Top
कोविड -19

नेहा सिंह राठौर का आरोप- दैनिक जागरण ने कोरोना से मेरे गांव में हुईं 7 मौतों को नकारा

Janjwar Desk
21 May 2021 1:35 PM GMT
नेहा सिंह राठौर का आरोप- दैनिक जागरण ने कोरोना से मेरे गांव में हुईं 7 मौतों को नकारा
x

(नेहा सिंह राठौर फिर आयीं चर्चाओं में, दैनिक जागरण पर लगाया मौतों को नकारने का आरोप)

नेहा ने अपने ट्वीट में कहा था कि उनके गांव में कोरोना से सात मौतें हो चुकी हैं और अभी भी 50 से ज्यादा लोग बीमार हैं....

जनज्वार डेस्क। भोजपुरी लोकगायिका नेहा सिंह राठौर ने आरोप लगाया है कि समाचार पत्र दैनिक जागरण ने उनके गांव में कोरोना की दूसरी लहर से हुईं मौतों को नकारा। नेहा का दावा है कि संक्रमण से उनके गांव में सात लोगों की मौत हुई है। जबकि पचास से ज्यादा संक्रमित हैं। जांच के लिए उनके गांव में मेडिकल की टीम पहुंची थी।

सोशल मीडिया साइट्स पर नेहा ने अपनी पोस्ट में बताया कि स्‍थानीय विधायक सुधाकर सिंह ने गांव में डॉक्टरों की टीम भेजने का आश्वासन दिया था। डॉक्‍टरों की टीम गांव पहुंची। नेहा ने इसके लिए विधायक को धन्‍यवाद भी दिया। लेकिन इस मेडिकल टीम ने नेहा के दावों को सिरे से खारिज कर दिया।

नेहा ने एक दूसरे ट्वीट में कहा था- 900 की जनसंख्या वाले मेरे गाँव से महज़ 36 लोगों की जाँच करके बिहार प्रशासन ने मेरे पूरे गाँव को कोरोना मुक्त बता दिया है। इस अवैध और वाहियात निष्कर्ष को दैनिक जागरण ने प्रमुखता से छापा है और मुझे झूठा बताया है।

नेहा ने अपने फेसबुकक पोस्ट में उन सात में से छह लोगों का जिक्र किया है जिनकी कोरोना से मौत हुई है। इसके साथ ही उन्होंने दैनिक जागरण को खरी-खरी भी सुनाई है। अपने पोस्ट में उन्होंने लिखा- ''बिहार प्रशासन और दैनिक जागरण ने पूरी बेशर्मी से मेरे गाँव में कोरोना के दूसरे स्टेन में हुई सभी मौतों को नकार दिया है। मृतकों के नाम हैं - गामा सिंह, इजूरी यादव, बिरेंदर यादव की पत्नी, रामदयाल की माँ, अलियार रामबाजा चौधरी की माँ, सातवें मृतक का नाम मैं कुछ समय में बताती हूँ। सरकार और प्रशासन की अपनी मजबूरियाँ होंगी, पर अखबारों को सरकारी भोंपू नहीं बनना चाहिए। दैनिक जागरण शर्म करो।''

दैनिक जागरण ने 'बिहार में मेडिकल टीम ने निकाली नेहा सिंह राठौर के दावे की हवा, कहा था- कैमूर के मेरे गांव में कोरोना से सात मरे' शीर्षक के साथ खबर प्रकाशित की थी। खबर में लिखा है- भोजपुरी गायिका नेहा सिंह राठौर ने ट्वीट कर कहा था कि केमूर स्थित उनके गांव में कोरोना संक्रमण से सात लोगों की मौत हो गई है तथा 50 से ज्यादा संक्रमित हैं। लेकिन उनके दावे को मेडिकल टीम ने खारिज कर दिया।

हालांकि दैनिक जागरण की वेबसाइट ने अपने शीर्षक में बदलाव कर लिया है। अखबार ने अब लिखा- ''लोक गायिका नेहा का दावा- कैमूर के उनके गांव में कोरोना से सात की मौत, मेडिकल टीम ने बताया गलत।''

नेहा ने अपने ट्वीट में कहा था कि उनके गांव में कोरोना से सात मौतें हो चुकी हैं और अभी भी 50 से ज्यादा लोग बीमार हैं। यहां ऑक्सीमीटर और बुखार-खांसी के प्राथमिक उपचार की दवाएं तक उपलब्‍ध नहीं हैं। नेहा ने एक अन्य ट्वीट में लिखा- कोरोना से होने वाली मौतों के सरकारी आंकड़ों की कहानी किसी से छिपी नहीं है। उत्तर प्रदेश में 1600 से अधिक प्राइमरी अध्यापकों की कोरोना से मौत हुई जिसे प्रशासन 3 बता रहा है। बाकी असली तस्वीर तो नदियों में बह रही लाशें ही दिखा रही हैं।

नेहा ने एक वीडियो भी पोस्ट किया है जिसमें लिखा है- दैनिक जागरण बहुत अच्छा अखबार है। समोसे का पूरा तेल सोख लेता है।


Next Story
Share it