आर्थिक

Petrol Ka Dam: आज भी बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, राहत मिलने की उम्मीद नहीं

Janjwar Desk
3 Oct 2021 6:18 PM GMT
Petrol Price in New Delhi (18th September 2021)
x
Petrol Ka Dam: वाहन ईंधन की कीमतें बढ़ने के कारण सरकारी तेल कंपनियों ने लगातार 5वें दिन पेट्रोल के दाम में 25 पैसे प्रति लीटर का इजाफा किया है जबकि डीजल के दाम 29 पैसे प्रति लीटर बढ़े हैं...

Petrol Ka Dam: रविवार को तेल की कीमतों में फिर बढ़ोतरी की गई है। तेल विपणन कंपनियों द्वारा रविवार को लगातार पांचवे दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ा दी गई है। वाहन ईंधन की कीमतें बढ़ने के कारण सरकारी तेल कंपनियों ने लगातार 5वें दिन पेट्रोल के दाम में 25 पैसे प्रति लीटर का इजाफा किया है जबकि डीजल के दाम 29 पैसे प्रति लीटर बढ़े हैं। पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOCL) के मुताबिक राजधानी दिल्ली में आज पेट्रोल 25 पैसे बढ़कर 102.39 रुपये हो गया, जो शनिवार को 102.14 रुपये पर था। वहीं, दिल्ली में डीजल 90.47 रुपये प्रति लीटर से बढ़कर 90.77 रुपये लीटर हो गया। डीजल भी करीब 30 पैसे महंगा हुआ। पेट्रोल-डीजल के दाम इस हफ्ते करीब-करीब रोज बढ़े हैं।

आपको बता दें कि बीते 5 दिनों में पेट्रोल की कीमत में 1.25 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। वहीं, दाम में आठ बार बढ़ोतरी के बाद डीजल की कीमतें 2.09 रुपये प्रति लीटर तक मंहगी हो गई हैं। कीमतों में इजाफे के बाद, दिल्ली में पेट्रोल का दाम 102.39 रुपये जबकि डीजल का दाम 90.77 रुपये प्रति लीटर है। मुंबई में पेट्रोल की 108.43 रुपये और डीजल 98.48 रुपये प्रति लीटर पर बिका है। कोलकाता की बात कें तो शहरी इलाकों में पेट्रोल का दाम 103.07 रुपये जबकि डीजल का दाम 93.87 रुपये लीटर रहा। वहीं चेन्नई में भी पेट्रोल 100.01 रुपये लीटर है तो डीजल 95.31 रुपये लीटर है।

अन्य काज्यों की बात करें तो बिहार, मध्यप्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, ओडिशा, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख जैसे राज्यों में पेट्रोल ने शतक के आंकड़े को बहुत पहले की पार कर लिया है, यानी इन सभी राज्यों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर के पार चली गई है। वहीं इन सभी राज्यों में डीजल 90-100 रुपये प्रति एक लीटर के दाम पर बिक रहा है।

पिछले 9 दिनों में पेट्रोल के दाम चार बार बढ़ाए गए, वहीं डीजल के दाम 8 बार बढ़ाए गए हैं। इससे पहले 24 सितंबर को डीजल के कीमतें 20-22 पैसे और 26-27 सितंबर को दामों में 25 पैसे का इजाफा हुआ था। पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOCL), भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (BPCL) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (HPCL) ने 24 सितंबर से वाहन ईंधन की कीमतों में संशोधन शुरू किया है जिसके बाद कीमतों में हर रोज उछाल का सिलसिला जारी है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में तेजी

कच्चे तेल के अंतरराष्ट्रीय बाजार में इस सप्ताह भी तेजी ही दिख रही है। हालांकि शुक्रवार को इसमें थोड़ी सुस्ती दिखाई दी जब अमेरिकी बाजार में ब्रेंट क्रूड 0.97 डॉलर तेज हो कर 79.28 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ। डब्ल्यूटीआई क्रूड (WTI Crude) भी 0.85 डॉलर बढ़ कर 75.88 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल (ब्रेंट क्रूड) तीन साल के उच्चतन स्तर पर पहुंच गया है। अनुमान लगाया जा रहा है कि वर्ष 2021 के अंत तक कच्चा तेल की कीमत में 10 डॉलर प्रति बैरल तक का इजाफा हो सकता है, यानि अंतरराष्ट्रीय मार्केट में दिसम्बर तक ब्रेंट क्रूड 90 डॉलर प्रति बैरल को छू सकता है।

कैसे तय होते हैं पेट्रोल-डीजल की कीमत

आपको बता दें कि देश की तीन पेट्रोलियम कंपनी, भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL), इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (IOCL) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (HPCL) अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत और फॉरेन एक्सचेंज रेट्स, लोकल टैक्स और वैट के आधार पर हर दिन तेल की कीमतों में संशोधन करती है। यही कारण है कि हर राज्य में अलग अलग टैक्स की वजह से पेट्रोल-डीजल के भाव भी अलग होते हैं।

Next Story

विविध

Share it