आर्थिक

Petrol Ka Dam: पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी जारी, राहत के लिए सरकार के तरफ से नहीं दिख रहा कोई पहल

Janjwar Desk
28 Oct 2021 6:53 PM GMT
Petrol Ka Dam: पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी जारी, राहत के लिए सरकार के तरफ से नहीं दिख रहा कोई पहल
x

पेट्रोल डीजल का दाम स्थिर है।

Petrol Ka Dam: सरकारी तेल कंपनियों की ओर से पेट्रोल-डीजल के दाम में कमोबेश हर दिन बढ़ोतरी की जा रही है। जिससे अधिकांश स्थानों पर पेट्रोल के बाद अब डीजल भी कीमत के मामले में एक सौ रूपये का आंकड़ा पार करने लगा है। Petrol Ka Dam | Petrol Diesel Ka Dam | Fuel Rate Today | Tel Ka Dam

Petrol Ka Dam: सरकारी तेल कंपनियों की ओर से पेट्रोल-डीजल के दाम में कमोबेश हर दिन बढ़ोतरी की जा रही है। जिससे अधिकांश स्थानों पर पेट्रोल के बाद अब डीजल भी कीमत के मामले में एक सौ रूपये का आंकड़ा पार करने लगा है। जिसका आम जनजीवन पर बड़ा ही प्रतिकुल असर पड़ रहा है।इसके बाद भी कीमत कम करने को लेकर सरकार द्वारा कोई कदम न उठाये जाने तथा इंधन तेल के मांग व आपूर्ति में भारी अंतर के कारण दर सामान्य होते नजर नहीं आ रहा है।

इसके चलते शुक्रवार 29 अक्टूबर को भी लोगों को पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी का सामना करना पड़ा। एक दिन पूर्व गुरूवार को डीजल के दाम 33 से 37 पैसे तो वहीं पेट्रोल के दाम 30 से 35 पैसे बढ़े थे। कई राज्यों में इसके दाम 100 रुपये से ऊपर पहुंच चुके हैं। देश में रोजाना बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दाम आम आदमी की आमदनी पर असर डाल रहे हैं।

दिल्ली में पेट्रोल का दाम 108.29 रुपये जबकि डीजल का दाम 97.02 रुपये प्रति लीटर है। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 114.14 रुपये व डीजल की कीमत 105.12 रुपये प्रति लीटर है। कोलकाता में पेट्रोल का दाम 108.78 रुपये जबकि डीजल का दाम 100.14 रुपये लीटर है। वहीं चेन्नई में भी पेट्रोल 105.13 रुपये लीटर है तो डीजल 101.25 रुपये लीटर है।

प्रमुख महानगरों में कितनी है कीमत

शहर डीजल पेट्रोल

  • दिल्ली 97.02 108.29
  • मुंबई 105.12 114.14
  • कोलकाता 100.14 108.78
  • चेन्नई 101.25 105.13

(पेट्रोल-डीजल की कीमत रुपये प्रति लीटर में है)

एक महीने में 7 रुपये प्रति लीटर हुआ पेट्रोल का दाम

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की बात करें तो सितम्बर से अब तक कच्चा तेल करीब 17 प्रतिशत तक महंगा हुआ है। सितम्बर में 73.13 डॉलर प्रति बैरल की औसत रेट से कच्चा तेल का आयत हुआ जबकि सोमवार को ब्रेंट क्रूड फयूचर की कीमत 86.43 डॉलर प्रति बैरल तक पहुँच गई। अर्थशास्त्री किरीट पारीख का कहना है कि भारत में टैक्स काफी ज्यादा है। पेट्रोल पर 54 फीसदी तक टैक्स लगता है, जबकि डीजल पर टैक्स 48 फीसदी है। सरकार को टैक्स कम करने की जरूरत होगी. अगर सरकार पेट्रोल-डीजल पर टैक्स नहीं घटाती है तो इससे अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ेगा. पेट्रोल इस बीच कच्चा तेल महंगा होने और उसकी डिमांड बढ़ने से उसकी आयात पर खर्च बढ़ता जा रहा है।.

पेट्रोलियम मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक भारत में पेट्रोलियम पदार्थों की डिमांड बढ़ी है। जिस वजह से सितम्बर में कच्चे तेल का आयात 14.7 फीसदी तक बढ़ी। इंडियन आयल के अधिकारी मानते हैं कि जबतक अंतराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतें नहीं घटती या भारत में केंद्र और राज्य सरकारें टैक्स नहीं घटाती, तब तक पेट्रोल-डीजल की कीमतें ऊँचे दर पर बनी रहेंगी।

इंडियन ऑयल के मुताबिक 16 अक्टूबर को दिल्ली में पेट्रोल 105.49 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, इसमें एक्साइज ड्यूटी 32.90 रुपये थी और वैट का शेयर 24.34 रुपये थ।. जिसका मतलब है कि प्रति लीटर पेट्रोल कीमत में टैक्स का कुल शेयर 57.24 रुपये यानी 54.26 प्रतिशत है।

वहीं 16 अक्टूबर, 2021 को दिल्ली में डीजल की प्रति लीटर कीमत 94.22 रुपये प्रति लीटर थी। इसमें एक्साइज ड्यूटी 31.80 रुपये और वैट का शेयर 13.77 रुपये प्रति लीटर है। जिसका मतलब है कि प्रति लीटर डीजल की कीमत पर टैक्स का शेयर 45.57 रुपये है, जो कुल 48.36 प्रतिशत है।

देश में पेट्रोल-डीजल के दामों में ऐतिहासिक तौर पर वृद्धि हो रही है। देश के हर शहर में पेट्रोल-डीजल अपने रिकॉर्ड उच्चतम स्तर पर चल रहे हैं। देश के सभी प्रमुख शहरों में पेट्रोल पहले ही 100 के पार चल रहा है, वहीं डेढ दर्जन से ज्यादा राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में डीजल 100 रुपये प्रति लीटर के पार निकल गया है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियां 28 सितंबर से पेट्रोल कीमतों में बढोतरी कर रही हैं. इससे पहले तीन सप्ताह तक इस वाहन ईंधन के दाम नहीं बढ़ाए गए थे।. उसके बाद से 23 बार में पेट्रोल के दाम7.10 रुपये प्रति लीटर बढें हैं, वहीं 24 सितंबर से 24 बार में डीजल के दाम 8.40 रुपये प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं। कच्चे तेल के दामों में रिकॉर्डतोड़ बढोतरी ने पेट्रोल-डीजल को लग्जरी बना दिया है।

कीमतें 86.43 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर पहुंच गई थीं, जो कि तबतक अक्टूबर, 2018 के बाद का सबसे ऊंचा स्तर है इंडियन ऑयल के अधिकारियों का कहना है कि इंटरनेशनल क्रूड मार्केट में डिमांड और सप्लाई में अंतर है। वहीं, तेल निर्यात करने वाले देशों के संगठन एपेक ने भारत और कुछ अन्य देशों की ओर से लगातार मांग किए जाने के बावजूद कच्चे तेल की सप्लाई नहीं बढाई है, इससे भी ब्रेंट क्रूड की कीमतें उछली हैं। पेट्रोलियम मंत्रालय की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सितंबर, 2021 में ब्रेंट क्रूड के इंडियन बास्केट की कीमत औसतन 73.13 डॉलर प्रति बैरल थी। तबसे क्रूड की कीमतों में लगभग 17 प्रतिशत की उछाल देखी गई है।

आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि जब तक इंटरनेशनल बाजार में कच्चे तेल के दाम नहीं गिरते हैं या फिर पेट्रोल-डीजल पर केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से कटौती नहीं की जाती है, तब तक तेल के दामों पर नियंत्रण पाना मुश्किल होगा। ऐसे में इंटरनेशनल बाजार में कच्चे तेल के दामों के गिरने के कोई संकेत नहीं मिल रहे। वहीं पिछले हफ्ते पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि वाहन ईंधन पर उत्पाद शुल्क कटौती 'अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारने के समान होगी, क्योंकि इस तरह के शुल्कों से सरकार मुफ्त कोविड-19 टीकाकरण, अनाज और रसोई गैस वितरण जैसी योजनाएं चला रही है। इससे महामारी के दौरान लाखों लोगों को मदद मिली है।

कच्चे तेल का इंडियन बास्केट सितंबर, 2021 में 73.13 डॉलर प्रति बैरल की कीमत पर चल रहा था। अगस्त, 2021 में इसकी कीमत 69.80 डॉलर प्रति बैरल पर चल रही थी। वहीं, सितंबर, 2020 में इसकी कीमत 41.35 डॉलर प्रति बैरल पर दर्ज की गई थी।

दिल्ली में ऐसे बढ़ता गया पेट्रोल का दाम

  • Oct 28, 2021:108.29 ₹/L
  • Oct 27, 2021:107.94 ₹/L
  • Oct 26, 2021:107.59 ₹/L
  • Oct 25, 2021:107.59 ₹/L
  • Oct 24, 2021:107.59 ₹/L
  • Oct 23, 2021:107.24 ₹/L
  • Oct 22, 2021:106.89 ₹/L
  • Oct 21, 2021: 106.54 ₹/L
  • Oct 20, 2021:106.19 ₹/L
  • Oct 19, 2021:105.84 ₹/L
  • Oct 18, 2021:105.84 ₹/L
  • Oct 17, 2021:105.84 ₹/L
  • Oct 16, 2021:105.49 ₹/L
  • Oct 15, 2021:105.14 ₹/L

दिल्ली में ऐसे बढ़ता गया डीजल का दाम

  • Oct 28, 2021:97.02 ₹/L
  • Oct 27, 2021:96.67 ₹/L
  • Oct 27, 2021:96.67 ₹/L
  • Oct 26, 2021:96.32 ₹/L
  • Oct 25, 2021:96.32 ₹/L
  • Oct 24, 2021:96.32 ₹/L
  • Oct 23, 2021:95.97 ₹/L
  • Oct 22, 2021:95.62 ₹/L
  • Oct 21, 2021:95.27 ₹/L
  • Oct 20, 2021:94.92 ₹/L
  • Oct 19, 2021:94.57 ₹/L
  • Oct 18, 2021:94.57 ₹/L
  • Oct 17, 2021:94.57 ₹/L
  • Oct 16, 2021:/94.22 ₹/L
  • Oct 15, 2021:93.87 ₹/L

हर रोज अपडेट होती है पेट्रोल-डीजल की कीमत

विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमत के आधार पर पेट्रोल और डीजल की कीमत प्रतिदिन अपडेट की जाती है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियां कीमतों की समीक्षा के बाद रोज पेट्रोल और डीजल के दाम तय करती हैं। इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम तेल कंपनियां हर दिन सुबह विभिन्न शहरों की पेट्रोल और डीजल की कीमतों की जानकारी अपडेट करती हैं।

SMS से जानें अपने शहर में पेट्रोल-डीजल के दाम

पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) के दाम प्रतिदिन अपडेट किए जाते हैं। ऐसे में आप सिर्फ एक SMS के जरिए रोज अपने शहर में पेट्रोल-डीजल की कीमत जान सकते हैं। इसके लिए इंडियन ऑयल (IOCL) के ग्राहकों को RSP कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर भेजना होगा।

Next Story

विविध

Share it