आर्थिक

Petrol Ka Dam, Petrol Diesel Price: ईंधन तेल में महंगाई बरकरार, दिल्ली में डीजल की कीमत अब शतक से मात्र पांच कदम दूर

Janjwar Desk
22 Oct 2021 6:30 PM GMT
Petrol Ka Dam, Petrol Diesel Price: ईंधन तेल में महंगाई बरकरार, दिल्ली में डीजल की कीमत अब शतक से मात्र पांच कदम दूर
x

पेट्रोल डीजल का दाम स्थिर है।

Petrol Ka Dam, Petrol Diesel Price: ईंधन तेल की ऊंची कीमत ने आम आदमी को अब बेहाल कर दिया है। हर दिन बढ़ती कीमत के चलते महंगाई की लगी आग लगातार तेज होती जा रही है। पेट्रोल के बाद अब डीजल भी बड़े शहरों में कीमत के मामले में शतक की ओर बढ़ रहा है।

Petrol Ka Dam, Petrol Diesel Price: ईंधन तेल की ऊंची कीमत ने आम आदमी को अब बेहाल कर दिया है। हर दिन बढ़ती कीमत के चलते महंगाई की लगी आग लगातार तेज होती जा रही है। पेट्रोल के बाद अब डीजल भी बड़े शहरों में कीमत के मामले में शतक की ओर बढ़ रहा है। हाल यह है कि दिल्ली में डीजल की कीमत शतक के अंक से मात्र पांच कदम दूर है। अगर बढ़ोतरी का हाल यही रहा तो जल्द ही शतक के आंकड़े को भी छू लेगी।जिसके कारण 23 अक्टूबर दिन शनिवार को भी बाजार का रूख राहत भरा नहीं रहा।

दिल्ली में पेट्रोल का दाम 106.89 रुपये जबकि डीजल का दाम 95.62 रुपये प्रति लीटर है। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 112.78 रुपये व डीजल की कीमत 103.63 रुपये प्रति लीटर है। कोलकाता में पेट्रोल का दाम 107.44 रुपये जबकि डीजल का दाम 98.73 रुपये लीटर है। वहीं चेन्नई में भी पेट्रोल 103.92 रुपये लीटर है तो डीजल 99.92 रुपये लीटर है। सरकारी तेल कंपनियों की ओर से शुक्रवार को डीजल के दाम 33 से 37 पैसे तो वहीं पेट्रोल के दाम 31 से 35 पैसे बढ़ाए गए हैं। कई राज्यों में इसके दाम 100 रुपये से ऊपर पहुंच चुके हैं। देश में रोजाना बढ़ते

पेट्रोल-डीजल के दाम आम आदमी के बजट को पूरी तरह बिगाड़ दिया है। हाल यह है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 85 डॉलर प्रति बैरल को पार कर चुका है। वहीं कई विशेषज्ञ पहले ही कच्चे तेल के 90 डॉलर प्रति बैरल पार जाने की भविष्यवाणी कर चुके हैं। ऐसे में महंगाई की मार और अधिक झेलनी पड़ सकती है।

प्रमुख महानगरों में ईंधन के दाम

  • शहर डीजल पेट्रोल
  • दिल्ली 95.62 106.89
  • मुंबई 103.63 112.78
  • कोलकाता 98.73 107.44
  • चेन्नई 99.92 103.92

(पेट्रोल-डीजल की कीमत रुपये प्रति लीटर में है।)

इन राज्यों में 100 रुपये के पार पेट्रोल का भाव

बता दें कि मध्यप्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, ओडिशा, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में पेट्रोल का भाव 100 रुपये पार हो चुका है। मुंबई में पेट्रोल की कीमत सबसे अधिक है। पेट्रोल डीजल की कीमतों में इजाफा जारी है। अक्टूबर महीने में अब तक 16 बार पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाये जा चुके हैं। पेट्रोल 4.90 रुपये तो डीजल 5.40 रुपये प्रति लीटर अक्टूबर में महंगा हो चुका है। दोनों पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी के चलते आम लोगों पर हर रोज महंगाई का डाका पड़ रहा है।

सस्ता कच्चा तेल, पर उपभोक्ता को फायदा नहीं

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में जब कच्चे तेल के दाम औंधे मुंह गिर गए तब नवंबर 2014 से लेकर जनवरी 2016 के बीच मोदी सरकार ने 9 बार पेट्रोल डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में बढ़ोतरी की थी। पेट्रोल पर 11.77 रुपये और डीजल पर 13.47 रुपये प्रति लीटर की दर से एक्साइज ड्यूटी बढ़ा दिया गया। कोविड काल में भी मांग में कमी के चलते के कच्चे तेल के दाम गिर गये तो मार्च 2020 से लेकर अब तक केंद्र सरकार पेट्रोल पर 13 रुपये और डीजल पर 16 रुपये एक्साइज ड्यूटी और इंफ्रास्ट्रक्चर सेस के नाम पर टैक्स बढा चुकी है। मौजूदा समय में पेट्रोल पर 32.90 रुपये और डीजल पर 31.80 रुपये प्रति लीटर केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी वसूल रही है। ऐसे में सच्चाई यह है कि कच्चे तेल के दामों में भारी कमी के बावजूद कभी भी उपभोक्ताओं को सस्ते में पेट्रोल डीजल उपलब्ध नहीं हो सका। इस वर्ष अक्टूबर महीने में अब तक 16 बार पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाये जा चुके हैं। पेट्रोल 4.90 रुपये तो डीजल 5.40 रुपये प्रति लीटर अक्टूबर में महंगा हो चुका है।

पहली बार 2010 में पेट्रोल का दाम हुआ बाजार के हवाले

जून 2010 में कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार ने पेट्रोल की कीमतों को बाजार के हवाले करने का फैसला लिया था। इसके बाद से सरकारी तेल कंपनियां पेट्रोल की कीमतें तय किया करती थीं। लेकिन डीजल की कीमतों पर सरकार का नियंत्रण जारी था। डीजल को बाजार भाव से कम दाम पर बेचा जा रहा था। जिससे तेल कंपनियों को नुकसान हो रहा था। अक्टूबर 2014 में मोदी सरकार ने डीजल की कीमतों को भी डीरेग्युलेट करने का निर्णय ले लिया। डीजल की कीमतों को भी तय करने का अधिकार सरकारी तेल कंपनियों को सौंप दिया गया। उस दौरान कहा गया कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल के दाम बढ़ेंगे तो उपभोक्ता को ज्यादा कीमत देना होगा और दाम कम होने पर उपभोक्ता को सस्ते तेल का लाभ मिलेगा। लेकिन सच्चाई यह है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम जब भी कम हुए तो क्या इसका लाभ उपभोक्ता को नहीं मिला।

सरकार ने बनाया पेट्रोल-डीजल को कमाई का माध्यम

वर्ष 2014 मोदी सरकार जब सत्ता में आई थी तब उसने पेट्रोलियम पदार्थों पर 99,068 करोड़ रुपये एक्साइज ड्यूटी वसूला था। 2015-16 में 1,78,477 करोड़ रुपये, 2016-17 में 2.42,691 करोड़ रुपये, 2017-18 में 2.29,716 लाख करोड़ रुपये, 2018-19 में 2,14,369, 2019-20 में 2,23,057 लाख करोड़ रुपये और 2020-21 में 3.71,726 लाख करोड़ रुपये एक्साइज ड्यूटी वसूला है। मौजूदा वित्त वर्ष 2021-22 के पहले तीन महीनों में ही पेट्रोल डीजल पर एक्साइज ड्यूटी कलेक्शन 88 फीसदी बढ़कर 94,181 करोड़ रुपये हो चुका है।

दिल्ली में ऐसे बढ़ता गया पेट्रोल का दाम

  • Oct 22, 2021-106.89 ₹/L
  • Oct 21, 2021-106.54 ₹/L
  • Oct 20, 2021-106.19 ₹/L
  • Oct 19, 2021-105.84 ₹/L
  • Oct 18, 2021-105.84 ₹/L
  • Oct 17, 2021-105.84 ₹/L
  • Oct 16, 2021-105.49 ₹/L
  • Oct 15, 2021-105.14 ₹/L
  • Oct 14, 2021-104.79 ₹/L
  • Oct 13, 2021-104.44 ₹/L

दिल्ली में ऐसे बढ़ता गया डीजल का दाम

  • Oct 22, 2021-95.62 ₹/L
  • Oct 21, 2021-95.27 ₹/L
  • Oct 20, 2021-94.92 ₹/L
  • Oct 19, 2021-94.57 ₹/L
  • Oct 18, 2021-94.57 ₹/L
  • Oct 17, 2021-94.57 ₹/L
  • Oct 16, 2021-94.22 ₹/L
  • Oct 15, 2021-93.87 ₹/L
  • Oct 14, 2021-93.52 ₹/L
  • Oct 13, 2021-93.17 ₹/L

हर रोज अपडेट होती है पेट्रोल-डीजल की कीमत

विदेशी मुद्रा दरों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमत के आधार पर पेट्रोल और डीजल की कीमत प्रतिदिन अपडेट की जाती है। ऑयल मार्केटिंग कंपनियां कीमतों की समीक्षा के बाद रोज पेट्रोल और डीजल के दाम तय करती हैं। इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम तेल कंपनियां हर दिन सुबह विभिन्न शहरों की पेट्रोल और डीजल की कीमतों की जानकारी अपडेट करती हैं

SMS से जानें अपने शहर में पेट्रोल-डीजल के दाम

पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) के दाम प्रतिदिन अपडेट किए जाते हैं। ऐसे में आप सिर्फ एक SMS के जरिए रोज अपने शहर में पेट्रोल-डीजल की कीमत जान सकते हैं। इसके लिए इंडियन ऑयल (IOCL) के ग्राहकों को RSP कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर भेजना होगा।

Next Story

विविध

Share it