Top
कोविड -19

कोरोना वायरस: दुर्ग जिले के अलग-अलग मुक्तिधामों में 24 घण्टे के भीतर जलाए गए 88 शव, दहशत में लोग

Janjwar Desk
18 April 2021 5:32 AM GMT
कोरोना वायरस: दुर्ग जिले के अलग-अलग मुक्तिधामों में 24 घण्टे के भीतर जलाए गए 88 शव, दहशत में लोग
x
शनिवार को दुर्ग शिवनाथ मुक्तिधाम में 26, रिसाली मुक्तिधाम में 24 और रामनगर मुक्तिधाम में करीब 38 संक्रमितों के शवों का अंतिम संस्कार किया गया, जबकि प्रशासन से जारी आंकड़ों के मुताबिक केवल 24 मौत की बात शनिवार को कही जा रही है....

जनज्वार डेस्क। छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में कोरोना से हालात बेकाबू हो गए हैं। शनिवार को जिले में 24 घण्टे के भीतर 24 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हो गयी। इसके साथ ही 1887 नए मामले भी सामने आए हैं।

जिला प्रशासन के मुताबिक शनिवार को कुल 4532 लोगों की जांच की गई थी। वहीं 2990 लोग संक्रमण से मुक्त होकर अस्पताल से डिस्चार्ज किए गए हैं। इधर मुक्तिधाम में हो रही मौत से जिला प्रशासन के आंकड़े अलग है।

शनिवार को दुर्ग शिवनाथ मुक्तिधाम में 26, रिसाली मुक्तिधाम में 24 और रामनगर मुक्तिधाम में करीब 38 संक्रमितों के शवों का अंतिम संस्कार किया गया। प्रशासन से जारी आंकड़ों के मुताबिक केवल 24 मौत की बात शनिवार को कही जा रही है।

कोरोना से हो रही मौतों से लोग अब दहशत में आ गए हैं। दुर्ग जिला अस्पताल दुर्ग के मरच्यूरी में शनिवार 17 अप्रैल को भी शव फ्रीजर में जगह नहीं होने की वजह से कई शवों को जमीन पर इधर उधर रखना पड़ा। वहीं शव के लिए पर्ची मांगने चीफ मेडिकल हेल्थ ऑफिसर के दफ्तर के सामने भी दिनभर भीड़ जुटी रही। इस दौरान कई लोगों का गुस्सा फूट पड़ा।

अपनों की मौत के बाद उनके शवों के अंतिम संस्कार की वेटिंग लिस्ट से लोग बखौलाए नजर आए। वहीं स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन पर लापरवाही का भी आरोप लगाया।

Next Story

विविध

Share it