शामिल
x

प्रतीकात्मक तस्वीर

महिला का उत्पीड़न करने वालों मेें महिलाएं ही अधिक संख्या में शामिल हैं। पुलिस ने कहा है कि डायन के नाम पर प्रताड़ना के खिलाफ अभियान तेज किया जाएगा...

रांची। झारखंड में डायन बताकर महिला को प्रताड़ित किए जाने का फिर एक मामला सामने आया है। नया मामला राज्य के सिमडेगा के कोलीबिरा थाना क्षेत्र के लचरागढ के कोमबाकेरा गांव का है। यहां एक महिला के सिर के बाल को काटकर गांव में घुमाया गया। इस मामले में छह महिलाओं समेत नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस के अनुसार, घटना 19 सितंबर, दिन शनिवार की है। पीड़ित को पंचायत की बैठक में शामिल होने के लिए बुलाया गया था, जहां उस पर जादू टोन करने का आरोप लगाया गया, जिससे गांव के एक व्यक्ति की मौत हो गई। पंचायत के सदस्यों ने निर्णय लिया कि महिला का बाल कटवाया जाए और उन्हें गांव में घुमाया जाए।

लोगों ने महिला पर 500 रुपये का जुर्माना भी लगाया गया। इस घटना के बाद, पीड़िता ने नौ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई। इस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। इस दौरान महिला को गांव में घुमाने के दौरान अर्धनग्न भी किया गया।

इस मामले में गिरफ्तार नौ लोगों में अधिक संख्या में महिलाएं ही हैं। इस मामले में पुलिस ने मालावती देवी, आशा देवी, ललिता देवी, लीलावती देवी, अंजनी देवी, लबलिता देवी, अजीत साहू, बीरबल बड़ाइक और किशुन प्रधान को गिरफ्तार किया है। पुलिस जब इन्हें गिरफ्तार करने गई तो उसे विरोध का भी सामना करना पड़ा।

इस मामले में सिमडेगा के एसपी शम्स तबरेज ने कहा कि पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद त्वरित कार्रवाई कर आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने कहा कि डायन बिसाही के आरोप में महिलाओं के उत्पीड़न के खिलाफ अभियान लगातार चलाया जाएगा।

पुलिस के डाटा के अनुसार, झारखंड के वर्ष 2000 में निर्माण के बाद से करीब 1200 लोगों ज्यादातर महिलाएं को काला जादू का अभ्यास करने का आरोप लगाकर मौत के घाट उतार दिया गया है।

हाल ही में गुमला जिले में एक दंपती की डायन बिसाही के आरोप में हत्या की गई थी। पिछले एक महीने में गुमला जिले में डायन-बिसाही के मामले में कम से कम पांच हत्याएं अलग-अलग प्रखंड क्षेत्र में हुई हैं। गुमला व सिमडेगा जिलों की पुलिस डायन बिसाही के मामलों केा लेकर विशेष अभियान चलाती है। लोगों को ऐसी कुप्रथाओं के खिलाफ जागरूक करने के लिए भी तरह-तरह के प्रयास किए जाते हैं।

गुमला के बसिया में डायन बता कर महिला की पिटाई

सिमडेगा से सटे जिले गुमला के बसिया थाना क्षेत्र के बानागुटू अंबाटोली गांव की रहने वाली पुष्पा देवी की ग्रामीणों ने डायन कह कर पिटाई की। उन्होंने इस संबंध में पुलिस को एक शिकायत दी। शिकायत में उन्होंने कहा कि 16 सितंबर की दोपहर साढे 12 बजे उनके घर पर गांव के ही सलखु महतो, सुनील महतो, सिरमत देवी, पूनम कुमारी, मालती कुमारी आये और कहने लगे कि तुम्हारे कारण हमारे घर के लोग बीमार पड़ रहे हैं और बाल खींच कर घर से बाहर निकाला। फिर मारपीट करने लगे और जेवर छीन लिया। उन्होंने गुमला के एसपी को इस संबंध में शिकायत दी है और अच्छी बात यह है कि उनके पत्र पर उनके समर्थन में गांव के 36 लोगों ने हस्ताक्षर किया है।

Next Story

विविध

Share it