Top
राष्ट्रीय

यौन शोषण मामले में आजीवन कारावास के तहत जेल में बंद आसाराम की तबियत बिगड़ी, अस्पताल में कराया गया भर्ती

Janjwar Desk
17 Feb 2021 5:46 AM GMT
यौन शोषण मामले में आजीवन कारावास के तहत जेल में बंद आसाराम की तबियत बिगड़ी, अस्पताल में कराया गया भर्ती
x

File photo

आसाराम को फिलहाल महात्मा गांधी अस्पताल से मथुरादास माथुर अस्पताल के सीसीयू वार्ड में शिफ्ट किया गया है, बताया जा रहा है कि आसाराम को सीने में तकलीफ और बेचैनी की शिकायत थी, जिसके बाद अस्पताल लाया गया..

जनज्वार। अपनी ही शिष्या के यौन शोषण मामले में उम्रकैद की सजा के तहत राजस्थान की जोधपुर जेल में बंद आसाराम की तबीयत बिगड़ गई है। तबियत खराब हो जाने के कारण आसाराम को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

आसाराम को फिलहाल महात्मा गांधी अस्पताल से मथुरादास माथुर अस्पताल के सीसीयू वार्ड में शिफ्ट किया गया है। बताया जा रहा है कि आसाराम को सीने में तकलीफ और बेचैनी की शिकायत थी, जिसके बाद अस्पताल लाया गया।

बताया जा रहा है कि मंगलवार की रात आसाराम की जेल में ही तबियत बिगड़ने लगी। आसाराम की तबियत की जानकारी मिलते ही जेल प्रशासन हरकत में आया और प्राथमिक उपचार दिया गया।

हालत में सुधार होता न देख आसाराम को मथुरादास माथुर अस्पताल लाया गया। बताया जा रहा है कि आसाराम को ब्लड प्रेशर की बीमारी है और बेचैनी की शिकायत हुई थी। उसके घुटने भी काम नहीं कर रहे हैं।

बताया जाता है कि आसाराम को सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। अस्पताल में भर्ती करने के दौरान पुलिस की भारी व्यवस्था थी। एमजीएच में आसाराम का एक्सरे लिया गया उसके अलावा ब्लड टेस्ट भी किया गया है।

मेडिकल जांच के बाद आसाराम को डॉक्टरों ने मथुरादास माथुर अस्पताल के क्रिटिकल केयर यूनिट में भर्ती होने के लिए रेफर किया जिसके बाद पुलिस आसाराम को जोधपुर के एमडीएम हॉस्पिटल लेकर गई ।

आसाराम की तबीयत खराब होने की खबर मिलते ही समर्थक भी अस्पताल पहुंचे हुए हैं। आसाराम को पहले प्राथमिक उपचार मुहैया कराया गया। लेकिन कोई फायदा ना मिलने पर महात्मा गांधी अस्पताल के इमरजेंसी में भर्ती कराया गया।

बता दें कि नाबालिग के साथ यौन शोषण केस में आशाराम को आजीवन कारावास की सजा मिली है। यौन शोषण केस में पिछले हफ्ते राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई होनी थी। लेकिन आसाराम के वकील अदालत नहीं पहुंच सके थे और उसके बाद केस की तारीख 8 मार्च को निर्धारित हो गई। एससी-एसटी कोर्ट में आसाराम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी।

Next Story
Share it