राष्ट्रीय

Chhattisgarh News: आठ साल के हिंदू बच्चे का खतना कराने पर बवाल, पिता ने पत्नी और नाना-नानी पर लगाया बच्चे का धर्मांतरण का आरोप

Janjwar Desk
12 Jan 2022 4:05 PM GMT
Chhattisgarh News: आठ साल के हिंदू बच्चे का खतना कराने पर बवाल, पिता ने पत्नी और नाना-नानी पर लगाया बच्चे का धर्मांतरण का आ रोप
x

8 साल के हिंदू बच्चे का कराया खतना

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में 8 साल के हिंदू बच्चे का खतना (सुन्नत) किए जाने का मामला सामने आया है। बच्चे के बयान के आधार पर मां और उसकी नानी को गिरफ्तार कर लिया गया है...

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के जशपुर जिले (Jaspur) में 8 साल के हिंदू बच्चे का खतना (सुन्नत) (Circumcision of 8 year old) किए जाने का मामला सामने आया है। आरोप है कि बच्चे के नाना-नानी ने उसका धोखे से खतना करा दिया। बच्चे के पिता ने अपनी पत्नी, सास और ससुर के खिलाफ उसके बच्चे का धर्मांतरण करवाने का आरोप में मामला दर्ज कराया है। जानकारी के अनुसार, नाना नानी बच्चे को मेला दिखाने के बहाने ले गए और खतना करा दिया और उसका नाम शमशाद रख दिया। बच्चे का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह बता रहा है कि उसकी नानी और नाना मेला देखने के बहाने ले जाकर सुन्नत करा दिए। वही, इस खबर के फैलते ही हिंदूवादी संगठनों ने बवाल मचा दिया। अखिल भारतीय जनजाति सुरक्षा मंच के सदस्यों ने थाने में जमकर हंगामा किया।

बच्चे के पिता हिन्दू, मां मुस्लिम

सन्ना थाना से मिली जानकारी के अनुसार जशपुर जिले के ग्राम नगरटोली सन्ना निवासी एक व्यक्ति ने 10 साल पहले एक मुस्लिम लड़की से शादी की थी। दोनों के दो बच्चे हैं। एक 8 साल का बेटा और एक 6 साल की बेटी है। युवक को पता भी नहीं था कि उसे बेटे का खतना (सुन्नत) कर दिया गया है। उसे अपने बेटे के खतने की जानकारी हाल ही में लगी। इसके बाद उसने अपनी पत्नी और सास सहित ससुराल पक्ष को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके खिलाफ सन्ना थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस ने अपराध क्रमांक 0/2022 धारा 295 (क), 323, 34 भादवि एवं छग धर्म स्वातंत्रता अधिनियम की धारा 3,4 कायम तहत अपराध दर्ज किया है।

सीडब्ल्यूसी ने बच्चे का बयान लिया

सन्ना थाना प्रभारी भरतलाल साहू ने बताया कि डेढ़ माह पहले 8 वर्षीय बच्चा अपनी मां के साथ ननिहाल गया था। इसी दौरान उसका खतना (Circumcision Case Chhattisgarh) किया गया। बच्चे के पिता का कहना है कि उसके ससुराल वालों ने उसकी जानकारी के बिना उसके बच्चे का खतना किया है। जब परिवार औरसमाज के लोगों को इसका पता चला तो थाने पहुंच गए और कार्यवाही की मांग करने लगे। मामला संवेदनशील होने के कारण इस मामले में पुलिस ने महिला सेल एवं बाल कल्याण समिति (CWC) के अफसरों को सूचना दी और बच्चे का भी बयान लिया गया। बच्चे के बयान के आधार पर बच्चे की मां और उसकी नानी सहित एक अन्य के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया। बच्चे की मां और उसकी नानी को गिरफ्तार कर लिया गया है। फिलहाल मामले में विवेचना जारी है।

भाजपा नेता ने की कार्रवाई की मांग

वहीं, इस पूरे मामले में बीजेपी नेता प्रबल प्रताप सिंह जूदेव का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि जिले के सन्ना थाना में दर्ज खतना मामले में हिंदू पिता की सहमति के बिना पुत्र का खतना कर धर्मांतरित किया जाना असहनीय है। प्रशासन इसमें लिप्त सभी कुकर्मियों को अविलंब गिरफ्तार करे और धर्मांतरण पर अंकुश लगाए।

(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रु-ब-रु कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं। हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है। सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा। इसलिए आगे आएं और अपना सहयोग दें। सहयोग राशि : 100 रुपये । 500 रुपये। 1000 रुपये।)


Next Story