राष्ट्रीय

UP : महिला सिपाही पर कृपा बरसाते रंगे हाथ होटल में पकड़े गये थे CO उन्नाव, किरकिरी के बाद DGP ने की निलंबन की सिफारिश

Janjwar Desk
9 July 2021 12:10 PM GMT
UP : महिला सिपाही पर कृपा बरसाते रंगे हाथ होटल में पकड़े गये थे CO उन्नाव, किरकिरी के बाद DGP ने की निलंबन की सिफारिश
x

उन्नाव सीओ का छुट्टी लेकर महिला सिपाही के साथ होटल में रंगरलियां मनाने का मामला तूल पकड़ रहा है.

महिला सिपाही के साथ होटल के कमरे में सीओ के मिलने की चर्चा फैलते ही मामला सुर्खियों में आ गया। बुधवार को एसपी ने एएसपी शशि शेखर सिंह को मामले की जांच देने के साथ ही सीओ को पुलिस कार्यालय से संबद्ध कर दिया था...

जनज्वार, कानपुर/उन्नाव। उत्तर प्रदेश के उन्नाव (Unnao) बीघापुर में तैनात सीओ साहब महिला सिपाही के साथ कानपुर के मंदाकिनी होटल में कृपा बरसाते रंगे हाथ पकड़े गये थे। पकड़े गए सीओ ने गुरुवार को पाटन स्थित सरकारी आवास छोड़ दिया। वह अपना सामान लेकर मुख्यालय में बने अतिरिक्त सीओ के आवास में शिफ्ट हो गए।

अभी तक इस आवास में सीओ एके राय रहते थे। वह बीघापुर (Bighapur) में तैनाती मिलने पर अपना सामान लेकर पाटन आवास जा चुके हैं। सीओ के शिफ्ट होने से पहले उनकी निगरानी में एक दरोगा और दो सिपाही आवास पर लगे रहे। पुलिस अफसरों का कहना था कि घटना से आहत होकर सीओ खुद को कोई नुकसान न पहुंचा लें, इसलिए निगरानी कराई गई।

जिले में तैनात सीओ कृपाशंकर ने अपने पैतृक घर गोरखपुर जाने के लिए एसपी आनंद कुलकर्णी से मंगलवार 6 जुलाई को छुट्टी ली थी। उनका फोन लगातार स्विच ऑफ रहने पर पत्नी को अनहोनी का शक हुआ। इस पर उन्होंने एसपी को जानकारी दी। एसपी ने सर्विलांस की मदद से सीओ के मोबाइल की लोकेशन निकलवाई तो लोकेशन कानपुर मालरोड (Mall Road) के एक होटल की पाई गई। जिसके बाद पुलिस टीम कानपुर रवाना की गई।

होटल का रजिस्टर खंगाला तो सीओ और महिला सिपाही का नाम दर्ज पाया गया। महिला सिपाही के साथ होटल के कमरे में सीओ (CO) के मिलने की चर्चा फैलते ही मामला सुर्खियों में आ गया। बुधवार को एसपी ने एएसपी शशि शेखर सिंह को मामले की जांच देने के साथ ही सीओ को पुलिस कार्यालय से संबद्ध कर दिया था।

घटना के बाद बुधवार 7 जुलाई को अनुपस्थित रही महिला सिपाही (Ladies Constable) गुरुवार 8 जुलाई की सुबह थाने पहुंची। कुछ देर रुकने के बाद एक प्रार्थना पत्र देकर एसओ से तीन दिन की छुट्टी लेकर चली गई। एसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि महिला सिपाही के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

कानपुर के एक होटल में महिला सिपाही के साथ सीओ के मिलने का मामला शासन तक पहुंचा है। फजीहत होती देख शासन स्तर से कानपुर के एक आईपीएस अधिकारी को पूरे प्रकरण की जांच सौंपी गई है। माना जा रहा है कि आईपीएस की जांच रिपोर्ट के आधार पर शासन स्तर से सीओ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो सकती है।

वहीं एसपी उन्नाव (SP Unnao) आनंद कुलकर्णी द्वारा इसी मामले की एएसपी शशिशेखर सिंह को जांच दी गई थी। एएसपी ने बताया कि नामांकन होने से सीओ के बयान दर्ज नहीं किए जा सके हैं। शुक्रवार को उन्हें बुलाकर बयान दर्ज किए जाएंगे।

एसपी आनंद कुलकर्णी ने सीओ पुलिस लाइन एके राय को बीघापुर सीओ बनाया है। गुरुवार को उन्होंने अपना कार्यभार संभाल लिया। इससे पहले भी इसी सर्किल में सीओ एके राय तैनात रह चुके हैं। रिपोस्टिंग को लेकर भी चर्चा का दौर बना रहा।

कानपुर के होटल में रंगरेलियां मनाने वाले उन्नाव में तैनात पुलिस उपाधीक्षक के निलंबन की तैयारी की जा रही है। इसकी सिफारिश डीजीपी मुकुल गोयल (DGP Mukul Goyal) ने शासन से की है। शासन स्तर से अनुमोदन मिलते ही कृपा शंकर का निलंबन कर दिया जाएगा। अब एसपी उन्नाव और आईजी लखनऊ की रिपोर्ट पर सीओ के निलंबन की तैयारी की जा रही है।

Next Story

विविध